अर्जुन तेंदुलकर को तो जानते हैं, लेकिन क्या राहुल द्रविड़ के होनहार बेटे से मिले हैं

समित दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं और अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं.

अर्जुन तेंदुलकर को तो जानते हैं, लेकिन क्या राहुल द्रविड़ के होनहार बेटे से मिले हैं
राहुल द्रविड़ के बेटे का नाम समित है (File Photo)

नई दिल्ली: सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर इन दिनों सुर्खियों में हैं. हाल ही में उन्होंने पांच विकेट लेने का कारनामा कर दिखाया है. अर्जुन के अलावा भारतीय क्रिकेट में जिस स्टार क्रिकेट की चर्चा सबसे ज्यादा होती है, वह हैं राहुल द्रविड़ के बेटे समित जो उनकी ही तरह सौम्य और शांत हैं. और साथ ही उनमें उनके ही जैसा धैर्य भी नजर आता है. हम आपको राहुल के बेटे समित की कुछ उपलब्धियों और क्रिकेट के प्रति उनते जुनून के बारे में बताने जा रहे हैं. 

राहुल द्रविड़ को क्रिकेट इतिहास का तकनीकी रूप से सबसे सक्षम बल्लेबाज माना जाता है. अपने लंबे करियर में कर्नाटक के इस जेंटलमैन क्रिकेटर ने अनेक यादगार पारियां खेली हैं. यही वजह है कि राहुल के चाहने वाले भारत में ही नहीं पूरी दुनिया में हैं. उनका व्यवहार, तकनीक और क्रिकेक के प्रति उनका समर्पण उन्हें इस खेल का सबसे योग्य छात्र बनाता है. दुनिया में बहुत से युवा क्रिकेटर राहुल को अपना आदर्श मानते हैं. टेस्ट क्रिकेट में जब भी तीसरे नंबर के बल्लेबाज का जिक्र होता है तो राहुल का नाम सबसे पहले आता है. 

अर्जुन तेंदुलकर ने अपनी रफ्तार से एमपी को किया हैरान, झटके 5 विकेट

अनेक मौकों पर राहुल ने टीम इंडिया को संकट से उबारा है. जानकार खुशी होगी कि अब राहुल द्रविड़ का बेटा समित द्रविड़ भी प्रतियोगी क्रिकेट में कदम रख चुका है और अपने पिता के नक्शेकदम पर चलते हुए वह शानदार परफॉर्म कर रहा है. 

समित दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं और अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं. गौरतलब है कि भी समित का नाम सुर्खियों में आया था, जब अंडर 12 गोपाल क्रिकेट चैलेंज में उन्हें सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज से नवाजा गया था. माल्या अदिति इंटरनेशनल स्कूल की तरफ से खेलते हुए जहां 16 देशों के बच्चे पढ़ते हैं, समित ने तीन अर्धशतक ठोंके थे. 77, 93 और नाबाद 77 की पारी खेलते हुए उन्होंने अपने पिता की तरह ही मैच जिताऊ पारियां खेली थी.

VIRAL PICS: जब बच्चों के साथ लाइन में खड़े हुए राहुल द्रविड़

समित के बारे में कुछ ऐसी बातें और तथ्य जो आप शायद न जानते हों : 

1. अप्रैल 2016 में समित द्रविड़ ने 125 रनों की पारी खेली थी, इसमें 22 चौके और एक छक्का शामिल था. यह अंडर 14 का एक मैच था.
 
2. अपने पिता की तरह ही समित की जीवन शैली भी बेहद अनुशासित है. वह नेट पर अधिकांश समय बिताता है और हेल्दी डाइट चार्ट का सख्ती से पालन करता है. 

Samit Dravid

3. राहुल ने एक इंटरव्यू में यह रहस्या उद्घाटित किया कि नेट पर समित क्रिकेट के अलावा बहुत से दूसरे खेलों को देखता है. विस्डन इंडिया से द्रविड़ ने कहा था, ''मैं समित को बहुत ज्यादा कोच नहीं करता. मैं चाहता हूं कि वह अपने खेल का आनंद अपने तरीके से उठाए. इस समय वह बहुत से अलग तरह के शॉट्स खेलता है.'' 

इस भारतीय क्रिकेटर के बेटे ने ही तोड़ा अपने पिता का 30 साल पुराना रिकॉर्ड

4. श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ने कहा कि उन्होंने समित को क्रिकेट खेलता देखा है, उनमें राहुल की झलक साफ दिखाई पड़ती है. 

5. समित को कोई स्पेशल ट्रीटमेंट नहीं मिलता. राहुल ने उनके कोच और स्कूल प्रशासन को साफ हिदायत दे रखी है कि उसका चयन केवल मैरिट के आधार पर ही हो. इसका श्रेय राहुल और उनकी पत्नी को तो जाता ही है समित को भी जाता है, जो हमेशा अनुशासन में रहते हैं. 

6. समित अपने पिता के विपरीत गेंद को ज्यादा जोर से हिट करने में यकीन रखते हैं. राहुल ने एक बार कहा भी था कि उन्हें समित की बल्लेबाजी के स्टाइल से कोई परहेज नहीं है. वह अपना स्टाइल चुनने के लिए पूरी तरह स्वतंत्र है. 

बता दें कि राहुल द्रविड़ ने 2003 में विजया पांढेकर से शादी की थी और उनके दो बच्चे हैं. राहुल द्रविड़ के नाम टेस्ट में 13288 रन हैं और उन्होंने 344 वनडे मैचों में उन्होंने 10889 रन बनाए हैं.