'राशिद खान 19 साल के हैं, लेकिन दिमाग 30 साल के खिलाड़ी का है'

राशिद खान ने छोटे प्रारुप में अपनी प्रतिभा से पूरी दुनिया को प्रभावित किया, लेकिन दोनों को अब टेस्ट क्रिकेट में अलग तरह की चुनौती का सामना करना होगा. 

'राशिद खान 19 साल के हैं, लेकिन दिमाग 30 साल के खिलाड़ी का है'
14 से बेंगलुरु में खेला जाएगा भारत के खिलाफ यह मैच (PIC : PTI)

देहरादून: अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के कोच फिल सिमंस ने का कहना है कि राशिद खान किसी 30 साल के खिलाड़ी जैसे परिपक्व हैं. कोच ने राशिद खान की तारीफ करते हुए कहा कि 19 साल के युवा गेंदबाज राशिद खान को खेल के सबसे लंबे प्रारूप (टेस्ट मैच) में सफलता पाने में कोई परेशानी नहीं होगी क्योंकि उनका दिमाग 30 साल के खिलाड़ी जितना परिपक्व है. टी-20 में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में गिने जाने वाले राशिद भारत के खिलाफ अफगानिस्तान के ऐतिहासिक पहले टेस्ट मैच से इस प्रारूप में पदार्पण करेंगे. इससे पहले उन्होंने प्रथम श्रेणी के सिर्फ चार मैच खेले हैं जिससे उन्हें भारत जैसी शीर्ष टीम के खिलाफ परेशानी आ सकती है. 

राशिद खान के बारे में वेस्टइंडीज के इस पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा कि वह अपनी उम्र से ज्याद परिपक्व है. सिमंस ने कहा, ‘‘राशिद सिर्फ 19 साल का है लेकिन उसका दिमाग 30 साल जितना परिपक्व है. उसे पता है कि टीम को उससे क्या उम्मीदें हैं. लेकिन, हां मुजीब (17 साल) युवा है देखते है वह इससे कैसे निपटता है.’’ 

राशिद खान अपने इस 'वार' के कारण कर रहे हैं क्रिकेट की दुनिया में कमाल

टेस्ट मैच में धैर्य जरुरी होता है और सिमंस को उम्मीद है कि राशिद खान आयरलैंड के खिलाफ प्रथम श्रेणी मैच में किए प्रदर्शन को दोहरा पाएंगे. राशिद ने आयरलैंड के खिलाफ पिछले साल चार दिवसीय मैच में अच्छा प्रदर्शन किया. उसने विकेट भी चटकाए. उसने इंग्लैंड के खिलाफ अभ्यास मैच में भी विकेट लिया. 

भारत के साथ ऐतिहासिक टेस्ट मैच से पहले सिमंस अफगानिस्तान की दो टीमों के साथ काम कर रहे , एक जो यहां बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 सीरीज खेलेगी और दूसरी भारत के खिलाफ एकलौते टेस्ट मैच में उतरेगी. 

उन्होंने कहा, ‘‘यह मुश्किल स्थिति है कि टेस्ट और टी-20 टीम एक साथ तैयारी कर रही है लेकिन जैसे जैसे हम मैच के करीब पहुंच रहे हैं चीजें आसान हो रही हैं. आज कल दौरे ऐसे ही तय होते हैं. सिमंस को लगता है कि भारत के खिलाफ टेस्ट में गेंदबाजों से बड़ी परीक्षा बल्लेबाजों की होगी.

'अफगानिस्तान को हल्के में नहीं ले सकते'
भारत के कार्यवाहक कप्तान अंजिक्य रहाणे ने कहा, ‘‘राशिद खान सचमुच बढ़िया प्रदर्शन कर रहे हैं. विशेषकर छोटे प्रारुप टी-20 में. उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद के लिए शानदार प्रदर्शन किया. वह बेहतरीन गेंदबाज है और हर किसी को इसे स्वीकार करना और इसका सम्मान करना चाहिए. अफगानिस्तान को हल्के में नहीं लिया जा सकता क्योंकि क्रिकेट में और आम तौर पर जिंदगी में आप किसी भी चीज को हल्के में नहीं ले सकते. ’’ 

14 जून को खेला जाना है ऐतिहासिक टेस्ट मैच 
भारत के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने जा रही अफगानिस्तान 14 जून से बेंगलुरू में भारत के खिलाफ ऐतिहासिक एकमात्र टेस्ट मैच खेलेगी. यह टेस्ट मैच 14 से 18 जून के बीच बेंगलुरू के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा.

टीम में चार स्पिनर्स को मिली जगह
टीम में चार स्पिन गेंदबाजों को जगह मिली है. आईपीएल में सनसनी फैलाने वाले राशिद खान और युवा मुजीब उर रहमान के अलावा दो अन्य स्पिनर 'चाइनामैन' जहीर खान और आमिर हमजा होटक को असगर स्टैनिकजई की अगुवाई वाली टीम में शामिल किया गया है. राशिद और मुजीब ने छोटे प्रारुप में अपनी प्रतिभा से पूरी दुनिया को प्रभावित किया, लेकिन दोनों को अब टेस्ट क्रिकेट में अलग तरह की चुनौती का सामना करना होगा. दोनों में से अभी तक राशिद ने चार प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं, जबकि मुजीब का अभी लंबे प्रारुप में खेलना बाकी है. मुजीब जादरान और राशिद खान इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेल कर आ रहे हैं. राशिद उपविजेता बनी सनराइजर्स हैदराबाद की टीम का अहम हिस्सा थे तो वहीं मुजीब को किंग्स इलेवन पंजाब के साथ खेलने का मौका मिला था. दोनों ने ही अपनी गेंदबाजी से सभी को हैरान कर दिया था.

अफगानिस्तानी टीम इस प्रकार है : 

टेस्ट टीम : असगर स्टानिकजाई (कप्तान), जावेद अहमदी, इशानुउल्लाह, मोहम्मद शहजाद (विकेटकीपर), मुजीब उर रहमान, नासीर जमाल, रहमत शाह, हाश्तमुल्लाह शाहीदी, अफसर जाजई, मोहमम्मद नबी, राशिद खान, आमिर हमजा, सयैद शिरजाद, यामिन एहमदजाई, वफादार, जहीर खान.