राशिद लतीफ को उम्मीद, अगर गांगुली पाकिस्तान की मदद करें, तो हो सकता है यह काम

INDvsPAK: राशिद लतीफ का कहना है कि गांगुली ने 2004 में जो भूमिका निभाई थी उसी तरह वे बतौर बीसीसीआई अध्यक्ष दोनों देशों के बीच सीरीज करा सकते हैं. 

राशिद लतीफ को उम्मीद, अगर गांगुली पाकिस्तान की मदद करें, तो हो सकता है यह काम
सौरव गांगुली जब से बीसीसीआई प्रमुख बने हैं देश में ही ने दुनिया भर के क्रिकेटरों की उनसे उम्मीदें बढ़ गई हैं. (फोटो: PTI)

लाहौर: जब से सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) बीसीसीआई के अध्यक्ष बने हैं उन्होंने उम्मीद से बढ़कर कई साहसिक फैसले लिए हैं जिन पर भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket) ही नहीं दुनिया के क्रिकेट पर दूरगामी असर होगा. उनकी सक्रियता और सकरात्मकता को देखते हुए दूसरे देशों के क्रिकेटरों को भी उनसे उम्मीद बढ़ गई है. वहीं पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ(Rashid Laitif) भारत-पाक क्रिकेट की बहाली के लिए गांगुली की ओर आशा भरी निगाहों से देख रहे हैं. 

राशिद ने बीसीसीआई प्रमुख से गुजारिश की है कि वे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) की मदद करें जिससे भारत पाकिस्तान क्रिकेट संबंध बहाल हो सकें. पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज लतीफ ने कहा कि बीसीसी के एतराज के बावजूद सौरव गांगुली ही थे जिन्होंने साल 2004 में  भारत को पाकिस्तान दौरे करने के लिए सहमति जतान में अहम भूमिका निभाई थी. 

यह भी पढ़ें: VIDEO: स्मिथ ने बनाया अनचाहा रिकॉर्ड, दर्शकों के अभिवादन का ऐसे दिया जवाब

पाकिस्तान के द नेशन को लतीफ ने कहा, "एक क्रिकेटर और बीसीसीआई अध्यक्ष के तौर पर गांगुली एहसान मनी और पीसीबी की मदद कर सकते हैं. उन्होंने कहा, "जब तक कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंध बहाल नहीं होते, दोनों देशों के बीच हालात नहीं सुधरने वाले. पीसीबी सीईओ वसीम खान को भी इस मामले में सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए जिससे दुनिया के शीर्ष क्रिकेट खेलने वाले देश पाकिस्तान आएं जिससे पाकिस्तान और स्थानीय क्रिकेटरों को मदद मिलेगी.

यह भी पढ़ें: विराट-हार्दिक की तरह पंत ने भी शेयर की फोटो, गर्लफ्रेंड की ऐसे की तारीफ

लतीफ ने कहा, "2004 में बीसीसीआई पाकिस्तान दौरा करने के लिए हिचकिचा रही थी. तब सौरव गांगुली ही थे, जिन्होंने बीसीसीआई और खिलाड़ियों को मनाया था. यह दौरा टीम इंडिया के लिए बहुत अच्छा साबित हुआ था जहां टीम इंडिया ने लंबे समय बाद बड़ी जीत हासिल की थी.

इस सीरीज में टीम इंडिया ने पांच मैचों की वनडे सीरीज में 3-2 से जीत हासिल की थी जबकि तीन मैचों की टेस्ट सीरीज 2-1 से जीती थी. उसके बाद से आपसी राजनैतिक तनाव के चलते दोनों ही देश केवल आईसीसी टूर्नामेंट में ही मैच खेल रहे हैं. वहीं हाल ही में पाकिस्तान में भी करीब 10 साल बाद टेस्ट सीरीज खेली गई जिसमें श्रीलंका ने टेस्ट सीरीज खेली जिसमें पाकिस्तान की 2-0 से जीत हासिल की.