SAvsSL: डी कॉक और रबाडा के कहर से पस्त हुआ श्रीलंका, दूसरा वनडे 113 रन से हारा

SAvsSL: डी कॉक और रबाडा के कहर से पस्त हुआ श्रीलंका, दूसरा वनडे 113 रन से हारा

मेजबान दक्षिण अफ्रीका ने सेंचुरियन वनडे में श्रीलंका को 113 रन से हराया. उसने वनडे सीरीज में 2-0 की बढ़त ले ली है. 

SAvsSL: डी कॉक और रबाडा के कहर से पस्त हुआ श्रीलंका, दूसरा वनडे 113 रन से हारा

सेंचुरियन: दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने सुपर स्पोर्ट पार्क मैदान पर बुधवार देर रात खेले गए दूसरे वनडे मैच में श्रीलंकाई बल्लेबाजों की एक न चलने दी और मेहमान टीम को 113 रनों से करारी शिकस्त दी. इसी के साथ दक्षिण अफ्रीका ने पांच मैचों की वनडे सीरीज में 2-0 की बढ़त ले ली है. मेजबान टीम ने सीरीज का पहला मैच आठ विकेट से जीता था. 

पहले बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीका ने 45.1 ओवरों में 251 रन बनाए थे. उसके लिए सबसे ज्यादा 94 रन सलामी बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक ने बनाए. उन्होंने इस पारी में 17 चौके जमाए. वहीं अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने 57 रनों की पारी खेली. क्विंटन डी कॉक को उनकी शानदार पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया. 

252 रन का पीछा करने उतरी श्रीलंकाई टीम 32.2 ओवरों में 138 रन पर ढेर हो गई. उसके लिए ओशाडो फर्नांडो ने सर्वाधिक 31 रन बनाए. कुशल मेंडिस ने 24, कुशल परेरा ने 23, धनंजय डी सिल्वा ने 15 और अविश फर्नाडो ने 10 रन बनाए. इन सभी के अलावा कोई और श्रीलंकाई बल्लेबाज दहाई के आंकड़ों को नहीं छू सका. दक्षिण अफ्रीका के लिए कैगिसो रबाडा ने तीन विकेट लिए. लुंगी एंगिडी ने दो, एनरिक नोर्टजे ने दो और इमरान ताहिर ने भी दो विकेट लिए. 

यह भी पढ़ें: रांची वनडे: धोनी के घर में सीरीज जीतने उतरेगा भारत, भुवी करेंगे टीम में वापसी

इससे पहले, श्रीलंका ने टॉस जीतकर दक्षिण अफ्रीका को बल्लेबाजी के लिए बुलाया. डी कॉक और रीजा हेंड्रिक्स (29) ने पहले विकेट के लिए 91 रन की साझेदारी की. डी सिल्वा ने हेंड्रिक्स को आउट कर मेहमान टीम को पहला झटका दिया. कुशल परेरा ने 131 के कुल स्कोर पर डी कॉक की पारी का अंत किया. उन्होंने अपनी तेज तर्रार पारी में 70 गेंदों का सामना करते हुए 17 चौके और एक छक्का मारा.

डी कॉक के जाने के बाद दक्षिण अफ्रीका के लिए डु प्लेसिस ने 57 रन किए लेकिन दूसरे छोर से उन्हें कोई साथ नहीं मिला. कप्तान डु प्लेसिस भी 220 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट लिए. उन्होंने अपनी पारी में 66 गेंदों का सामना किया और सात चौके मारे. मेजबान टीम ने आखिरी चार विकेट सिर्फ 16 रनों के भीतर खो दिए जिससे टीम बड़ा स्कोर नहीं कर पाई. 

(इनपुट: आईएएनएस)

Trending news