ICC चेयरमैन शशांक मनोहर का इस्तीफा, जानें अब रेस में कौन भारतीय है सबसे आगे?

अगले चेयरमैन के चुनाव की प्रक्रिया को अगले सप्ताह आईसीसी बोर्ड की मंजूरी मिल सकती है, तब तक डिप्टी चेयरमैन इमरान ख्वाजा सारी जिम्मेदारी संभालेंगे.

ICC चेयरमैन शशांक मनोहर का इस्तीफा, जानें अब रेस में कौन भारतीय है सबसे आगे?
शशांक मनोहर. (फाइल फोटो)

दुबई: आईसीसी (ICC) चेयरमैन शाशंक मनोहर (Shashank Manohar) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. वो 2 बार दो-दो साल तक इस पद पर रहे. आईसीसी ने एक बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी. आईसीसी ने एक बयान में कहा कि आईसीसी बोर्ड ने बुधवार को बैठक की और इस बात पर सहमति जताई कि मनोहर का उत्तराधिकारी न चुने जाने तक डिप्टी चेयरमैन इमरान ख्वाजा सारी जिम्मेदारी संभालेंगे.

यह भी पढें- World Cup 2015 की हार को लेकर छलका डिविलियर्स का दर्द, संन्यास को लेकर कही ये बात

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) मनु साहनी (Manu Sawhney) ने कहा, 'आईसीसी बोर्ड, स्टाफ और पूरे क्रिकेट परिवार की ओर से, मैं शशांक का उनका नेतृत्व के लिए और आईसीसी चेयरमैन रहते हुए उन्होंने जो किया उसके लिए उनका शुक्रिया कहना चाहता हूं. हम उनको और उनके परिवार को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हैं.' उन्होंने कहा, 'आईसीसी बोर्ड में हर कोई शशांक का उनके समपर्ण के लिए उनका धन्यवाद देता है. वो क्रिकेट और आईसीसी को एक बेहतर स्थिति में छोड़कर जा रहे हैं.'

अगले चेयरमैन के चुनाव की प्रक्रिया को अगले सप्ताह आईसीसी बोर्ड की मंजूरी मिल सकती है. भारत के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) आईसीसी चेयरमैन पद की रेस में आगे चल रहे हैं, इसके अलावा इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) के पूर्व चेयरमैन कोलिन ग्रेव्स (Colin Graves) मुख्य दावेदार हैं. वहीं गांगुली की दावेदारी इस बात पर निर्भर करती है सुप्रीम कोर्ट उन्हें लोढ़ा समिति की सिफारिशों के तहत अनिवार्य ब्रेक में छूट देकर बीसीसीआई अध्यक्ष पद पर बने रहने का मौका देता है या नहीं.

क्रिकेट वेस्टइंडीज के पूर्व प्रमुख डेव कैमरन, क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के क्रिस नेनजानी, न्यूजीलैंड के ग्रेगोर बार्कले भी इस पद को हासिल करना चाहते हैं. मौजूदा संविधान के मुताबिक गांगुली राज्य और बीसीसीआई में अधिकारी के तौर पर 6 साल का कार्यकाल 31 जुलाई को खत्म हो रहा है और वो आईसीसी चेयरमैन पद के लिए दावेदारी पेश करने के योग्य हैं. आईसीसी के नियमों के मुताबिक शशांक मनोहर 2 साल और आईसीसी चैरयरमैन के पद पर रह सकते थे क्योंकि स्वतंत्र चेयरमैन के लिए अधिकतम 3 कार्यकाल की इजाजत है.
(इनपुट-आईएएनएस)