close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रवि शास्त्री को मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी, BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने दिए संकेत

भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री को और बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली ने गुरुवार को इसके संकेत दिए.

रवि शास्त्री को मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी, BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने दिए संकेत
गांगुली ने एनसीए के अधिकारियों के साथ उस प्रस्तावित भूमि का भी मुआयना किया जहां एनसीए की नई अकादमी बनने वाली है.

कोलकाता: भारतीय टीम (Team India) के मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) को और बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने गुरुवार को इसके संकेत दिए. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (NCA) में एक सिस्टम बनाया जाएगा ताकि ज्यादा से ज्यादा समय इसमें बिता सकें. बीसीसीआई बेंगलुरू में ही एक बड़े भू-भाग पर एक शानदार क्रिकेट एकादमी बना रहा है. गांगुली और अन्य नए सदस्यों ने बुधवार को एनसीए के प्रमख राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) और अन्य सदस्यों से मुलाकात की.

गांगुली ने एनसीए के अधिकारियों के साथ उस प्रस्तावित भूमि का भी मुआयना किया जहां एनसीए की नई अकादमी बनने वाली है. गांगुली ने कहा, "हम एक सिस्टम बनाना चाहते हैं, रवि जब तक कोच हैं तब तक वह वहां अधिक से अधिक समय बिता सकते हैं. राहुल यहां पर है. हम यहां पर एक अच्छा सेंटर बनाने की कोशिश करेंगे."

गांगुली ने अपने एनसीए दौरे को लेकर कहा, "वह एनसीए के प्रमुख हैं. वास्तव में मैं जानना चाहता था कि एनसीए कैसे काम करता हैं. हम एक नई एनसीए बना रहे हैं. मैं उन सभी से अलग-अलग मिला हूं. मुझे लगता है कि वे एनसीए में काफी काम करते हैं."
 
पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, "एनसीए में बहुत सा काम चल रहा है. यह बैंगलोर के बीचोंबीच है. कर्नाटक क्रिकेट एसोसिएशन ने बहुत ज्यादा मदद की है. उन्होंने बीसीसीआई से अपनी सुविधाओं के लिए एक भी पैसे नहीं लिए. जितना ज्यादा स्पेस होगा, अच्छा होगा."   

LIVE टीवी: 

गांगुली ने यह भी बताया कि ईडन र्गाडन्स स्टेडियम में भारत के पहले दिन-रात के टेस्ट मैच का आयोजन 22 से 26 नवम्बर होगा और इस मैच के लिए बीसीसीआई व्यापक स्तर पर तैयारियां कर रहा है. गांगुली ने कहा कि यह मैच भारत के लिए खास होता और इसी कारण इसके लिए खास लोगों को कोलकाता बुलाने का प्रयास किया जा रहा है. इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सचिन तेंदुलकर जैसी हस्तियां शामिल हैं.