कभी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स को जान से मार देना चाहते थे श्रीसंत, जानिए क्या थी वजह

भारत के पूर्व क्रिकेटर एस श्रीसंत को मैदान में गुस्सा काफी जल्दी आता था यही वजह है कि वो कई बार विपक्षी टीम के खिलाड़ियों से उलझते हुए नजर आए.

कभी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स को जान से मार देना चाहते थे श्रीसंत, जानिए क्या थी वजह

नई दिल्ली: पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत (S Sreesanth) अपने गुस्सैल स्वभाव के लिए काफी मशहूर थे. विपक्षी टीम के खिलाड़ियों से कैसे उलझना है और उनसे कैसे पार पाना है ये श्रीसंत को भली-भांति आता था. श्रीसंत ने 2007 टी20 वर्ल्ड कप में भारत के लिए शानदार प्रर्दशन किया था और टीम की खिताबी जीत में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थी. उन्होनें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल में जबरदस्त गेंदबाजी की थी और 4 ओवर में मात्र 12 रन दिए थे.

लेकिन एक मैच ऐसा भी था जिसकी वजह से श्रीसंत ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को जान से मारना चाहते थे. दरअसल 2003 के वनडे वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को करारी शिकस्त दी थी और इस हार को श्रीसंत बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं कर पाए थे और इसी वजह से वो ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को खत्म करना चाहते थे. इस बात का खुलासा खुद श्रीसंत ने एक टीवी शो के दौरान किया.

श्रीसंत ने कहा, 'मुझे याद है कि मैं मैथ्यू हेडन (Matthew Hayden) को यॉर्कर गेंद फेंकना चाहता था लेकिन उन्होंने पहली ही गेंद पर चौका जड़ दिया था. अगर आप उस मैच को देखेंगे तो आपको नजर आएगा कि मैं उस मैच में काफी पैशन के साथ खेल रहा था. मैं बस ऑस्ट्रेलिया को हराना चाहता था. जिस तरह से ऑस्ट्रेलिया ने 2003 में वर्ल्ड कप फाइनल में भारत को हराया था, वो हमेशा से मेरे दिमाग में था. मैं उनको जान से मारना चाहता था.'

उन्होंने आगे कहा, 'मुझे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर बहुत गुस्सा आता था. मैं गर्व महसूस करता हूं और भगवान को शुक्रिया कहता हूं कि उस मैच में हर किसी ने मेरी गेंदबाजी की बात की थी. मैंने अपने देश के लिए उस मैच में सबसे अच्छी गेंदबाजी की थी. मैंने काफी डॉट बॉल्स फेंकी थीं, मुझे अभी भी याद है उस मैच में मैंने 2 चौके दिए थे और कुल मिलाकर 12 रन ही खर्चे थे.'

आपको बता दें कि 2007 के टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी की थी और निर्धारित 20 ओवर में युवराज सिंह (Yuvraj Singh) की धुआंधार पारी की मदद से 5 विकेट पर 188 रन बनाए थे. जहां एक तरफ युवराज सिंह ने 30 गेंदों पर 70 रन की जबरदस्त पारी खेली थी, वहीं कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने भी 18 गेंदों पर 36 रन ठोक कर ऑस्ट्रेलिया की मुश्किलें काफी बढ़ा दी थी. लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने बेहतरीन शुरूआत की थी पर फिर श्रीसंत ने एडम गिलक्रिस्ट और मैथ्यू हेडन के विकेट चटकाकर ऑस्ट्रेलिया को करारा झटका दिया. जिसके बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम पूरी तरह से बिखर गई और आखिर में भारत को 15 रन से जीत हासिल हुई.