जब सनराइजर्स हैदराबाद ने पहली बार जीता था IPL खिताब, टूट गया था विराट कोहली का ख्वाब

29 मई 2020 को बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में डेविड वॉर्नर के सूरमाओं ने कोहली एंड कंपनी को IPL ट्रॉफी से महरूम कर दिया था.

जब सनराइजर्स हैदराबाद ने पहली बार जीता था IPL खिताब, टूट गया था विराट कोहली का ख्वाब
फाइल फोटो

नई दिल्ली: साल 2016 का आईपीएल फाइनल टूर्नामेंट की दो मजबूत टीम्स के बीच खेला जा रहा था. खास बात ये थी कि उस बार फाइनल में चेन्नई सुपरकिंग्स टीम नहीं दिख रही थी. इसकी वजह ये थी कि साल 2016 और 2017 के लिए 'पीली आर्मी' को फिक्सिंग के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया था. 29 मई 2020 को बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में मेजबान आरसीबी और सनराइजर्स हैदराबाद की टीम आमने सामने थी. हैदराबाद के कप्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया.

हैदराबाद ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 208 रन का बड़ा स्कोर बना लिया. इस दौरान कप्तान डेविड वॉर्नर ने 38 गेंदों में 68 रन बनाए, इसके अलावा युवराज सिंह ने 38 और बेन कटिंग ने 39 रन की पारी खेली. लक्ष्य का पीछा करते हुए आरसीबी ने शानदार शुरुआत की. क्रिस गेल ने 38 गेंदों में 76 और विराट कोहली ने 35 गेंदों में 54 रन बना डाले, दोनों के बीच 114 रन की पार्टनरशिप हुई. इसके बाद बैंगलोर की टीम ताश के पत्तों की तरह बिखर गई और 200 रन ही बना सकी, इस तरह हैदराबाद ने खिताबी मुकाबला 8 रन से जीत लिया.

सनराइजर्स पहली ऐसी टीम बन गई थी जिसने लगातार 3 प्लेऑफ जीतकर खिताब अपने नाम किया. उसने एलिमिनिटेर में कोलकाता नाइटराइडर्स और फिर दूसरे क्वालिफायर में गुजरात लॉयन्स को हराया था. सनराइजर्स के गेंदबाजों की तारीफ करनी होगी. टूर्नामेंट में 23 विकेट लेने वाले भुवनेश्वर कुमार को फाइनल में भले ही कोई विकेट नहीं मिला लेकिन उनकी 13 गेंदों पर रन नहीं बने, उन्होंने 4 ओवर में सिर्फ 25 रन लुटाए. वहीं बेन कटिंग ने 25 रन देकर 2 विकेट लिए, और ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए उन्हें 'मैन ऑफ द मैच' अवॉर्ड से नवाजा गया.