Virat Kohli की कप्तानी पर भड़के कपिल देव, ये बड़ा बयान देकर सभी को चौंकाया
X

Virat Kohli की कप्तानी पर भड़के कपिल देव, ये बड़ा बयान देकर सभी को चौंकाया

कपिल ने कहा, ‘जब आप अच्छा करते हो तो हम सब तारीफ करते हैं, लेकिन कुछ बड़े नामों, चयनकर्ताओं को अब कड़ा रवैया अपनाना होगा, क्या बेहतर प्रदर्शन करने वाले युवा खिलाड़ियों पर विचार किया जाना चाहिए. बड़े खिलाड़ी अगर रन नहीं बनाएंगे तो उन्हें आलोचना का सामना करना होगा.’ अब तक भारत को अपनी पहली जीत की तलाश है और टीम टी20 वर्ल्ड कप के अपने अगले मैच में बुधवार को अफगानिस्तान से भिड़ेगी.

Virat Kohli की कप्तानी पर भड़के कपिल देव, ये बड़ा बयान देकर सभी को चौंकाया

नई दिल्ली: भारत को 1983 का वर्ल्ड कप जिताने वाले कप्तान कपिल देव ने टीम इंडिया के मौजूदा कप्तान विराट कोहली को लेकर बड़ा बयान दिया है. न्यूजीलैंड से मैच हारने के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने अपने एक बयान से कपिल देव को नाराज करने का काम किया है. न्यूजीलैंड से मैच हारने के बाद कप्तान विराट कोहली ने कहा, 'हम पूरी ईमानदारी से नहीं खेले, बल्ले और गेंद से बहादुरी नहीं दिखा पाए.' कपिल देव भारतीय कप्तान विराट कोहली की इसी बात से नाराज हो गए.

कोहली की कप्तानी पर भड़के कपिल देव

कपिल देव ने कहा, 'जाहिर है, विराट कोहली के जैसे बड़े खिलाड़ी के मुंह से यह एक बहुत ही कमजोर बयान है. हम सभी जानते हैं और हम मानते हैं कि उनमें टीम के लिए मैच जीतने की भूख और इच्छा है. जिस तरह का टीम इंडिया का प्रदर्शन था, उस तरह से कप्तान के लिए ड्रेसिंग रूम की बातें उठाना काफी मुश्किल था. मगर मुझे उन शब्दों को सुनकर थोड़ा अजीब लगा, क्योंकि वह उस तरह के खिलाड़ी नहीं हैं.'

कोहली की इस बात पर कपिल देव हुए नाराज 

कपिल देव ने ‘एबीपी न्यूज’ से कहा, 'विराट कोहली लड़ाकू हैं. मुझे लगता है कि उनको हार मिली या कुछ और यह अलग बात है, लेकिन एक कप्तान को यह शब्द नहीं कहना चाहिए कि 'हम बहादुरी से नहीं खेले. आप जुनून के साथ देश के लिए खेलते हैं, इसलिए जब आप ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करते हैं, तो निश्चित रूप से सवाल उठते हैं.' कपिल देव ने साथ ही कहा कि कोच रवि शास्त्री और मेंटॉर महेंद्र सिंह धोनी को खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाना चाहिए.

टीम के माहौल को लेकर उठाए सवाल 

कपिल ने कहा, ‘अगर टीम की बॉडी लैंग्वेज (हावभाव) और कप्तान की सोचने की प्रक्रिया इस तरह होगी तो ड्रेसिंग रूम के भीतर खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाना काफी मुश्किल होगा.' भारत को नॉकआउट में क्वालीफिकेशन की उम्मीद जीवंत रखने के लिए ग्रुप चरण के अपने तीनों मैच जीतने होंगे और उम्मीद करनी होगी कि अफगानिस्तान न्यूजीलैंड को हरा दे. कपिल ने कहा कि अन्य टीमों के नतीजों पर निर्भर रहना कभी भी अच्छी स्थिति नहीं होती.

टीम इंडिया की हालत पर ये बोले कपिल देव

कपिल ने कहा, ‘अगर हमें किसी ओर के प्रदर्शन पर आगे बढ़ना है तो मुझे इस तरह की स्थिति में होना पसंद नहीं है. अगर आपको सेमीफाइनल में जगह बनानी है तो अपने प्रदर्शन के आधार पर बनाओ. मुझे नहीं लगता कि अपनी उम्मीदों के लिए किसी और पर निर्भर होना अच्छा विचार है.' कपिल ने कहा, ‘जब आप अच्छा करते हो तो हम सब तारीफ करते हैं, लेकिन कुछ बड़े नामों, चयनकर्ताओं को अब कड़ा रवैया अपनाना होगा, क्या बेहतर प्रदर्शन करने वाले युवा खिलाड़ियों पर विचार किया जाना चाहिए. बड़े खिलाड़ी अगर रन नहीं बनाएंगे तो उन्हें आलोचना का सामना करना होगा.’ अब तक भारत को अपनी पहली जीत की तलाश है और टीम टी20 वर्ल्ड कप के अपने अगले मैच में बुधवार को अफगानिस्तान से भिड़ेगी.

Trending news