close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Teacher's Day: गुरु को याद कर भावुक हुए सचिन, लिखा- सीधा खेलने की सीख मुझे आज भी...

Teacher's Day: मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने कहा कि शिक्षक केवल शिक्षा ही नहीं, बल्कि जीवन के मूल्य भी सिखाते हैं.

Teacher's Day: गुरु को याद कर भावुक हुए सचिन, लिखा- सीधा खेलने की सीख मुझे आज भी...
सचिन तेंदुलकर ने इंटरनेशनल करियर में रिकॉर्ड 34,357 रन बनाए हैं. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: पांच सितंबर यानी शिक्षक दिवस (Teachers Day) को सभी अपने गुरुओं को याद कर रहे हैं. ऐसे में ‘क्रिकेट के भगवान’ सचिन तेंडुलकर (Sachin Tendulkar) कहां पीछे रह सकते हैं. यह दिग्गज क्रिकेटर अपने करियर के हर खास मुकाम पर गुरु के साथ खड़ा रहा. गुरुवार (5 सितंबर) को भी वे अपने गुरु दिवंगत रमाकांत आचरेकर (Ramakant Achrekar) को याद कर भावुक हो गए. उन्होंने कहा कि कोच आचरेकर ने उन्हें सिर्फ खेलना ही नहीं सिखाया, बल्कि जिंदगी जीने की सीख भी दी. 

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने अपने कोच के साथ पुरानी तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा, ‘शिक्षक केवल शिक्षा ही नहीं, बल्कि जीवन के मूल्य भी सिखाते हैं. आचरेकर सर ने मुझे सीधे (स्ट्रेट) खेलना सिखाया, केवल मैदान पर नहीं बल्कि जिंदगी में भी.’

सचिन तेंदुलकर ने आगे लिखा, ‘मैं जिंदगी में उनके अमूल्य योगदान के लिए हमेशा उनका ऋणी रहूंगा. उनकी सीख आज भी मेरा मार्गदर्शन करती है.’' आचरेकर सचिन के अलावा विनोद कांबली, अजित अगरकर और प्रवीण आमरे के भी कोच रहे. 

 

रमाकांत आचरेकर का इसी साल 2 जनवरी को निधन हो गया था. उन्हें साल 1990 में द्रोणाचार्य अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था. साल 2010 में उन्हें पद्मश्री से भी नवाजा गया. 

सचिन तेंदुलकर ने इंटरनेशनल करियर में रिकॉर्ड 34,357 रन बनाए. उन्होंने करियर में 200 टेस्ट खेले और 51 शतक, 68 अर्धशतक जड़े. वनडे क्रिकेट में उनके नाम 49 शतक और 96 अर्धशतक दर्ज हैं.