close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsENG: असली मुकाबले से पहले एसेक्स में हुआ विवाद, 4 की जगह 3 दिन का होगा मैच

टीम इंडिया पर आरोप लगा है कि टीम मैनेजमेंट ने एसेक्स काउंटी ग्राउंड की पिच और आउटफील्ड को लेकर सवाल उठाया.

INDvsENG: असली मुकाबले से पहले एसेक्स में हुआ विवाद, 4 की जगह 3 दिन का होगा मैच
एसेक्स प्रैक्टिस मैच को चार की जगह तीन दिन का कर दिया गया है. (फोटो साभार@BCCI)

चेम्सफोर्ड/नई दिल्ली: एसेक्स काउंटी मैदान पर चार दिवसीय अभ्यास मैच को लेकर विवाद शुरू हो गया है. ऐसा कहा गया कि टीम इंडिया और टीम मैनेजमेंट काउंटी ग्राउंड की पिच और आउटफील्ड को लेकर खुश नहीं था. बाद में इस मैच को चार के बजाय तीन दिन का कर दिया गया और इसका कारण गर्मी को बताया गया. इन विवादों को लेकर टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने कहा कि वर्तमान टीम शिकायत करने में विश्वास नहीं रखती है. शास्त्री ने अपने चिरपरिचित अंदाज में कहा कि उनकी टीम बहाने नहीं बनाती है. प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा, ‘‘मेरा सिद्धांत साफ है. आपके देश में मैं सवाल नहीं करता और मेरे देश में आप सवाल नहीं करें. मैंने मैदानकर्मियों को कहा कि घास रहने दो और कुछ भी हटाओ नहीं.

हमें अपने प्रदर्शन और टीम पर गर्व है- शास्त्री
उन्होंने कहा, ‘‘इस दौरे में आप किसी भी समय भारतीय टीम को पिच या परिस्थितियों लेकर बहाना बनाते हुए नहीं देखेंगे. हम जहां भी जाते हैं वहां अपने प्रदर्शन पर गर्व महसूस करते हैं और हम विश्व में विदेशी दौरे पर सबसे अच्छा व्यवहार करने वाली टीम बनना चाहते हैं. यह भारतीय टीम शिकायत करने वाली आखिरी टीम होगी, इसलिए मैं इसे साफ तौर पर स्पष्ट करना चाहता हूं.’’  

 

शास्त्री ने पिच के बारे में कहा, ‘‘इस पिच पर अच्छी घास है. मैदानकर्मियों ने कहा कि क्या हम चाहते हैं कि इससे घास हटायी जाए, मैंने कहा बिल्कुल नहीं. यह आपका एकाधिकार है. आप विकेट तैयार करते हो और हम खेलते हैं, इसलिए जब आप हमारे देश आओगे तो आप (पिचों को लेकर) कोई सवाल नहीं कर सकते.’’ 

 

 

उन्होंने कहा कि जहां तक मैच को तीन दिन करने का सवाल है तो उसका क्रिकेटिया कारण भीषण गर्मी है. टीम एक अगस्त से बर्मिंघम में शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच से पहले बेहतर तैयारी चाहती है. शास्त्री ने कहा, ‘‘मौसम और अन्य सुविधाओं को देखते हुए मैच को चार से तीन दिन का कर दिया गया. हमें बर्मिंघम में तीन दिन अभ्यास करने का मौका मिलेगा, जहां पहला टेस्ट मैच खेला जाना है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर हम चार दिन का मैच खेलते तो एक दिन हमारा यात्रा पर लगेगा. यह दौरा करने वाली टीम का एकाधिकार है कि वह दो दिवसीय, तीन दिवसीय या चार दिवसीय अभ्यास मैच खेलना चाहती है और हमने उसका उपयोग किया.’’ 

 

शास्त्री ने कहा कि मैच की अवधि कम करने का फैसला मंगलवार को अभ्यास के दौरान किया गया. उन्होंने कहा, ‘‘यह फैसला अभ्यास के दौरान किया गया. हमने उनसे (एसेक्स के अधिकारियों) बात की और उन्होंने हमें टिकटों की बिक्री और अन्य चीजों के बारे में बताया. हम यहां तक कि दो दिवसीय मैच खेलने पर भी खुश थे और उस एक दिन का उपयोग यहां अभ्यास करके करते. लेकिन, उन्होंने टिकटों और अन्य व्यवस्थाओं की बातकी और तब हमने कहा ‘ठीक है हम तीन दिवसीय मैच खेलेंगे.’’ 

शास्त्री ने कहा कि असल में वे एजबेस्टन में रविवार को अभ्यास करना चाहते थे. उन्होंने कहा, ‘‘हम शनिवार को बर्मिंघम पहुंचेंगे और ऐसे में रविवार को अभ्यास कर सकते हैं. इसका कारण टेस्ट मैच स्थल से सामंजस्य बिठाना है, क्योंकि यहां एक अतिरिक्त दिन बिताने से कोई मतलब हल नहीं होता. वहां एक अतिरिक्त दिन बिताने से हमें वहां की परिस्थितियों से तालमेल बिठाने में मदद मिलेगी.’’ 

(इनपुट भाषा)