Virat ने FTP पर दिया बड़ा बयान, कहा- इसके अलावा प्लेयर्स के पास नहीं है कोई विकल्प

India vs New Zealand: विराट कोहली का कहना है कि टीम इंडिया के खिलाड़ी लंबे ऑफ सीजन की उम्मीद नहीं कर सकते. 

Virat ने FTP पर दिया बड़ा बयान, कहा- इसके अलावा प्लेयर्स के पास नहीं है कोई विकल्प
विराट कोहली का कहना है की एफटी अब तय हो चुका है, इसमें बदलाव नहीं हो सकता है. (फोटो: IANS)

क्राइस्टचर्च: टीम इंडिया का न्यूजीलैंड दौरा (India vs New Zealand) अच्छी शुरुआत के बाद काफी खराब रहा. टी20 सीरीज में क्लीन स्वीप करने के बाद  टीम वनडे और टेस्ट सीरीज में खुद क्लीन स्वीप हो गई. दौरे से पहले विराट कोहली (Virat Kohli) ने टीम इंडिया शेड्यूल के बारे में अपनी नराजगी जाहिर की थी. इस बार उन्होंने 'ऑफ सीजन'  पर टिप्पणी की है. 

 क्राइस्टचर्च में दूसरे टेस्ट में हार के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए विराट कोहली ने कहा टीम बहुत लंबे ऑफ सीजन की उम्मीद नहीं कर सकती. यानि पिछले सत्र के अंत और नए सत्र की शुरुआत के समय के लंबा होने की उम्मीद टीम नहीं कर सकती.

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: विराट ने क्राइस्टचर्च में गेंद से आजमाई किस्मत, फैंस ने यूं लिए मजे

विराट ने  संवाददातओं से बात करते हुए कहा, जैसा कि मैंने पहले कहा, मझे नहीं लगता कि अगले दो-तीन साल मैं किसी समस्या का सामना करूंगा. जो है  वह है. यदि खिलाड़ियों को लगता है कि बहुत ज्यादा क्रिकेट हो रहा है तो वे प्रारूप के मुताबिक अपनी प्राथमिकताएं तय कर लेंगे और उसके अनुसार ब्रेक लेंगे."

 कोहली ने कहा,  "उसके अलावा कोई विकल्प नहीं है. आप यह उम्मीद नहीं कर सकते कि भारतीय को लंबा ऑफ सीजन ( दो सीजन के बीच ब्रेक) मिलेगा."

 विराट ने कहा, "वर्तमान हालातों में ब्रेक लेना ही समाधान है क्योंकि फ्यूचर टूर प्रोग्राम (Future Tours Programme) से पहले ही बन चुका है. हमें हालात के मुताबिक मैनेज करना होगा. ब्रेक लेना अहम है यदि मैच के दौरान गेंदबाज चोटिल होता है तब आप समझते हैं कि क्या गड़बड़ होगी. यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम वर्कलोड मैनेज करें."

विराट कोहली  ने माना कि उनकी टीम एक बैटिंग यूनिट के तौर पर फेल हुई, लेकिन उन्होंने पुजारा, रहाणे और पंत का भी बचाव किया. उन्होंने कहा कि कुछ खराब मैच किसी को खराब प्लेयर नहीं बना देते. टीम में कोई मसला नहीं है.
(इनपुट आईएएनएस)