close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

71 साल, 11 कप्तान जो ना कर सके, उसे विराट कोहली ने कर दिखाया

भारत के पहले टेस्ट कप्तान सीके नायडू 1932 में बने थे. तब से लेकर अब तक भारतीय टेस्ट टीम के 33 कप्तान कप्तानी कर चुके हैं. इनमें से विराट कोहली ही इकलौते ऐसे हैं जिनकी अगुवाई में भारत को ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने का मौका मिला है.

71 साल, 11 कप्तान जो ना कर सके, उसे विराट कोहली ने कर दिखाया
विराट कोहली इकलौते ऐसे भारतीय कप्तान हैं जो दो बार ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गए.

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम ने आज इतिहास रच दिया है. सिडनी टेस्ट मैच ड्रॉ होने के साथ ही भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीत लिया है. यह ऐतिहासिक जीत भारत को विराट कोहली की कप्तानी में मिली है. भारतीय क्रिकेट टीम के पहले टेस्ट कप्तान सीके नायडू 1932 में बने थे. तब से लेकर अब तक भारतीय टेस्ट टीम के 33 कप्तान कप्तानी कर चुके हैं. इनमें से विराट कोहली ही इकलौते ऐसे हैं जिनकी अगुवाई में भारत को ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने का मौका मिला है. हालांकि कई कप्तानों को ऑस्ट्रेलिया में कप्तानी करने का मौका भी नहीं मिला है, जिसमें से एक अजिंक्य रहाणे भी हैं, जो कोहली की अनुपस्थिति में अब तक केवल 2 मैचों में कप्तानी कर पाए हैं.

1. 1947/48 : पहली बार भारत 1947 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गया था, तब भारत के कप्तान लाला अमरनाथ थे. पांच मैचों की इस सीरीज में भारत केवल एक मैच ड्रॉ करा पाया था.

2. 1967/68: चंदू बोर्डे की कप्तानी में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में 4 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने पहुंची. ऑस्ट्रेलिया ने 4-0 से सीरीज जीती. इस सीरीज में पहले मैच के बाद बाकी के तीन मैचों में नवाब पटौदी जूनियर ने कप्तानी की थी.

3. 1977/78: बिशन सिंह बेदी की कप्तानी में भारत ने ऑस्ट्रेलिया में 5 टेस्ट मेच खेले. इस सीरीज में भारत का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा. भारतीय टीम ने लगातार दो टेस्ट मैच हारने के बाद दो मैच जीते. इस तरह यह सीरीज 3-2 पर खत्म हुई.

4. 1980/81: सुनील गावस्कर की अगुवाई में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में 3 टेस्ट मैचों की सीरीज खेली. यह सीरीज 1-1 से बराबरी पर रही.

5. 1985/86: कपिल देव की कप्तानी में भारतीय टीम ने 3 टेस्ट मैचों की सीरीज खेली. यह सीरीज सबसे ऊबाऊ रही. यह सीरीज 0-0 से ड्रॉ रही.

6. 1991/92: मोहम्मद अजहरुद्दीन की कप्तानी में भारतीय टीम ने यहां 5 टेस्ट मैच खेले, जिसमें से 4 में हार मिली. 

7. 1999/00: सचिन तेंदुलकर की अगुवाई में भारतीय टीम ने यहां 3 टेस्ट मैच खेले. सभी में भारतीय टीम को करारी हार मिली. 

8. 2003/04: सौरव गांगुली की कप्तानी में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौर पर पहुंची थी. इस सीरीज में दोनों टीमों के बीच जबरदस्त मुकाबला देखने को मिला. 4 मैचों की यह सीरीज 1-1 से बराबरी पर खत्म हुई.

9. 2007/08: अनिल कुंबले की कप्तानी में भारतीय टीम ने 4 टेस्ट मैच खेले, जिसमें से एक में जीत मिली. यह सीरीज 2-1 से खत्म हुई.

 Virat Ko Table

10. 2011/12: महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई. इस दौरान टीम इंडिया को 4-0 से कारारी शिकस्त मिली.

11. 2014/15: एमएस धोनी की अगुवाई में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया पहुंची. धोनी ने तीसरे टेस्ट के बाद संन्यास ले लिया. इसके बाद चौथे टेस्ट में विराट कोहली ने कप्तानी की. ऑस्ट्रेलिया ने यह सीरीज 2-0 से जीती. 

12. 2018/19: विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया एक बार फिर से पहुंची. इस बार टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को पूरी तरह से परेशान करके रखा और 2-1 से सीरीज अपने नाम किया.

मालूम हो कि भारत ने बारिश के कारण चौथा टेस्ट मैच ड्रॉ छूटने के साथ ही ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट श्रृंखला जीतकर सोमवार को यहां नया इतिहास रचा. बारिश की वजह से पांचवें और अंतिम दिन का खेल नहीं हो पाया और अंपायरों ने लंच के बाद मैच ड्रॉ करने का फैसला किया जिससे भारत ने चार मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम की. 

भारत ने एडीलेड में पहला टेस्ट मैच 31 रन से जीता था. आस्ट्रेलिया ने पर्थ में दूसरे टेस्ट मैच में 146 रन से जीतकर वापसी की लेकिन भारत ने मेलबर्न में तीसरा मैच 137 रन से जीता और श्रृंखला में 2-1 की बढ़त बनायी जो आखिर में निर्णायक साबित हुई. सुबह के पूरे सत्र में पिच कवर से ढकी रही. सिडनी क्रिकेट ग्राउंड के ऊपर काले घने बादल छाये हुए हैं और इस बीच हल्की बारिश भी हुई. 

भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट पर 622 रन बनाकर समाप्त घोषित की थी, जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया 300 रन पर आउट हो गया और उसे अपनी धरती पर पिछले 30 साल में पहली बार फॉलोआन के लिये उतरना पड़ा. ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में बिना किसी नुकसान के छह रन बनाये.