विराट, रोहित या पुजारा नहीं, मयंक के नाम रहा यह साल; जानें कैसे बने ‘टेस्ट में बेस्ट’

मयंक अग्रवाल ने 2019 में दो दोहरे शतक लगाए और ऐसा करने वाले एकमात्र बल्लेबाज रहे. उनका सर्वोच्च स्कोर 243 रहा. 

विराट, रोहित या पुजारा नहीं, मयंक के नाम रहा यह साल; जानें कैसे बने ‘टेस्ट में बेस्ट’
मयंक अग्रवाल (बाएं) और रोहित शर्मा की जोड़ी ने भारत की ओपनिंग की समस्या काफी हद तक हल कर दी है. (फोटो: ANI)

नई दिल्ली: बांग्लादेश से सीरीज खत्म होने के साथ ही भारतीय टीम के इस साल के टेस्ट सफर पर विराम लग गया है. टीम इंडिया (Team India) ने 2019 का अपना अंतिम टेस्ट मैच खेल लिया है. अब वह अगले साल फरवरी में न्यूजीलैंड से टेस्ट मैच खेलेगी. आखिर 2019 में भारत का टेस्ट क्रिकेट (Test Cricket) में कैसा प्रदर्शन रहा. वो कौन खिलाड़ी है, जिसने इस साल भारत के लिए सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया. ऐसे कई सवालों के जवाब अब सबके सामने हैं. 

भारतीय क्रिकेट की बात करें तो यहां बल्लेबाज सबसे बड़ा स्टार होता है. तो फिर 2019 में टेस्ट क्रिकेट में भारत का सबसे बड़ा बल्लेबाज कौन रहा? किसने इस साल सबसे अधिक रन बनाए? इस सवाल का जवाब बेहद दिलचस्प और सकारात्मक है. इस साल भारत के लिए सबसे अधिक रन विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे या चेतेश्वर पुजारा जैसे दिग्गजों ने नहीं बनाए. यह कारनामा मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने किया, जिनका करियर ही अभी सिर्फ 9 टेस्ट मैचों का है. 

यह भी पढ़ें: AUSvsPAK: मैच से पहले उड़ जाती है स्टीव स्मिथ की नींद, रात भर आते हैं ऐसे खयालात... 

 

भारत ने 2019 में आठ टेस्ट मैच खेले. उसने इनमें से सात मैच जीते और एक ड्रॉ रहा. यकीनन, इस प्रदर्शन में पूरी टीम का योगदान रहा. अगर हम सिर्फ बल्लेबाजों की बात करें तो 26 साल के मयंक अग्रवाल का योगदान सबसे ज्यादा दिखता है. जो भारतीय टीम पिछले साल एक अच्छे ओपनर की तलाश में परेशान थी, उसे मयंक के रूप में जैसे हीरा मिल गया हो. मयंक ने ना सिर्फ ओपनिंग की समस्या को सुलझाया, बल्कि टीम के दिग्गजों से अधिक रन भी बनाए.

 

कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) समेत टीम इंडिया के चार प्रमुख बल्लेबाजों ने इस साल आठ-आठ टेस्ट मैच खेले. इनमें अजिंक्य रहाणे, चेतेश्वर पुजारा और मयंक अग्रवाल शामिल हैं. ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा को भी इस साल सभी आठ मैचों में खेलने का मौका मिला. 

भारतीय खिलाड़ियों में इस साल सबसे अधिक 754 रन मयंक अग्रवाल ने बनाए. उन्होंने आठ मैचों की 11 पारियों में 68.54 की औसत से ये रन बनाए. उन्होंने इस साल दो दोहरे शतक लगाए और ऐसा करने वाले एकमात्र बल्लेबाज रहे. उनका सर्वोच्च स्कोर 243 रहा. 
 

virat

साल में सबसे अधिक टेस्ट रन बनाने के मामले में भारतीयों में उप कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) दूसरे नंबर पर रहे. विराट कोहली ने साल का सबसे बड़ा स्कोर 254* बनाया. लेकिन वे सबसे अधिक रन बनाने के मामले में मयंक अग्रवाल और अजिंक्य रहाणे से पीछे छूट गए. 

यह भी पढ़ें: IND vs WI: विराट की टी20 में वापसी पर बोले VVS, ये बदलाव करने होंगे टीम इंडिया को

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने इस साल टेस्ट क्रिकेट में गजब की वापसी की. टीम इंडिया ने रोहित को बतौर ओपनर आजमाया और उन्होंने इस मौके को दोनों हाथों से लपक लिया. रोहित ने पांच मैच में 556 रन बनाए. वे मयंक अग्रवाल के अलावा एकमात्र भारतीय रहे, जिन्होंने इस साल तीन शतक लगाए. चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने इस साल 507 रन बनाए. 

रवींद्र जडेजा, हनुमा विहारी और ऋषभ पंत ने भी इस साल अच्छा प्रदर्शन किया. जडेजा ने 8 मैच में 440, विहारी ने 4 मैच में 341 और पंत ने 3 मैच में 217 रन बनाए. भारत के लिए 200 से अधिक रन बनाने वालों में जडेजा अकेले ऐसे बल्लेबाज रहे, जो शतक नहीं लगा सके.