Asia Cup 2018 : भारत से शिकस्त के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ियों को ड्रेसिंग रूम में भी सता रहा हार का डर

भारत से हार के बाद पाकिस्तान के कोच मिकी आर्थर ने कहा कि उनकी ‘टीम ‘कॉन्फीडेंस क्राइसेस’ से गुजर रही है.

Asia Cup 2018 : भारत से शिकस्त के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ियों को ड्रेसिंग रूम में भी सता रहा हार का डर
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: चूलें हिला देना. वैसे तो यह एक मुहावरा भर है, जो अक्सर किताबों में पढ़ने को मिलता है. लेकिन इस समय पाकिस्तान की क्रिकेट टीम पर यह पूरी तरह फिट बैठ रहा है. भारत ने एशिया कप में पाकिस्तान को लगातार दो मैच में हराकर उसकी चूलें हिला दी हैं. दहशत का आलम यह है कि पाकिस्तानियों को अब अपने ड्रेसिंग रूम में भी हार का डर सता रहा है. 

भारत ने 8 और 9 विकेट से जीते मैच 
भारत की टीम एशिया कप में पाकिस्तान को चार दिन में दो बार हरा चुकी है. भारत ने पहले ग्रुप मैच में पाकिस्तान को महज 162 रन पर समेटकर 8 विकेट से जीता. फिर रविवार को सुपर-4 मुकाबले में पाकिस्तान की 238 रन की चुनौती को महज एक विकेट गंवाकर हासिल कर लिया. इस मैच में भारत के दोनों ओपनरों कप्तान रोहित शर्मा और शिखर धवन ने शतक लगाए. 

भारत से खेलकर ‘रियलिटी चेक’ हो गया 
पाकिस्तान की लगातार दूसरी हार के बाद उसके कोच मिकी आर्थर रेग्युलर प्रेस कॉन्फ्रेंस में आए. उन्होंने पाकिस्तान की हार के अनेक कारण गिनाए. यह बताया कि कैसे पाकिस्तान के क्रिकेटर प्लान को क्रियान्वित करने में नाकाम रहे. उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय टीम से मैच खेलकर पाकिस्तान का रियलिटी चेक हो गया है, जिसका फायदा अगले मैचों मे मिल सकता है. 

टीम का आत्मविश्वास डगमगा गया है 
दक्षिण अफ्रीका के भी कोच रह चुके आर्थर ने कहा, ‘अभी (पाकिस्तानी खिलाड़ी) आत्मविश्वास संबंधी संकट से जूझ रहे हैं. ड्रेसिंग रूम में नाकामी का डर बना हुआ है. इस टूर्नामेंट में यह भी रियलिटी चेक हो गया है कि बतौर टीम हम कहां हैं. नौ विेकट से हार, हमारी सबसे बुरा प्रदर्शन है. लेकिन हम इस प्रदर्शन से उबरकर अच्छा प्रदर्शन करेंगे.’  


भारतीय ओपनरों रोहित शर्मा और शिखर धवन ने पाकिस्तान के खिलाफ रविवार को 210 रन की साझेदारी की. (फोटो: PTI)

भारतीय खिलाड़ी विरोधी को मौका नहीं देते 
50 साल के मिकी आर्थर ने कहा, ‘हमें असलियत समझनी होगी. हमें एक बेहद अच्छी भारतीय टीम से हार का सामना करना पड़ा. भारत के पास बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं. अगर आप उन्हें थोड़ा भी मौका देते हैं तो फिर आपको इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा और उन्होंने ऐसा किया. हमारी टीम अभी बहुत अनुभवी नहीं है. सरफराज अहमद और मोहम्मद आमिर ने 50 या इससे अधिक मैच खेले हैं जबकि शोएब मलिक ने ही 200 मैच खेले हैं.’ 

शुक्रवार को हो सकता है भारत-पाक मुकाबला 
भारत और पाकिस्तान के बीच 28 सितंबर का एक और मुकाबला हो सकता है. लेकिन ऐसा तभी होगा, जब पाकिस्तान की टीम बुधवार को सुपर-4 के अपने आखिरी मुकाबले में बांग्लादेश को हराएगी. पाकिस्तान और बांग्लादेश में से जीतने वाली टीम 28 सितंबर को एशिया कप का फाइनल खेलेगी. भारतीय टीम सुपर-4 के अपने दोनों मुकाबले जीतकर पहले ही फाइनल में जगह बना चुकी है.