ये हैं टेस्ट की चौथी पारी के 5 भारतीय महारथी, जानिए कितने नंबर पर हैं विराट कोहली

विराट कोहली भी तेजी से पूर्व भारतीय खिलाड़ियों के नकशे कदम पर चल रहे हैं. उनका चौथी पारी का रिकॉर्ड बहुत प्रभावशाली है.

ये हैं टेस्ट की चौथी पारी के 5 भारतीय महारथी, जानिए कितने नंबर पर हैं विराट कोहली
विराट कोहली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आपको 2018 में भारतीय क्रिकेट टीम का दक्षिण अफ्रीका दौरा याद है? टीम इंडिया 25 साल में पहली बार अफ्रीकी धरती पर टेस्ट सीरीज जीत सकती थी, लेकिन दूसरे टेस्ट की चौथी पारी में अपने बल्लेबाजों के अचानक चूक जाने से भारतीय टीम को टेस्ट और सीरीज दोनों हारनी पड़ी. भले ही उस टेस्ट में टीम इंडिया के बल्लेबाज चौथी पारी में फेल रहे, लेकिन भारतीय क्रिकेट इतिहास के पांच बल्लेबाज ऐसे हैं, जिनके नाम पर चौथी पारी में इतने रन हैं कि अगर वो विकेट पर मौजूद होते तो शायद टीम इंडिया हारने से बच जाती. इनमें कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) खुद भी शामिल हैं. बाकी चार महारथियों के बारे में चलिए आपको हम बताते हैं. 

यह भी पढ़ें- 'कप्तानी में विराट को रिप्लेस कर सकते हैं रोहित,' आकाश चोपड़ा ने बताई इसकी वजह

ये हैं भारतीय क्रिकेट में चौथी पारी के चार महारथी
भारतीय क्रिकेट में यदि औसत और करियर के दौरान टेस्ट की चौथी पारी में बनाए गए रनों के हिसाब से देखा जाए तो विराट से पहले चार बल्लेबाज चौथी पारी के महारथी साबित होते हैं. ये महारथी हैं मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), महान सलामी बल्लेबाज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar), 'द वॉल' राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) और 'वैरी वैरी स्पेशल' वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman). भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली रन संख्या में तो अभी इन 4 महारथियों से पीछे हैं, लेकिन औसत के हिसाब से वे इस लिस्ट में 5वें महारथी के तौर पर चुनौती देते हैं.

सचिन तेंदुलकर के हैं चौथी पारी में सबसे ज्यादा रन
क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर सभी रिकॉर्ड की तरफ से चौथी पारी में रन बनाने के महारथी के तौर पर भी अन्य सबसे आगे हैं. सचिन के नाम 3 शतक के साथ 1625 रन चौथी पारी में दर्ज हैं. दूसरे नंबर पर एक शतक के साथ 1552 रन बनाने वाले राहुल द्रविड़, तीसरे नंबर पर 4 शतक से 1398 रन बनाने वाले महान सुनील गावस्कर और चौथे नंबर पर 1 शतक के साथ 1095 रन बनाने वाले वीवीएस लक्ष्मण का नंबर आता है. भारतीय कप्तान विराट कोहली अभी तक खेले 86 टेस्ट मैच की 23 पारियों में ही 2 शतक के साथ 896 रन अपने खाते में चौथी पारी के रिकॉर्ड में दर्ज कर चुके हैं.

गावस्कर का है सबसे प्रभावशाली प्रदर्शन
यदि टेस्ट की चौथी पारी में प्रभावशाली प्रदर्शन की बात की जाए तो सुनील गावस्कर सबसे आगे खड़े दिखाई देते हैं, जिन्होंने 58.25 के शानदार औसत से चौथी पारी में रन बनाए हैं. औसत के लिहाज से चौथी पारी में सचिन तेंदुलकर का प्रदर्शन सबसे खराब दिखाई देता है, जो अपने करियर में टेस्ट की चौथी पारी में 36.93 का ही औसत दर्ज कर पाए हैं. गावस्कर के बाद औसत के लिहाज से दूसरे नंबर पर विराट कोहली खड़े हैं, जो 49.77 के औसत के साथ अपने सीनियर्स को बहुत पीछे छोड़ रहे हैं. तीसरे नंबर पर 40.84 के औसत वाले राहुल द्रविड़ और चौथे नंबर पर 40.56 के औसत वाले वीवीएस लक्ष्मण का नंबर आता है.