इतिहास में आज: सचिन बने थे तीस हजारी, अब कोई आस-पास भी नहीं है उनके

Team India:  सचिन तेंदुलकर ने के नाम क्रिेकेट में सभी प्रारूपों को मिलाकर सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है. दस साल पहले उन्होंने 30,000 का आंकड़ा पार किया था. 

इतिहास में आज: सचिन बने थे तीस हजारी, अब कोई आस-पास भी नहीं है उनके
सचिन के नाम 100 इंटरनेशनल क्रिकेट सेंचुरी हैं. (फोटो: PTI)

नई दिल्ली: वैसे तो क्रिकेट इतिहास में सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के नाम कई रिकॉर्ड दर्ज हैं. इनमें से कुछ रिकॉर्ड ऐसे हैं जिनके बारे में कहा जाता है कि वह किसी भी बल्लेबाज के लिए तोड़ना नामुमकिन है. ऐसा ही एक रिकॉर्ड आज से 10 साल पहले सचिन ने बनाया था जिससे छूना दुनिया के हर बल्लेबाज के लिए एक नामुमकिन सपने की तरह ही है. सचिन ने 2009 में क्रिकेट में 30,000 रन के आंकड़े को छुआ था. 

34 हजार से ज्यादा रन बनाए हैं सचिन ने
सचिन के रिकॉर्ड की सूची में यह एक ऐसा आंकड़ा है जिसे छूने के लिए आज दुनिया का बड़े से बड़ा बल्लेबाज खुद को बहुत दूर पाता है. सचिन के नाम क्रिकेट में 34357 रन हैं. सचिन ने इतने रन कुल 664 मैचों की 782 पारियों में बनाए थे. इसके लिए सचिन ने 24 साल लगातार क्रिकेट खेला था. यही नहीं उन्होंने इस दौरान लगातार फॉर्म का कायम रखा. ऐसा नहीं कि सचिन का बुरा दौर आया हो, लेकिन उन्होंने वापसी करने में कभी देर नहीं लगाई.

यह भी पढ़ें: IND vs BAN: कैसी है डे-नाइट टेस्ट की पिंक बॉल, कितनी अलग है ये बाकी गेंदों से

कब हासिल किया था यह मुकाम
सचिन 20 नवंबर 2009 को ही तीस हजारी बने थे. उस समय भारत और श्रीलंका के बीच अहमदाबाद में टेस्ट मैच चल रहा था. मैच के आखिरी दिन सचिन तीस हजार के आंकड़े को छू सके थे. पहली पारी में केवल चार पर बोल्ड होने वाले सचिन ने दूसरी पारी में 35वां रन बनाते ही 30,000 रन का मुकाम छुआ था. इसके बाद सचिन ने मैच में अपना शतक भी पूरा किया था और नाबाद पवेलियन लौटे थे. 

इतने टेस्ट और वनडे रन बना चुके थे तब सचिन
इन तीस हजार रन में से सचिन के टेस्टमें 12,777 रन, वनडे में 17,178 रन और एक मात्र टी20 इंटरनेशनल में 10 रन शामिल हैं. इस मैच में वह शतक सचिन के करियर का 88वां इंटरनेशनल और 43वां टेस्ट शतक था. यह मैच ड्रॉ हो गया था जिसमें श्रीलंका की दूसरी पारी शुरू ही नहीं हो सकी थी. इस मैच में श्रीलंका के लिए मेहिला जयवर्धने ने दोहरा शतक लगाया था और प्रसन्ना जयवर्धने ने 154 रन की पारी खेली थी, वहीं दिलशान ने भी एक शतक लगाया था. 

यह भी पढ़ें: सुनील गावस्कर ने मयंक अग्रवाल की तारीफ कर कहा, आगे आसान नहीं है राह, बताई ये वजह

ये खिलाड़ी भी रह गए सचिन से दूर
टीम इंडिया के लिए पहली पारी में राहुल द्रविड़ और एमएस धोनी ने शतक लगाए थे. जबक दूसरी पारी में सचिन के अलावा गौतम गंभीर ने शतक लगाए थे. लेकिन जो आंक़ड़ा सचिन ने उस समय छुआ, वह आज भी क्रिकेटरों के लिए असंभव मुकाम लगता है. श्रीलंका के कुमार संगकारा 594 मैच खेलकर केवल 28016 रन तक ही पहुंच सके थे. उनके अलावा रिकी पोंटंग के नाम 27483, मेहिला जयवर्धने के नाम 25957 रन. जैक कालिस के नाम 25534 रन, राहुल द्रविड़ के नाम 24208 रन, ब्रायन लारा के नाम 22358 रन है. 

एक ही खिलाड़ी दे रहा है सचिन को चुनौती
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के इस समय इंटरनेशनल क्रिकेट में 21036 रन  बना चुके हैं. वे अभी कम से कम पांच साल और क्रिकेट खेल सकते हैं, लेकिन सचिन के रिकॉर्ड के पास पहुंचने के लिए उन्हें लगातार अच्छे फॉर्म से रन बनाने होंगे.