close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO : IPL में धमाके के लिए जूनियर रैना को मिला गुरुमंत्र, पिता करते हैं सिलेंडर की डिलिवरी

लीगढ़ के रहने वाले इस क्रिकेटर को उनकी विस्फोटक शैली के कारण जूनियर रैना कहा जाता है. वह सुरेश रैना को अपना आदर्श मानते हैं.

VIDEO : IPL में धमाके के लिए जूनियर रैना को मिला गुरुमंत्र, पिता करते हैं सिलेंडर की डिलिवरी
20 लाख रुपए बेस प्राइस था रिंकू सिंह का आईपीएल ऑक्शन में . फोटो : ट्विटर

कोलकाता : आईपीएल 2018 की नीलामी में कई ऐसे क्रिकेटरों को खरीदा गया, जिन्होंने मुश्किल हालातों का सामना करते हुए क्रिकेट की दुनिया में अपना नाम कमाया है. इनमें से एक हैं रिंकू सिंह. अलीगढ़ के रहने वाले इस क्रिकेटर को उनकी विस्फोटक शैली के कारण जूनियर रैना कहा जाता है. रिंकू सिंह भी इस बार आईपीएल में खेलते नजर आएंगे. उन्हें इस बार शाहरुख खान की टीम कोलकाता नाइट राइडर्स ने खरीदा है. वह सुरेश रैना को अपना आदर्श मानते हैं. उनका कहना है कि रैना ने उन्हें आईपीएल से पहले सलाह दी है. वह इस पर अमल करेंगे.  

कोलकाता नाइट राइडर्स से करार पाने वाले रिंकू सिंह अपने आदर्श सुरेश रैना की सलाह पर अमल करते हुए आईपीएल में पदार्पण के साथ खुलकर खेलने की कोशिश करेंगे. अलीगढ़ के एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाले रिंकू को केकेआर ने 80 लाख रुपए में खरीदा जो उनकी बेसप्राइज से चार गुना अधिक था. एक एलपीजी कंपनी के गोडाउन में दो कमरे में रहने वाले रिंकू को रैना ने बधाई दी थी. रिंकू के पिता एलपीजी कंपनी में डिलिवरी का काम करते हैं.

उसने कहा, ‘उन्होंने कहा था कि बिंदास खेलना और ज्यादा दबाव मत लेना. मेरे लिये यह खास था.’ उसने कहा, ‘मैंने कभी सोचा नहीं था कि 80 लाख रुपए मिलेंगे. मुझे लगा कि 30-35 लाख रुपए मिल जाएंगे.’

रिंकू ने कहा, ‘आईपीएल से बहुत कुछ सीखना है. मैंने कई शाट्स सीखे हैं और हमेशा रैना भाई का अनुसरण किया है. वह मेरे आदर्श हैं. आईपीएल में पदार्पण से पहले उनसे मिलना सपना सच होने जैसा रहा.’ आईपीएल में पदार्पण के साथ ही रिंकू की जिंदगी बदल गई और अब उनका परिवार एलपीजी गोडाउन से अपने घर में जा रहा है. उसने कहा, ‘हम अपने नये घर में जायेंगे जो दो महीने में तैयार हो जायेगा.’

PICS: युवराज सिंह ने बाल कटवा कर केएल राहुल को कहा- सॉरी

रिंकू की उम्र के बच्‍चे मौज-मस्‍ती करते हैं, लेकिन वो परिवार की जिम्‍मेदारी उठा रहे हैं. यूपी की अंडर-19 टीम में खेलते हुए उन्‍हें जो भत्ता मिलता था उससे वो परिवार का कर्ज चुकाते थे. रिंकू नवीं फेल हैं और उन्‍हें कभी कुछ समझ में नहीं आया. वो हमेशा से क्रिकेट खेलने के अलावा कुछ नहीं करना चाहते थे.

अमूल बटर ने ऐसे पूरा किया दिनेश कार्तिक के बचपन का सपना

रिंकू के मुताबिक, 'मेरा परिवार बड़ा है. ऐसे में मेरे पास क्रिकेट में बहुत ज्‍यादा फोकस करने के अलावा और कोई ऑप्‍शन नहीं बचा था. जिंदगी में बहुत स्‍ट्रगल किया है. शायद भगवान अब वापस दे रहा है.'

पिछले साल किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेले 
रिंकू को पिछले साल आईपीएल सीजन 10 में किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने 10 लाख में खरीदा था. इस बार रिंकू ने अपनी बेस प्राइज बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दिया था. इससे पहले साल 2012 में उनका चयन अंडर-16 टीम में हुआ. इसके बाद उन्हें अंडर-19 की तरफ से भी खेलने का मौका मिला.