close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: 2016 का बेस्ट क्रिकेटर तलाश रहा टीम में जगह, BCCI ने खास अंदाज में दी B'day की बधाई

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (R Ashwin) आज (17 सितंबर) को 34वां जन्मदिन मना रहे हैं. उनके नाम सबसे तेजी से 300 टेस्ट विकेट लेने का रिकॉर्ड है.   

VIDEO: 2016 का बेस्ट क्रिकेटर तलाश रहा टीम में जगह, BCCI ने खास अंदाज में दी B'day की बधाई

नई दिल्ली: किसी खिलाड़ी के करियर में किस तरह उतार-चढ़ाव आ सकता है, रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) इसका सटीक उदाहरण हैं. भारत का यह ऑफ स्पिनर 2016 में दुनिया का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट क्रिकेटर चुना गया था, लेकिन आज वह अपनी ही टीम में जगह बनाने के लिए संघर्ष कर रहा है. वेस्टइंडीज दौरे पर इस खिलाड़ी ने सिर्फ टीम इंडिया के बेंच की शोभा बढ़ाई. अब देखना यह है कि अगले महीने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज में अश्विन को टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में जगह मिलती है. 

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (R Ashwin) आज (17 सितंबर) को 34वां जन्मदिन मना रहे हैं. उन्हें उनके दोस्तों, प्रशंसकों ने जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं. भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने इस क्रिकेटर को बधाई दी और उनके शानदार सफर को एक वीडियो के जरिए दिखाया. अश्विन 65 टेस्ट मैच में 342 विकेट ले चुके हैं. 

यह भी पढ़ें: पाकिस्तानी क्रिकेटरों का खाना हुआ मुहाल; कोच ने बिरयानी, मिठाई... पर लगाया बैन

विंडीज के खिलाफ लिया 100वां विकेट
बीसीसीआई ने मंगलवार (17 दिसंबर) को अश्विन को जन्मदिन की बधाई देते हुए एक वीडियो ट्वीट किया. इस वीडियो में रविचंद्रन के टेस्ट क्रिकेट में 100वें, 200वें और 300वें विकेट को दिखाया गया है. अश्विन ने 100वां विकेट वेस्टइंडीज, 200वां विकेट न्यूजीलैंड और 300वां विकेट श्रीलंका के खिलाफ लिया था. 

सबसे तेजी से 300 विकेट लेने का रिकॉर्ड
रविचंद्रन अश्विन के नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेजी से 300 विकेट लेने का विश्व रिकॉर्ड है. उन्होंने 54वें मैच में यह उपलब्धि हासिल की थी. डेनिस लिली (56) इस मामले में दूसरे नंबर पर हैं. अश्विन ने 18वें टेस्ट मैच में 100वां और 37वें मैच में 200वां टेस्ट विकेट लिया था. वे सबसे तेजी से 100 और 200 विकेट लेने वाले भारतीय भी हैं. 

 

 

 

2016 का प्रदर्शन नहीं दोहरा पाए
रविचंद्रन ने 2016 में 43.71 की औसत से 612 रन बनाए थे. इसमें 2 शतक शामिल थे. उन्होंने इसी साल 72 विकेट भी लिए थे. इस प्रदर्शन की बदौलत आईसीसी ने उन्हें 2016 का बेस्ट टेस्ट क्रिकेटर चुना था. बेस्ट क्रिकेटर चुने जाने के बाद अश्विन के करियर में गिरावट आ गई. वे 2017 और 2018 में 2016 के प्रदर्शन को नहीं दोहरा पाए. इसी कारण टीम की प्लेइंग इलेवन से उनकी जगह छिन गई. 

यह भी पढ़ें: OMG: 5250 गेंद के बाद फेंकी टेस्ट करियर की पहली नो बॉल, विकेट भी मिला लेकिन...

जडेजा और कुलदीप ने छीनी जगह
2017 के बाद से कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री, ऑफ स्पिनर अश्विन से ज्यादा तरजी रवींद्र जडेजा और कुलदीप यादव को तरजीह दे रहे हैं. हालांकि, एक बात है कि अश्विन अब भी देश के नंबर-1 ऑफ स्पिनर बने हुए हैं. वे टेस्ट टीम में लगातार चुने भी जा रहे हैं.