close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: सचिन तेंदुलकर मुंबई मैराथन में बोले, खेल के मामले में ऐसे बढ़ रहा है भारत

मुंबई मैराथन में सचिन ने देश में खेलों के प्रति जागरुकता के बारे में बात की. उनका मानना है कि अब देश में खेल खेलने वाले लोगों की तादात बढ़ रही है.

VIDEO: सचिन तेंदुलकर मुंबई मैराथन में बोले, खेल के मामले में ऐसे बढ़ रहा है भारत
(फोटो: PTI)

मुंबई:  भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ( Sachin Tendulkar) का कहना है कि भारत अब धीरे-धीरे खेल प्रेमी देश से खेल खेलने वाले देश में बदल रहा है. तेंदुलकर ने स्वस्थ जीवनशैली की पैरवी करते हुए सही खानपान पर ध्यान देने पर जोर दिया. सिचन ने मुंबई मैराथन को फ्लैग ऑफ करते हुए कहा, “मुझे लगता है कि हरएक को स्वस्थ जीवन शैली पर ध्यान देना चाहिए. आपका अपने खानपान यानि डाइट पर गौर करना भी जरूरी है.  आम आदमी को अपने खानपान की आदतों पर के बारे में सोचना चाहिए. हम खेल प्रेमी देश से खेल खेलने वाले देश की बढ़ रहे हैं.”

सचिन ने मैराथन के बारे में भी बताते हुए कहा कि कैसे फिटनेस हरएक के जीवन में अहम भूमिका निभाती है. सचिन ने कहा, “इस मैराथन में 20,000 धावकों ने भाग लिया. फिटनेस की हर व्यक्ति के जीवन में अहम भूमिका है. मैराथन को लोगों की ओर से बढ़िया रिस्पॉंन्स मिला है. सुबह बारिश हो रही थी. लेकिन फिर लोग दौड़ते रहे. इस मैराथन की यही खासियत है. यह हमेशा बारिश के मौसम में होती है. मुझे लगता है ,मैराथन को इस साल बड़ी सफलता मिली है. इसका पूरा श्रेय प्रतिभागियों को जाता है. पूरी कवायद स्वस्थ और फिट भारत के लिए की गई है. यह जरूरी नहीं है कि यदि आप युवा हैं तो फिट होंगे ही.”

इसी साल सचिन को आईसीसी हॉल ऑफ फेम में शामिल किया है. सचिन इस उपलब्धि को हासिल करने वाले छठे भारतीय हैं. सचिन ने उस पर कहा था, “आईसीस क्रिकेट हॉल ऑफ फेम में शामिल किया जाना सम्मान की बात है. जो पीढि़यों से क्रिकेटर्स के योगदान को बढ़ावा देती है. उन सभी ने खेल के समृद्धि और लोकप्रियता को बढ़ावा देने के लिए योगदान दिया है. और मुझे खुशी है कि मैं भी थोड़ा कुछ कर सका.”

 सचिन ने वनडे क्रिकेट से साल 2012 में संन्यास लिया था. अपने आखिरी मैच से पहले वाले मैच में सचिन ने अपने इंटरनेशनल करियर की 100वां शतक लगाया था. सचिन ने अपना आखिरी मटेस्ट मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई में नवंबर 2013 में खेला था जो कि उनका 200 वां टेस्ट मैच था. रिटायरमेंट के बाद सचिन आईसीसी के आयोजनों में राजदूत के तौर पर विभिन्न टूर्नामेंट में नजर आए थे जिसमें 2015 के विश्व कप, 2017 के महिला विश्व कप भी शामिल हैं. वे आईपीएल में मुंबई इंडियन्स के मेन्टोर भी हैं.