close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: 20 साल पुराना ब्लेजर पहनकर प्रेस कॉन्फ्रेंस में आए गांगुली, किया यह खुलासा...

सौरव गांगुली ने अध्यक्ष बनने के बाद अपनी प्राथमिकताएं साफ कर दीं. उन्होंने बोर्ड में लागू विवादित नियमों को हटाने की बात भी कही है.

VIDEO: 20 साल पुराना ब्लेजर पहनकर प्रेस कॉन्फ्रेंस में आए गांगुली, किया यह खुलासा...
सौरव गांगुली ने बुधवार को बीसीसीआई का अध्यक्ष पद संभाला. वे बोर्ड के 39वें अध्यक्ष हैं. (फोटो: ANI)

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट में अपनी कप्तानी से नई इबारत लिखने वाले सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने बीसीसीआई अध्यक्ष के रूप में नई पारी की शुरुआत कर दी है. उन्होंने बुधवार को बतौर अध्यक्ष अपनी पारी उसी अंदाज में शुरू की है, जैसे वे बतौर क्रिकेटर नजर आते थे. गांगुली ने अध्यक्ष बनने के बाद मुंबई में पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने इस दौरान अपनी प्राथमिकताएं साफ कर दीं. गांगुली ने बोर्ड में लागू विवादित नियमों को हटाने की बात भी कही. 

सौरव गांगुली का बीसीसीआई (BCCI) अध्यक्ष बनना उसी दिन तय हो गया था, जब उनके खिलाफ कोई भी उम्मीदवार चुनाव के मैदान में नहीं उतरा था. बुधवार को उन्होंने औपचारिक रूप से पद संभाला. गांगुली से बतौर अध्यक्ष बड़ी उम्मीदें लगाई जा रही हैं. उन्होंने इसकी शुरुआत भी इसी अंदाज में की है. 

यह भी पढ़ें: बीसीसीआई में शुरू हुआ ‘गांगुली युग’, जानें उनकी पूरी टीम

सौरव गांगुली अपनी पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में ढीला-ढाला ब्लेजर पहनकर आए, जिस पर बीसीसीआई का लोगो लगा था. इस पर एक पत्रकार ने पूछ लिया कि ज्यादातर बोर्ड अध्यक्ष ऐसे ब्लेजर नहीं पहनते हैं, जिस पर बीसीसीआई का लोगो लगा हो. इस पर गांगुली ने जवाब दिया, ‘मुझे यह ब्लेजर तब मिला था, जब मैं कप्तान बना था. इसलिए मैंने तय किया था कि मैं प्रेस कॉन्फ्रेंस में यही ब्लेजर पहनकर जाऊंगा.’

सौरव गांगुली ने आगे कहा, ‘मैंने यह तो तय कर लिया कि मैं यही ब्लेजर पहनूंगा. लेकिन मुझे इस बात का बिलकुल अंदाजा नहीं था कि यह इतना ढीला होगा. चूंकि मुझे बतौर कप्तान यह ब्लेजर मिला था, इसलिए इसे पहनना अच्छा लगता है.’  सौरव गांगुली ने भारतीय क्रिकेट टीम की पहली बार 1999 में कप्तानी की थी. 

यह भी पढ़ें: रैंकिंग: रोहित पहली बार तीनों फॉर्मेट के टॉप-10 में पहुंचे, ऐसा करने वाले तीसरे भारतीय बने

सौरव गांगुली ने अपनी बातचीत में कहा कि वे भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) से कल (24 अक्टूबर) को बात करेंगे. वे कोहली को वह सब समर्थन देंगे, जो वे चाहते हैं क्योंकि वे भारतीय क्रिकेट के सबसे अहम खिलाड़ी हैं. गांगुली ने यह भी कहा कि हितों के टकराव वाले नियम की समीक्षा भी करना चाहेंगे. इस नियम को पहले से ही कोर्ट में चुनौती दी जा चुकी है. 

सौरव गांगुली के अध्यक्ष बनते ही सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (CoA) की भूमिका भी खत्म हो गई है. सुप्रीम कोर्ट ने करीब 33 महीने पहले सीओए (CoA) की नियुक्ति की थी. सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को प्रशासकों की समिति (सीओए) से कहा कि जैसे ही बीसीसीआई के नए अधिकारी अपना कार्यभार सम्भाल लेंगे, वह अपना काम बंद कर दे.

ये भी देखें-: