close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: मयंक अग्रवाल को पहले ही टेस्ट में लगी चोट, ख्वाजा का स्वीप गर्दन से टकराया

27 साल के मयंक अग्रवाल अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे हैं. ओपनर मयंक ने दोनों ही पारियों में भारत को अच्छी शुरुआत दी. 

VIDEO: मयंक अग्रवाल को पहले ही टेस्ट में लगी चोट, ख्वाजा का स्वीप गर्दन से टकराया
मयंक अग्रवाल ने तीसरे टेस्ट की पहली पारी में 76 और दूसरी पारी में 42 रन बनाए. (फोटो: PTI)

नई दिल्ली: मयंक अग्रवाल को लंबे इंतजार के बाद टेस्ट क्रिकेट खेलने का मौका मिला है और वे इसके हर मौके को भुना रहे हैं. भारतीय ओपनर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ (India vs Australia) तीसरे टेस्ट में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 76 और 42 रन की पारियां खेलीं. दूसरी पारी में तो वे 42 रन बनाकर टीम इंडिया के टॉप स्कोरर रहे. कर्नाटक के मयंक अग्रवाल ने इसके अलावा तीन कैच भी लपके. हालांकि, फील्डिंग के दौरान एक वक्त ऐसा भी आया, जब उनकी चोट ने कप्तान विराट कोहली और साथी खिलाड़ियों को चिंतित कर दिया.

उस्मान ख्वाजा का शॉट गर्दन से टकराया 
ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी में 15 ओवर में दो विकेट पर 54 रन बना लिए थे. पारी का 16वां ओवर रवींद्र जडेजा ने किया. स्ट्राइक एंड पर 26 रन पर खेल रहे उस्मान ख्वाजा थे. अपना डेब्यू टेस्ट खेल रहे मयंक अग्रवाल शॉर्ट-लेग पर फील्डिंग कर रहे थे. ओवर के दूसरी गेंद पर ख्वाजा ने स्वीप शॉट खेला. गेंद बल्ले के बीचोंबीच लगी और मयंक अग्रवाल जब तक इससे बचने के लिए घूमते, तब तक वह उनके गर्दन से टकरा चुकी थी (देखे वीडियो)

 

 

 

कोहली कुछ कहते रहे, अग्रवाल आंख मूंदे रहे 
गेंद जैसे ही अग्रवाल से टकराई, वैसे ही पास में खड़े चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे उनके पास पहुंच गए. कप्तान विराट कोहली से अग्रवाल की ओर लपके. कोहली, मयंक से कुछ कहते जा रहे थे, लेकिन अग्रवाल दर्द के कारण आंख भी नहीं खोल पा रहे थे. कुछ सेकंड बाद उन्होंने आंख तो खोली, लेकिन कोहली को जवाब नहीं दिया. चंद सेकंड बाद टीम के फीजियो मैदान पर आ चुके थे. उन्होंने मयंक अग्रवाल की चोट देखी और उन्हें मैदान से बाहर ले गए. गेंद अग्रवाल के गर्दन से जोर से टकराई थी, लेकिन खुशकिस्मती से यह ऐसी जगह नहीं लगी, जिससे फ्रेक्चर होता. 

जहां पर चोट लगी, वहीं लिया था कैच 
मयंक अग्रवाल ने इससे पहले मैच में तीन कैच लपके. यह संयोग ही है कि मयंक ने पहली पारी में उस्मान ख्वाजा का कैच उसी जगह और उसी गेंदबाज की गेंद पर पर लपका था, जहां पर उन्हें दूसरी पारी में चोट लगी. मयंक ने इसके अलावा एरॉन फिंच और मार्कस हैरिस के भी कैच लपके. 

 

Mayank Agarwal 341
मयंक अग्रवाल अपने डेब्यू टेस्ट में हर दिन छाए रहे. (फोटो: PTI) 

पृथ्वी शॉ की चोट के कारण मिला मौका 
मयंक अग्रवाल ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए घोषित शुरुआती टीम में शामिल नहीं थे. उन्हें पृथ्वी शॉ की चोट के कारण टीम इंडिया में शामिल किया गया. मयंक को इससे पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ भी टीम इंडिया में शामिल किया गया था, लेकिन तब उन्हें प्लेइंग-11 में जगह नहीं मिली थी. इस बार पहले दोनों टेस्ट में भारत के ओपनर मुरली विजय और केएल राहुल अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए. इसका फायदा मयंक को मिला और उन्हें ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के एक हफ्ते के भीतर ही प्लेइंग-11 में भी जगह मिल गई.