VIDEO : 33 की उम्र में विनय कुमार की 'जोंटी' छलांग, रोड्स भी हुए कायल

एक ओवर एलिमिनेटर में पंजाब ने एक ओवर में 15 रन बनाए, जिसके जवाब में कर्नाटक की टीम 11 रन ही बना सकी.

VIDEO : 33 की उम्र में विनय कुमार की 'जोंटी' छलांग, रोड्स भी हुए कायल
सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में पंजाब की कर्नाटक पर रोमांचक जीत (PIC : TWITTER)

नई दिल्ली: सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में कोलकाता में सुपर लीग के मुकाबले शुरू हुए. पहले दिन ग्रुप ए और ग्रुप बी के दो-दो मुकाबले खेले गए. ग्रुप ए के मैच जाधवपुर यूनिवर्सिटी कैंपस ग्राउंड और ग्रुप बी के मैच ईडन गार्डन्स में खेले गए. ग्रुप ए में पंजाब ने टाई हुए मैच में कर्नाटक को सुपर ओवर में और मुंबई ने झारखंड को 13 रन से हराया. ग्रुप बी में दिल्ली ने तमिलनाडु को 8 विकेट से और बड़ौदा ने बंगाल को 17 रन से हराया. पंजाब ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के सुपर लीग ग्रुप ए मुकाबले के टाई होने के बाद एक ओवर एलिमिनेटर में कर्नाटक को शिकस्त दी.

एक ओवर एलिमिनेटर में पंजाब ने एक ओवर में 15 रन बनाए, जिसके जवाब में कर्नाटक की टीम 11 रन ही बना सकी. पंजाब के मंदीप सिंह ने अहम भूमिका अदा की जिन्होंने चार गेंद में एक छक्के से नाबाद 10 रन बनाए, उन्होंने पारी के दौरान भी 29 गेंद में सात चौके और एक छक्के से 45 रन बनाए थे. दूसरे छोर पर युवराज सिंह ने दो गेंद में एक चौके से नाबाद पांच रन जोड़े. 

इस मैच में तेज गेंदबाज विनय कुमार का एक अलग ही रूप देखने को मिला. उन्होंने बेहद फुर्ती के साथ एक रनआउट किया, जिसे देखकर हर कोई हैरान रह गया. विनय कुमार के इस रन आउट को देखकर एक बार फिर से जेहन में जोंटी रोड्स की यादें ताजा हो गई. 

VIDEO : क्रिकेट इतिहास का सबसे अजब-गजब रनआउट, GOOGLE सर्च में बना नंबर 1

विनय कुमार ने जिस तरह से बल्लेबाज को क्रीज में लौटने से पहले ही रनआउट किया था. ठीक वैसा ही रन आउट 1992 के वर्ल्ड कप में दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी जॉन्टी रोड्स ने किया था. सोमवार (23 जनवरी) को खेले गए इस मैच में विनय कुमार ने पंजाब के खिलाड़ी गुरकीरत सिंह को रनआउट कर पवेलियन भेजा. 

विनय कुमार ने बल्लेबाज गुरकीरत सिंह को अपना शिकार बनाया. बता दें कि विनय कुमार कर्नाटक की तरफ से कप्तानी कर रहे हैं और गुरकीरत पंजाब के लिए खेल रहे हैं. गुरकीरत ने मिड ऑन में शॉट मारा. शॉट मारते ही उन्होंने दूसरे छोर के बल्लेबाज को रन के लिए बुलाया, लेकिन रन की कॉल के बाद ही वह वापस क्रीज में लौट गए. तब तक सामने के छोर का बल्लेबाज दौड़ लगा चुका था. साथी बल्लेबाज को दौड़ता देख गुरकीरत को भी रन के लिए भागना पड़ा. 

VIDEO: इतना मजेदार रनआउट पहले कभी नहीं देखा होगा आपने

गुरकीरत अभी भी क्रीज से काफी दूर थे. तभी उन्हें आउट करने के लिए फील्डर ने थ्रो किया, लेकिन गेंदबाज गेंद को पकड़ने से चूक गया. इस दौरान कप्तान विनय कुमार ने फुर्ती दिखाई और गेंद को लपक लिया. 

विनय ने यहां गेंद को थ्रो करने की बजाय खुद ही विकेट की तरफ दौड़ना सही समझा. उन्होने विकेट तक दौड़ लगाई और बेहतरीन डाइव लगाते हुए स्टंप्स बिखेर दिए. यह रन आउट बिल्कुल वैसा ही था जैसा 26 साल पहले 1992 विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका-पाकिस्तान मैच में हुआ था. 

इस मैच में जोंटी रोड्स ने इंजमाम-उल-हक को रन आउट किया था. विनय कुमार ने अपने इस रन आउट का वीडियो टि्वटर पर पोस्ट करते हुए लिखा, ‘कोच जॉन्टी रोड्स, आपका 1992 विश्व कप का रन आउट वाला वीडियो कई बार देखा, मैं बस इंतजार कर रहा था कि मुझे भी वैसा कोई मौका मिले. आज आखिरकार मुझे वो मौका मिल गया. ये कैसा है कोच?’ 

विनय कुमार के इस ट्वीट का जवाब जोंटी रोड्स ने भी भी दिया. जोंटी ने लिखा – ‘विनय मैंने नहीं सोचा था कि 1992 वर्ल्ड कप में तुम्हारी उम्र उतनी थी कि तुमने वो देखा होगा.’ बता दें कि विनय कुमार इस समय 33 साल के हैं.

ऐसा रहा मैच का रोमांच
इससे पहले पंजाब ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया. बलतेज सिंह के तीन और मनप्रीत गोनी के दो विकेट की बदौलत कर्नाटक को निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट पर 158 रन बनाने दिए. कर्नाटक के लिए अनिरूद्ध जोशी 19 गेंद में छह चौके और एक चौके से 40 रन बनाकर नाबाद रहे, जबकि सीएम गौतम ने 36 और रविकुमार समर्थ ने 31 रन का योगदान दिया. इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी पंजाब की टीम ने मंदीप सिंह के 45 और कप्तान हरभजन सिंह ने 19 गेंद में पांच चौके और एक छक्के से 33 रन तथा युवराज के 29 रन से नौ विकेट पर 158 रन बनाए, जिससे नतीजा एक ओवर एलिमिनेटर में चला गया. कर्नाटक के श्रीनाथ अरविंद के चार विकेट और प्रवीण दुबे के दो विकेट हासिल किए.