Breaking News
  • FATF की बैठक में पाकिस्‍तान को फिर झटका, ग्रे-लिस्‍ट से बाहर निकलने के मंसूबों पर फिरा पानी
  • कार्ति चिदंबरम को ब्रिटेन और फ्रांस जाने की कोर्ट से मिली इजाजत
  • अफगानिस्‍तान: राष्‍ट्रपति पद के लिए हुए चुनाव में पहले राउंड में अशरफ गनी ने जीत हासिल की

कांबली ने रैप गाकर पूरा किया सचिन का चैलेंज, कहा- कमिटमेंट कर दी तो..., देखें VIDEO

विनोद कांबली ने लिखा, ‘डियर मास्टर ब्लास्टर, मैंने कमिटमेंट कर दी तो फिर खुद की भी नहीं सुनता. यह क्रिकेट वाली बीट पे का मेरा रैप वर्जन है.’ 

कांबली ने रैप गाकर पूरा किया सचिन का चैलेंज, कहा- कमिटमेंट कर दी तो..., देखें VIDEO

नई दिल्ली: सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली की दोस्ती एक बार फिर चर्चा में हैं. इस बार यह चर्चा एक चैलेंज को लेकर है. सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने पिछले महीने विनोद कांबली को अपने एक गाने ‘क्रिकेट वाली बीट पे’ पर रैप सॉन्ग बनाने की चुनौती दी थी. विनोद कांबली (Vinod Kambli) ने यह चैलेंज पूरा कर लिया है. सचिन तेंदुलकर को भी अपने साथी का यह गाना बहुत पसंद आया है. उन्होंने इसे ट्विटर पर शेयर किया है. 

विनोद कांबली ने ट्विटर पर अपना रैप सॉन्ग शेयर किया. उन्होंने इसके साथ लिखा, ‘डियर मास्टर ब्लास्टर, एक बार मैंने जो कमिटमेंट कर दी तो फिर खुद की भी नहीं सुनता. यह क्रिकेट वाली बीट पे (CricketWaliBeat) का मेरा रैप वर्जन है.’ विनोद कांबली ने अपने गाने में सचिन के साथ खेलने वाले करीब 20 क्रिकेटरों के नाम भी शामिल किए हैं. 

यह भी देखें: सचिन ने कांबली को दिया चैलेंज- मेरे ‘क्रिकेट वाली बीट’ गाने को रैप में गाकर दिखाओ

सचिन तेंदुलकर अपने दोस्त के रैप सॉन्ग से बेहद प्रभावित नजर आए. उन्होंने कांबली के रैप को ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा, ‘यह वाकई बेहद प्रभावशाली है. ऐसा लग रहा है कि शहर में नया रैपर आ गया है.’ 
 

बता दें कि सचिन तेंदुलकर ने 21 जनवरी को एक वीडियो शेयर किया था. सचिन इसमें अपने गाने ‘क्रिकेट वाली बीट पे’ के बारे में कुछ पूछ रहे थे, तभी कांबली ने कहा कि उन्हें सब याद है. इस दौरान कांबली डांस मूव करते भी दिखे. तभी सचिन ने कांबली को इस गाने पर रैप करने का चैलेंज दिया. उन्होंने इसके लिए कांबली को एक सप्ताह का समय दिया था. कांबली ने इसका जवाब तीन फरवरी को दिया था. 

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: शतक लगाकर बोले हनुमा विहारी- टीम के लिए कहीं भी बैटिंग कर सकता हूं

सचिन और कांबली पहली बार 1988 में 664 रन की साझेदारी कर चर्चा में आए थे. दोनों खिलाड़ी बाद में इंटरनेशनल क्रिकेटर भी बने. हालांकि, सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली के इंटरनेशनल करियर में बड़ा फर्क रहा. सचिन ने 664 इंटरनेशनल मैच खेले. विनोद कांबली काफी पीछे रह गए. वे 121 इंटरनेशनल मैच ही खेल सके.