close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विराट पर बोले ईशांत शर्मा- ' आकर कहते हैं जानता हूं आप थके हैं, लेकिन आपको ऐसा करना ही होगा'

बता दें कि इशांत शर्मा इस साल इंडियन प्रीमियर लीग की दिल्ली कैपिटल्स के सदस्य हैं. उन्होंने कहा कि धोनी भाई ने कई बार मश्किल समय में मेरी मदद की.

विराट पर बोले ईशांत शर्मा- ' आकर कहते हैं जानता हूं आप थके हैं, लेकिन आपको ऐसा करना ही होगा'
ईशांत शर्मा ने कहा कि मुझे नहीं मालुम कि टीम मैनेजमेंट यह क्यूं सोचता है कि मैं केवल एक टेस्ट गेंदबाज हूं और न जाने कहा से मुझे यह टैग लगा. (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः भारतीय वनडे टीम से बाहर चल रहे सीनियर तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने कहा कि टीम के पूर्व कप्तान महेंन्द्र सिंह धोनी ने कई बार उन्हें टीम से बाहर होने से बचाया. ईशांत ने कहा कि करियर के शुरुआती दिनों में कई बार मुझे ऐसा लगा कि अब टीम से बाहर हो जाउंगा, लेकिन मुझे धोनी का अच्छा साथ मिला और कई बार ऐसे मौकों पर उन्होंने मुझे टीम से बाहर होने से बचाया. उन्होंने ने कही कि उन्हें हमेशा ही उनका साथ मिला. ईशांत ने कई मुद्दों पर अपनी बात रखी. नई टीम का हिस्सा बनने पर उन्होंने कहा कि  इसका हिस्सा बनकर मैं काफी खुश हूं और इस टीम के लिए मैं कुछ करना चाहता हूं.

आईपीएल के व्यस्त दौरे से आराम को लेकर विराट कोहली ने दिया बड़ा बयान

बता दें कि इशांत शर्मा इस साल इंडियन प्रीमियर लीग की दिल्ली कैपिटल्स के सदस्य हैं. उन्होंने कहा कि धोनी भाई ने कई बार मश्किल समय में मेरी मदद की. उन्होंने कहा कि अब टीम में सीनियर होने के नाते विराट मेरे पास आते हैं और कहते हैं कि मुझे मालुम हैं कि आप थके हैं लेकिन टीम के लिए आप को ऐसा (गेंदबाजी) करना होगा. ईशांत ने कहा कि विराट ने भी मैदान में अच्छा साथ दिया है. उन्होंने कहा कि पहले मैं केवल अच्छी गेंदबाजी पर ध्यान देता था पर अब मेरा ध्यान अच्छे प्रदर्शन पर होता है. ईशांत ने कहा कि आप जब अच्छा प्रदर्शन करोगे तो विकेट खुद ब खुद आ जाएंगे. उन्होंने कहा कि अगर ईमानदारी से कहूं तो मैं इसे एक अवसर के रूप में लेता हूं और अगर मैं अपने परफार्मेंस के बल पर वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा बनूंगा.

नहीं होगा आईपीएल का भव्य आयोजन, राष्ट्रीय रक्षा कोष में इतने करोड़ देगा BCCI...

90 टेस्ट मैच और 80 वनडे मैंच खेल चुके ईशांत शर्मा ने कहा कि मुझे नहीं मालुम कि टीम मैनेजमेंट यह क्यूं सोचता है कि मैं केवल एक टेस्ट गेंदबाज हूं और न जाने कहा से मुझे यह टैग लगा. उन्होंने कहा कि हां, मैं मानता हूं कि भारतीय क्रिकेट में ऐसे विचारों के कारण मैं सीमित ओवर की टीम में नहीं हूं. मुझे नहीं पता कि ऐसे विचार कहां से आते हैं. आपको बता दें कि ईशांत आईपीएल फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स की मीडिया कांफ्रेंस में बात कर रहे थे और जब उनसे धोनी और विराट कोहली में अंतर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि धोनी टीम के लिए एक बड़ी महत्वपूर्ण हस्ती हैं और समय समय पर वे टीम के कप्तान की भी मदद करते हैं.