Virat Kohli ने इशारों-इशारों में Cheteshwar Pujara पर साधा निशाना, टीम में बदलाव को लेकर दिए संकेत

विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल (World Test Championship) में न्यूजीलैंड के खिलाफ 8 विकेट से शिकस्त मिलने के बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने टीम में बदलाव के संकेत दिए हैं. ऐसे में चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) पर तलवार लटकी हुई दिख रही है.

Virat Kohli ने इशारों-इशारों में Cheteshwar Pujara पर साधा निशाना, टीम में बदलाव को लेकर दिए संकेत
(FILE PHOTO)

साउथम्पटन: न्यूजीलैंड के हाथों विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल (World Test Championship) में मिली हार के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने टेस्ट टीम में बदलाव के संकेत देते हुए कहा कि प्रदर्शन की समीक्षा के बाद सही लोगों को लाया जायेगा जो अच्छे प्रदर्शन के लिए सही मानसिकता के साथ उतरें.

भारतीय बल्लेबाजों ने फाइनल में निराश किया जिससे टीम को आठ विकेट से पराजय झेलनी पड़ी. कोहली (Virat Kohli) ने किसी का नाम नहीं लिया लेकिन कहा कि कुछ खिलाड़ी रन बनाने का जज्बा ही नहीं दिखा रहे हैं.

मैच में पुजारा का फ्लॉप शो

सीनियर बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने 54 गेंद में आठ रन बनाये और अपने पहले रन के लिये 35 गेंद खेली. उसके बाद दूसरी पारी में 80 गेंद में 15 रन बनाये. न्यूजीलैंड ने 139 रन का लक्ष्य आसानी से हासिल कर लिया. अब नंबर तीन पर पुजारा की जगह को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं. चेतेश्वर पुजारा ने आखिरी बार शतक दो साल पहले 2018 में पिछले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर ही लगाया था.  

कोहली ने दिए टीम में बदलाव के संकेत

कोहली (Virat Kohli) ने मैच के बाद आनलाइन प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘हम आत्ममंथन करते रहेंगे और इस पर बात होती रहेगी कि टीम को मजबूत बनाने के लिए क्या करना चाहिए. एक ही ढर्रे पर नहीं चलेंगे’.

उन्होंने कहा, ‘हम एक साल तक इंतजार नहीं करेंगे. आप हमारी सीमित ओवरों की टीम देखें तो हमारे पास गहराई है और खिलाड़ी आत्मविश्वास से भरे हैं. टेस्ट क्रिकेट में भी इसकी जरूरत है’.

कोहली (Virat Kohli) ने कहा, ‘हमें नए सिरे से समीक्षा करके योजना बनानी होगी और यह समझना होगा कि टीम के लिये क्या असरदार है और हम कैसे बेखौफ खेल सकते हैं. सही लोगों को लाना होगा जो अच्छे प्रदर्शन की सही मानसिकता के साथ उतरें’.

उन्होंने बल्लेबाजों से सुनियोजित जोखिम लेने और क्रीज पर डटे रहने के बीच संतुलन बनाने के लिए कहा. उन्होंने कहा, ‘फोकस रन बनाने पर होना चाहिए, विकेट गंवाने की चिंता पर नहीं. इसी तरह से विरोधी टीम पर दबाव बना सकते हैं वरना आप आउट होने के डर से खेलेंगे. आपको सुनियोजित जोखिम लेना ही होगा’.

न्यूजीलैंड की टीम बनी चैंपियन

भारतीय खिलाड़ियों ने जहां इस मैच की पहली पारी में शानदार प्रदर्शन किया वहीं दूसरी पारी में सभी पूरी तरह फ्लॉप रहे. बल्लेबाजी में भारत सिर्फ 170 रन पर सिमट गया. चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा जैसे बड़े-बड़े खिलाड़ी नहीं चल पाए. वहीं गेंदबाजी की बात करें तो अश्विन को छोड़कर एक भी गेंदबाज उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सका.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.