close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रोहित से मनमुटाव पर विराट बोले-अगर मुझे किसी से परेशानी होती तो वह चेहरे पर दिख जाती

भारत को इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हार का सामना करना पड़ा था. इसके बाद टीम में मनमुटाव की खबरों ने जोर पकड़ लिया था.

रोहित से मनमुटाव पर विराट बोले-अगर मुझे किसी से परेशानी होती तो वह चेहरे पर दिख जाती
विराट कोहली ने विंडीज दौरे पर रवाना होने से पहले इन तरह की खबरों को खारिज किया. ANI

मुंबई: भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने सोमवार को टीम में मनमुटाव की खबरों को सिरे से खारिज किया और कहा कि उनके और रोहित शर्मा के बीच में सब कुछ ठीक है. कोहली ने कहा कि रोहित के साथ रिश्ते ठीक नहीं होने की बातों को सुनकर वह हतप्रभ हैं. उन्होंने कहा कि टीम का माहौल भी अच्छा है.

भारत को इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हार का सामना करना पड़ा था. इसके बाद टीम में मनमुटाव की खबरों ने जोर पकड़ लिया था और कहा जाने लगा था कि टीम उप कप्तान रोहित शर्मा और कप्तान विराट कोहली के बीच दो धड़ों में बंट गई है.

विराट कोहली ने हालांकि विंडीज दौरे पर रवाना होने से पहले इन तरह की खबरों को खारिज किया और कहा कि टीम में कुछ भी गलत नहीं है. कोहली ने साथ ही कहा कि अगर उन्हें किसी से परेशानी या फिर किसी तरह की असुरक्षा होती है तो यह उनके चेहरे पर दिख जाता है.

कोहली ने कहा, "मेरे विचार में ईमानदारी से कहूं तो यह हैरान करने वाली बात है. इस तरह की खबरें पढ़ना बेहद निराशाजनक है. मैं कुछ समाजिक समारोह में गया था जहां लोगों ने मुझसे कहा कि आप लोग क्या (बेहतरीन) खेले." कोहली ने कहा, "हमें झूठ परोसा जा रहा है. हम सच को नजरअंदाज कर रहे हैं. हम सभी अच्छी चीजों की तरफ से आंख मूंद रहे हैं. हम अपने मन में चीजें बना रहे हैं और चाहते हैं कि वो सच हों."

भारतीय टीम के कप्तान ने कहा, "मैं इस तरह की चीजें काफी लंबे समय से देख रहा हूं. किसी की निजी जिंदगी को सामने लाना, यह असम्माजनक बात है. मेरे और रोहित के बीच में किसी तरह का मनमुटाव नहीं है."

टीम में मनमुटाव की खबरें तब आई थीं जब यह खबर लीक हुई थी कि टीम के एक सीनियर खिलाड़ी ने अपनी पत्नी को बीसीसीआई द्वारा निर्धारित तय सीमा से ज्यादा समय तक अपने साथ रखा और वो भी कप्तान और कोच की अनुमति के बिना. प्रशासकों की समिति (सीओए) के एक सदस्य ने टीम में मनमुटाव की खबरों के सवाल पर कहा था कि समिति तब तक इस मुद्दे में दखल नहीं देगी जब तक खिलाड़ी खुद उसके पास नहीं आते.

कोहली ने कहा, "मैंने हाल ही में मीडिया में काफी खबरें सुनी हैं, लेकिन मैं इतना ही कह सकता हूं कि टीम का माहौल ठीक है और तभी टीम अच्छा कर रही है. अगर टीम के अंदर चीजें सही नहीं होतीं तो हम वो सब हासिल नहीं कर पाते जो हमने किया है."

कोहली ने कहा, "मुझे अगर किसी से परेशानी होती है तो वो मेरे चेहरे पर दिख जाता है. मेरे और रोहित में सब कुछ ठीक है. मुझे नहीं पता कि इस तरह की खबरें कहां से आ रही हैं. इसमें किसका क्या फायदा है? मैं ड्रेसिंग रूम का माहौल आपको यहां से नहीं बता सकता. आप खुद आकर देख लीजिए की टीम के खिलाड़ी आपस में किस तरह से रहते हैं. किस तरह हम कुलदीप यादव और एमएस धोनी के साथ किस तरह एकसमान पेश आते हैं."

प्रशासकों की समिति (सीओए) ने टीम के कोचिंग स्टाफ को चुनने के लिए नई क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) का गठन किया है जिसमें कपिल देव, अंशुमन गायकवाड़ और शांता रंगास्वामी हैं.  कोहली ने कहा कि नई सीएसी ने अभी तक उनसे संपर्क नहीं किया है.

कप्तान ने कहा, "सीएसी ने अभी तक मुझसे कोई संपर्क नहीं किया है. रवि (शास्त्री) भाई के साथ हमने अच्छा काम किया है. सीएसी अगर मुझसे मेरी राय मांगेगी तो मैं दूंगा, लेकिन अभी तक मुझसे कुछ पूछा नहीं गया है." विंडीज दौरा तीन अगस्त से शुरू हो रहा है, जहां टीम तीन वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज के अलावा विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के अंतर्गत दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी.