close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अकरम की प्रतिबंधित गेंदबाज हफीज को सलाह, गेंदबाजी छोड़ बल्लेबाजी पर दें ध्यान

वसीम अकरम ने प्रतिबंधित गेंदबाज मोहम्मद हफीज को  सलाह दी है कि उन्हें गेंदबाजी छोड़कर बल्लेबाजी पर ध्यान देना चाहिए. 

अकरम की प्रतिबंधित गेंदबाज हफीज को सलाह, गेंदबाजी छोड़ बल्लेबाजी पर दें ध्यान
मोहम्मद हफीज की गेंदबाजी पर बैन लगने के बाद वसीम अकरम उन्हें बल्लेबाजी पर ध्यान देने को कह रहे हैं (फाइल फोटो)

कराची : हाल ही में पाकिस्तान के हरफनमौला स्पिनर मोहम्मद हफीज पर गेंदबाजी का प्रतिबंध लगा दिया गया. आईसीसी ने एक बार फिर उनके एक्शन को गलत पाया और गेंदबाजी पर प्रतिबंध लगा दिया. हालांकि वे घरेलू क्रिकेट में गेंदबाजी कर सकते हैं. इस प्रतिबंध से उनके करियर पर सवालिया निशान खड़े हो गए हैं. गौरतलब है कि हफीज स्पिन के अलावा बल्लेबाजी भी कर सकते हैं.  

 पाकिस्तान के तेज गेंदबाज वसीम अकरम ने मोहम्मद हफीज को सलाह दी है कि अपने क्रिकेट करियर को लंबा खींचने के लिए वह गेंदबाजी को छोड़कर बल्लेबाजी पर ध्यान दें.

यह भी पढ़ें : मोहम्मद हफीज की गेंदबाजी पर चौथी बार प्रतिबंध

अकरम ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘मुझे लगता है कि अब हफीज को गेंदबाजी छोड़ देनी चाहिए और सिर्फ बल्लेबाजी पर ध्यान लगाना चाहिए. अपनी बल्लेबाजी पर और कड़ी मेहनत करनी चाहिए.’’ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने पिछले महीने फिर से हफीज के गेंदबाजी एक्शन को अवैध पाया था और गुरुवार को उन्हें बायोमैकेनिक्स परीक्षण पास करने तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी से निलंबित कर दिया गया.
पाकिस्तान का यह आलराउंडर इंग्लैंड में गेंदबाजी आकलन परीक्षण में विफल रहा था जिसके बाद आईसीसी ने उन्हें गेंदबाजी से निलंबित करने का फैसला किया.

पहले ही फैसला लेना था हफीज को : अकरम 
अकरम ने कहा कि आईसीसी मैच अधिकारियों के हफीज की शिकायत करने और इस आलराउंडर के गेंदबाजी परीक्षण में विफल होने से पहले ही उन्हें अपनी गेंदबाजी को लेकर फैसला करना चाहिए था.
अकरम ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि हफीज ने यह महसूस नहीं किया कि वह काफी गेंदबाजी कर रहा है और जब वह काफी गेंदबाजी करता है तो थक जाता है जो स्वाभाविक है और मुझे लगता है कि तभी उसकी कोहनी 15 डिग्री से अधिक मुड़ती है जो आईसीसी की स्वीकृत सीमा है.’’ 

(इनपुट भाषा)