इस खिलाड़ी की रिकॉर्ड तोड़ बल्लेबाजी की आवाज कब सुनेंगे विराट कोहली
X

इस खिलाड़ी की रिकॉर्ड तोड़ बल्लेबाजी की आवाज कब सुनेंगे विराट कोहली

मयंक अग्रवाल ने विजय हजारे ट्रॉफी टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया. इसके बावजूद उनका निढास टूर्नामेंट में न चुना जाना किसी आश्चर्य से कम नहीं है. 

इस खिलाड़ी की रिकॉर्ड तोड़ बल्लेबाजी की आवाज कब सुनेंगे विराट कोहली

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट जगत में मयंक अग्रवाल सिर्फ जाना माना नाम ही है. घरेलू क्रिकेट में कर्नाटक की ओर से खेलने वाले 27 वर्षीय यह बल्लेबाज पिछले कई समय से लगातार शानदार प्रदर्शन किए जा रहा है. घरेलू क्रिकेट की कई सीरीज में जब भी सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों की चर्चा होती है तो पहले तीन से पांच खिलाड़ियों में मयंक अग्रवाल का नाम जरूर आता रहा है. हाल ही में मयंक अग्रवाल ने विजय हजारे ट्रॉफी टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया.

मयंक इस ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं. उन्होंने 705 रन बनाए हैं और इस रेस में  सचिन तेंदुलकर, दिनेश कार्तिक, रॉबिन उथप्पा और विराट कोहली जैसे खिलाड़ियों को पीछे छोड़ चुके हैं.  इस तरह मयंक देश के किसी भी इंटर स्टेट ए लिस्ट टूर्नामेंट में 700 रन बनाने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं. वे पहले ही इस मामले में सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ चुके हैं, जिन्होंने CWC2003 में 673 रन बनाए थे.

ऐसा चला मयंक अग्रवाल का बल्ला, सचिन-विराट सब छूटे पीछे

इस सीजन में मयंक ने रणजी ट्रॉफी में पांच शतक और 105.45 के औसत के साथ 1160 रन बनाए. सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जो की एक टी20 टूर्नामेंट है में 145 के स्ट्राइक रेट के साथ 258 रन बनाए हैं.  वहीं 50 ओवर वाली विजय हजारे ट्रॉफी में मयंक ने तीन शतक के साथ 700 रन बनाए. 

गौरतलब है कि दक्षिण अफ्रीका के कठिन दौरे में शानदार प्रदर्शन करने वाली टीम इंडिया के कई खिलाड़ीयों को आगामी ट्राई नेशन सीरीज में आराम दिया है. ऐसे में मयंक का चयन निश्चित माना जा रहा था लेकिन मंयक का नहीं चुना जाना क्रिकेट जगत में आश्चर्य के तौर लिया जा रहा है. 

ऐसा चला मयंक अग्रवाल का बल्ला, सचिन-विराट सब छूटे पीछे

कर्नाटक के पूर्व कोट जे अरुण कुमार पूछते हैं,  “बेचारे मयंक को आखिर चयन के लिए और क्या करना होगा. उसने इस सत्र के सभी फॉर्मेट्स में काफी ज्यादा रन बनाए हैं. यहां तक कि 2016 में भी साउथ अफ्रीका ए के खिलाफ भी उसने दो शतक लगाए हैं.  उसका चयन न होना अचंभित कर रहा है.”  लेकिन फिर भी अरुण कुमार को विश्वास है कि मयंक का चयन हो कर रहेगा. 

आईपीएल में पंजाब की ओर से खेलेंगे
आईपीएल के इस बार के संस्करण में मयंक अग्रवाल किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलेंगे. उन्हें इस बार पंजाब की टीम ने 1 करोड़ रुपए में खरीदा है. उनका बेस प्राइस 20 लाख रुपए रखा गया था. बेस प्राइस से कई गुना कीमत पर खरीदा जाना दर्शाता है कि मयंक कितने भरोसेमंद खिलाड़ी माने जाते हैं

बांग्लादेश ने पूर्व तेज गेंदबाज कोर्टनी वाल्श को कोच बनाया

मयंक के अब तक के करियर पर नजर डालें तो अब तक मयंक 37 फर्स्ट क्लास क्रिकेट मैच खेले हैं जिनमें 63 पारियों में 51.17 के औसत और 59.70 के स्ट्राइक रेट के साथ उन्होंने 2917 रन बनाए हैं. इसमें सर्वाधिक 304 के स्कोर के साथ 7 शतक और 16 अर्धशतक शामिल हैं.  वहीं लिस्ट ए के 53 मैचों की 53 पारियों में 98.78 के स्ट्राइक रेट और 47.39 की औसत के साथ उन्होंने कुल 2512 रन बनाए हैं जिसमें आठ शतक और ग्यारह अर्धशतक शामिल हैं.  वहीं 100 टी20 मैचों की 95 पारियों में 130.97 के शानदार स्ट्राइक रेट और 24.66 के औसत से 2220 रन बनाए हैं.

मयंक खुद मानते हैं कि वे टीम इंडिया में चुने जाने के लिए नहीं खेलते. उनका कहना है, “जब भी मैं मैदान में खेलने जाता हूं, खुले दिमाग से जाता हूं. यदि मेरी किस्मत में टीम इंडिया के लिए खेलना होगा तो मैं खेलूंगा.” मयंक को टीम इंडिया में चयन के लिए काफी कड़ी चुनौती मिल रही है, मुरली विजय, शिखर धवन, केएल राहुल, रोहित शर्मा अपने प्रदर्शन से विराट कोहली के लिए पहले ही चयन को मुश्किल बना चुके हैं.

कप्तान हरमनप्रीत ने की उस 17 साल की लड़की की तारीफ, जिसके फैन हैं सचिन तेंदुलकर

इनके अलावा, कई घरेलू क्रिकेटर्स भी मयंक को चुनौती दे रहे है. इसके अलावा हाल ही में अंडर 19 वर्ल्डकप विजेता बनी भारतीय टीम के खिलाड़ी भी उन्हें चुनौती देने के लिए तैयार हैं. लेकिन हाल के ही प्रदर्शन में वे सभी से बेहतर नजर आते हैं

आईपीएल में यह है रिकॉर्ड
आईपीएल में वे दिल्ली डेयरडेविल्स, राइजिंग पूणे जायंट्स, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरू की ओर से खेल चुके हैं. आईपीएल में 53 मेंचों की 48 पारियों में 123.94 के स्ट्राइक रेट और 17.78 के औसत से 818 रन बनाए हैं जिसमें केवल तीन अर्धशतक शामिल हैं. इस रिकॉर्ड के अलावा साल 2010 में वे अंडर19 वर्ल्डकप टीम के सदस्य थे जिसमें उन्होंने भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए थे.

Trending news