close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बैटिंग कोच ने ऋषभ पंत को चेताया- ‘केयरलेस’ और ‘फियरलेस’ शॉट में अंतर समझना जरूरी

India vs South Africa: विक्रम राठौर को संजय बांगड़ की जगह भारतीय क्रिकेट टीम का बैटिंग कोच बनाया गया है. 

बैटिंग कोच ने ऋषभ पंत को चेताया- ‘केयरलेस’ और ‘फियरलेस’ शॉट में अंतर समझना जरूरी
विक्रम राठौर ने जब अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था, तब ऋषभ पंत पैदा भी नहीं हुए थे. (फोटो: IANS/PTI)

नई दिल्ली: भारतीय टीम (Team India) में कोचिंग स्टाफ में आए बदलाव का असर इसके रुख में भी दिखने जा रहा है. टीम इंडिया के नए बैटिंग कोच विक्रम राठौर (Vikram Rathore) ने साफ कर दिया है कि ऋषभ पंत (Rishabh Pant) जैसे युवाओं को लापरवाह शॉट से बचना होगा. राठौर ने कहा कि उन्हें यह समझना होगा कि निडरता (Fearless) और लापरवाही (Careless) में बड़ा अंतर है. राठौर ने संजय बांगड़ की जगह बैटिंग कोच की जिम्मेदारी संभाली है. 

भारतीय टीम इन दिनों दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के खिलाफ टी20 सीरीज खेल रही है. सीरीज का दूसरा मैच बुधवार (18 सितंबर) को मोहाली में खेला जाना है. विक्रम राठौर (Vikram Rathour) ने इस मैच से एक दिन पहले मंगलवार को मीडिया से बात की. उन्होंने ऋषभ पंत, रोहित शर्मा, श्रेयस अय्यर के बारे में अपनी राय जाहिर की. 

यह भी पढ़ें: पाकिस्तानी क्रिकेटरों का खाना हुआ मुहाल; कोच ने बिरयानी, मिठाई... पर लगाया बैन

विक्रम राठौर ने कहा, ‘मैंने नई जिम्मेदारी संभालने के बाद पूरी टीम से बात की. मुझे टीम के माहौल में ढलने में कोई परेशानी नहीं हो रही है. हां, इसमें कुछ समय जरूर लगेगा.’ उन्होंने कहा कि टीम के हर खिलाड़ी को अपने मौके भुनाने होंगे. सभी ने काफी मैच खेले हैं. पूरी टीम एक दूसरे को सपोर्ट कर रही है. 

एमएस धोनी के उत्तराधिकारी माने जा रहे ऋषभ पंत पिछली कुछ सीरीज में गैरजिम्मेदाराना शॉट खेलकर आउट हुए हैं. बैटिंग कोच राठौर से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होने कहा, सभी युवा बल्लेबाजों को यह समझने की जरूरत है कि फियरलेस क्रिकेट और केयरलेस क्रिकेट के बीच बारीक अंतर है. टीम मैनेजमेंट उनसे फियरलेस क्रिकेट खेलने के लिए कह रहा है, लेकिन आप केयरलेस नहीं हो सकते हैं. मुझे उम्मीद है कि वे इतने स्मार्ट हैं कि इस बात को समझेंगे. 

विक्रम राठौर ने आगे कहा, ‘हम चाहते हैं कि वे (पंत) अपने सभी शॉट खुलकर खेलें. यही चीज उनको सबसे अलग लाकर खड़ा करती है. लेकिन वे केयरलेस नहीं हो सकते हैं.’ श्रेयस अय्यर और मनीष पांडे को मिडिल-ऑर्डर में वापसी का मौका मिला है, राठौर से पूछा गया कि क्या दोनों भारत के मिडिल ऑर्डर की समस्या को दूर कर पाएंगे? इस पर राठौर ने कहा, ‘मैं चाहता हूं कि दोनों इस मौके का फायदा उठाएं. दोनों ही काफी अच्छे क्रिकेटर हैं और घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन भी किया है.’