न्यूजीलैंड को जीतकर प्लेआफ में जगह बनाने उतरेगा भारत

भारतीय टीम शुक्रवार को यहां जब डेविस कप एशिया ओसियाना ग्रुप ए मुकाबले में न्यूजीलैंड का सामना करने के लिए उतरेगी तो उसके लिए प्रतिद्वंद्वी टीम से ज्यादा यहां की सर्द परिस्थितियां अधिक चुनौती पेश करेंगी। इस मुकाबले का विजेता विश्व ग्रुप प्लेआफ में जगह बनाएगा। 

क्राइस्टचर्च : भारतीय टीम शुक्रवार को यहां जब डेविस कप एशिया ओसियाना ग्रुप ए मुकाबले में न्यूजीलैंड का सामना करने के लिए उतरेगी तो उसके लिए प्रतिद्वंद्वी टीम से ज्यादा यहां की सर्द परिस्थितियां अधिक चुनौती पेश करेंगी। इस मुकाबले का विजेता विश्व ग्रुप प्लेआफ में जगह बनाएगा। 

भारत कीवी टीम के खिलाफ दूसरे दौर के इस मुकाबले में जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। यहां का तापमान पांच से सात डिग्री के आसपास है और भारतीय खिलाड़ी इस तरह के परिस्थितियों में खेलने के आदी नहीं हैं हालांकि मैच वाइल्डिंग पार्क टेनिस सेंटर के इंडोर कोर्ट पर खेले जाएंगे। कागजों पर भारतीय टीम न्यूजीलैंड से काफी मजबूत नजर आती है। 

भारत के एकल खिलाड़ी सोमदेव देववर्मन (148) और युकी भांबरी (151) मेजबान खिलाड़ियों की तुलना में काफी अधिक रैंकिंग के हैं। विंबलडन के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले बोपन्ना की मौजूदगी से भी टीम को मजबूती मिलेगी। वह युगल की व्यक्तिगत रैंकिंग में दसवें स्थान पर हैं। उनके साथ साकेत मयनेनी जोड़ी बनायेंगे जिससे भारत की मजबूत टीम बनेगी। 

मुकाबले के लिये चुनी गयी न्यूजीलैंड की टीम में जोस स्टैथम उसके सबसे अधिक रैंकिंग के खिलाड़ी हैं। उनकी रैंकिंग 345 है। अमूमन युगल में खेलने वाले माइकल वीनस एकल में भूमिका निभाएंगे और उनकी रैंकिंग 548 है। वह हालांकि युगल में शीर्ष 50 में शामिल हैं। इसी तरह से आर्टम सिताक (43) और मार्कस डेनियल (66) भी एटीपी युगल तालिका में शीर्ष 100 में शामिल हैं। 

अमेरिका में चैलेंजर टूर्नामेंट जीतकर यहां पहुंचे सोमदेव ने हालांकि कहा है कि वे मेजबान टीम को हल्के से नहीं ले सकते हैं। सोमदेव ने कहा, ‘ये परिस्थितियां वास्तव में हमारे लिये कड़ी हैं। हम इस तरह की परिस्थितियों में खेलने के आदी नहीं हैं लेकिन ईमानदारी से कहूं तो हम उसके खिलाड़ियों से हल्के से नहीं ले रहे हें। हम जानते हैं कि इन खिलाड़ियों ने इस स्थिति में पहुंचने के लिये बहुत अच्छी टेनिस खेली है। उन्होंने इस साल के शुरू में चीन की मजबूत टीम को हराया था।’ 

उन्होंने कहा, ‘स्टैथम और वीनस दोनों ने एकल में जीत दर्ज की जो महत्वपूर्ण है। वे जानते हैं कि वे क्या कर रहे हैं। वे विशेषकर न्यूजीलैंड में खतरनाक है। मुझे और युकी को कल कड़ी चुनौती मिलने की उम्मीद है।’ सोमदेव अपने अभियान की शुरूआत वीनस के खिलाफ करेंगे जबकि युकी दूसरे एकल में स्टैथम से भिड़ेंगे। 23 वर्षीय युकी को भी लगता कि उन्हें कड़ी चुनौती मिलेगी।

युकी का पूर्व युगल जोड़ीदार वीनस पहले मैच में सोमदेव से भिड़ेंगे। युकी ने इस बारे में कहा, ‘मैं उसे अच्छी तरह से जानता हूं। जब वह फार्म में होता है तो वह खतरनाक खिलाड़ी है और सोमदेव के लिये यह मुकाबला आसान नहीं होगा।’ इस मुकाबले का विजेता विश्व ग्रुप प्लेआफ में जाएगा जो सितंबर में खेला जाना है।