close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World wrestling championship: फाइनल नहीं खेल सके दीपक, सिल्वर से करना पड़ा संतोष

दो बार के ओलंपिक मेडल विजेता सुशील कुमार ने 2010 में मास्को में आयोजित वर्ल्ड कुश्ती चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था.

World wrestling championship: फाइनल नहीं खेल सके दीपक, सिल्वर से करना पड़ा संतोष
पुनिया विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाले भारत के सबसे युवा खिलाड़ी भी हैं. (फाइल)

नूर-सुल्तान (कजाकिस्तान): टखने की चोट के कारण भारत के युवा पहलवान दीपक पुनिया (Deepak Punia) नूर-सुल्तान में जारी विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप (World wrestling championship) के फाइनल में नहीं खेल सके. दीपक को रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा है. पुनिया को 86 किलोग्राम भारवर्ग के फाइनल में रविवार को ईरान के हसन याजदानिचाराटी का सामना करना था, लेकिन चोट के कारण वह अब मुकाबले से हट गए हैं. उन्होंने अंतिम-4 के मुकाबले में स्विट्जरलैंड के स्टेफन सेइचमुथ को 8-2 से मात देकर फाइनल में जगह बनाई थी. शनिवार को पहले राउंड के मैच के दौरान पुनिया को टखने में चोट लगी जो फाइनल से पहले ठीक नहीं हो पाई और उन्होंने मुकाबले से हटने का निर्णय लिया.

पुनिया ने कहा, "मैं थोड़ा निराश हूं कि मैं स्वर्ण पदक के लिए मुकाबला नहीं कर पाया, लेकिन मैंने कुलमिलाकर यहां जो प्रदर्शन किया उससे बहुत खुश हूं. मैं कड़ी मेहनत करुं गा और मेरा लक्ष्य ओलम्पिक में पदक जीतना है."

पुनिया के पास भारत के लिए इतिहास रचने का मौका था, अगर वह फाइनल जीत जाते तो विश्व चैम्पियनशिप में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीतने वाले दूसरे खिलाड़ी बन जाते.

दो बार के ओलम्पिक पदक विजेता सुशील कुमार ने 2010 में मास्को में आयोजित विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था. पुनिया पहले ही ओलम्पिक कोटा हासिल कर चुके हैं.

पुनिया विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाले भारत के सबसे युवा खिलाड़ी भी हैं. उन्होंने हाल ही में जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया था.

(इनपुट-आईएएनएस)