Euro 2020: Denmark के मिडफील्डर Christian Eriksen मैदान में गिर पड़े, 90 मिनट तक रुक गया मैच

क्रिस्टियन एरिक्सन (Christian Eriksen) पहले हाफ के आखिरी वक्त में मैदान पर गिर गए और तुरंत मेडिकल टीम ने उन्हें घेर लिया. उनके साथी खिलाड़ियों ने इलाज के दौरान उनके इर्द गिर्द घेरा बना दिया था.

Euro 2020: Denmark के मिडफील्डर Christian Eriksen मैदान में गिर पड़े, 90 मिनट तक रुक गया मैच
(फोटो-PTI)

कोपेनहेगन:  यूईएफए यूरो 2020 (UEFA Euro 2020) मैच के दौरान एक ऐसी घटना घटी जिसने हर फुटबॉल फैंस को सदमें में ला दिया. मुकाबले के बीच में डेनमार्क (Denmark) के मिडफील्डर क्रिस्टियन एरिक्सन (Christian Eriksen) मैदान पर गिर पड़े. इसके बाद जिसके बाद खेल को स्थगित कर दिया गया. 

क्रिस्टियन एरिक्सन को स्ट्रेचर पर ले जाना पड़ा

डेनमार्क और फिनलैंड (Denmark vs Finland) के बीच यूरो 2020 (Euro 2020) के इस मुकाबले के दौरान क्रिस्टियन एरिक्सन (Christian Eriksen) की छाती पर दबाव (Chest Compressions) डालना पड़ा. करीब 10 मिनट के इलाज के बाद उन्हें स्ट्रेचर पर ले जाया गया.

 

टीम के खिलाड़ियों ने दिया क्रिस्टियन एरिक्सन का साथ

क्रिस्टियन एरिक्सन (Christian Eriksen) पहले हाफ के आखिरी वक्त में मैदान पर गिर गए और तुरंत मेडिकल टीम ने उन्हें घेर लिया. उनके साथी खिलाड़ियों ने इलाज के दौरान उनके इर्द गिर्द घेरा बना दिया था. इस मैच के लिए कोरोना वायरस महामारी के काल में पहली बार 15000 दर्शकों को एंट्री की इजाजत दी गई है.

 

90 मिनट रुक गया मैच

क्रिस्टियन एरिक्सन (Christian Eriksen) अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा जिसके कारण लगभग 90 मिनट तक खेल रुका रहा. डेनमार्क फुटबॉल एसोसिएशन (Danish Football Association) ने कहा कि एरिक्शन होश में हैं और उनकी स्थिति स्थिर है.

डेनमार्क के कोच ने क्या कहा?

डेनमार्क के कोच कास्पर जलमैंड ने कहा, 'आप इस तरह की स्थिति में मैच नहीं खेल सकते हैं. हमने जो प्रयास किया वह अविश्वसनीय है. यह अविश्वसनीय है कि खिलाड़ी दूसरे हॉफ में खेलने के लिये उतरे और उन्होंने दबदबा बनाया.' जब यह मैच दोबारा शुरू हुआ तो पोजनपालो ने 60वें मिनट में फिनलैंड को बढ़त दिला दी। उन्होंने जेरे उरोनेन के क्रास पर हेडर से यह गोल किया. डेनमार्क के गोलकीपर कास्पर शमाइकल ने गेंद पर हाथ लगाया लेकिन वह उसे रोक नहीं पाए.

फिनलैंड ने मारी बाजी

डेनमार्क ने पूरे मैच में दबदबा बनाए रखा लेकिन फिनलैंड को गोल करने का केवल एक मौका मिला और वह इसे भुनाने में सफल रहा. डेनमार्क ने छह शॉट गोल पर लगाये लेकिन उसे हर बार नाकामी मिली. डेनमार्क को सबसे अच्छा मौका तब मिला जब उसे 74वें मिनट में पेनल्टी मिली लेकिन रेडेकी ने अपने बायीं तरफ डाइव लगाकर पियरे एमिल हॉबजर्ग के शॉट को रोक दिया.

जीत से ज्यादा चर्चा एरिक्शन की बेहोशी की

फिनलैंड किसी बड़े टूर्नामेंट में डेब्यू कर रहा था लेकिन उसके देश की फुटबॉल इतिहास में सबसे बड़ी जीत से अधिक चर्चा एरिक्शन के अचानक बेहोश होने की रही फिनलैंड के फारवर्ड टीम पुकी ने कहा, 'यह निश्चिति तौर पर मेरे करियर के सबसे मुश्किल मैचों में से एक था.

'जीत पर गर्व'

उन्होंने कहा, 'हमने फैसला किया कि डेनमार्क की टीम जो करेगी हम भी वहीं करेंगे. मैदान पर वापस लौटकर मैच खेलना आसान नहीं था लेकिन जब हमने सुना कि सब कुछ ठीक है तो हमने मैच पर ध्यान देना शुरू कर दिया. आखिर में हमें जीत मिली जिस पर हमें गर्व है.' 

एरिक्सन की हालत स्थिर

एरि​क्सन को मैदान पर ही 10 मिनट तक चिकित्सा उपलब्ध कराई गई और फिर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। दोनों टीमों ने बाद में आपात बैठक बुलाई और जब पता चल गया कि एरिक्सन की स्थिति स्थिर है तो उन्होंने मैच जारी रखने का फैसला किया.

 

 

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.