हॉकी विश्व कप 2018: भारतीय टीम के प्रदर्शन से खुश हैं सरदार सिंह, आगे के लिए दी यह सलाह

भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान सरदार सिंह का मानना है कि विश्व कप में टीम की शुरुआत अच्छी है. 

हॉकी विश्व कप 2018: भारतीय टीम के प्रदर्शन से खुश हैं सरदार सिंह, आगे के लिए दी यह सलाह
सरदार सिंह का कहना है कि भारतीय हॉकी टीम ने विश्व कप में अभी तक बढ़िया प्रदर्शन किया है. (फाइल फोटो)

मुंबई:  भारतीय टीम की मौजूदा पुरूष हाकी विश्व कप में अच्छी शुरुआत से प्रभावित पूर्व कप्तान सरदार सिंह ने गुरूवार को कहा कि टीम को जीत की लय बरकरार रखने और इकाई के तौर पर खेलने की जरूरत है. सरदार ने कहा, ‘‘शुरुआत अच्छी है. टूर्नामेंट में बेल्जियम, नीदरलैंड, जर्मनी, अर्जेंटीना और ऑस्ट्रेलिया कुछ बेहतरीन टीमें हैं. हमने शुरुआत अच्छी की है और अब यही लय बरकरार रखने और इसी ऊर्जा के साथ खेलने की जरूरत है.’’ 

सरदार यहां एक प्रचार कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से बात कर रहे थे. भारत ने विश्व कप के ग्रुप सी के अपने पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को 5-0 से करारी शिकस्त दी और फिर बेल्जियम की मजबूत टीम से 2-2 से ड्रा खेला. बेल्जियम के लिए एलेक्जेंडर हेंड्रिक्स ने आठवें और सायमन गौगनार्ड ने 56वें मिनट में गोल दागे. भारतीय टीम के लिए हरमनप्रीत ने 40वें और सिमरनजीत सिंह ने 47वें मिनट में अहम गोल दागे. इस ड्रॉ के साथ ही भारत ग्रुप सी में चार अंकों के साथ पहले नंबर पर बना हुआ है.

बेल्जियम से ड्रॉ वाला मैच रहा खास
बेल्जियम के साथ ड्रॉ खेलने के बाद पीआर श्रीजेश की अगुवाई वाली टीम क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के करीब पहुंच गई है. उसे शनिवार को ग्रुप की चौथी टीम कनाडा से मैच खेलना है. रविवार को ही ग्रुप सी में कनाडा और दक्षिण अफ्रीका ने 1-1 से ड्रॉ खेला. ये दोनों टीमें तीसरे और चौथे नंबर पर हैं. अभी तक भारत की ही पूल सी में क्वार्टर फाइनल जाने वाली टीम की फैसला अभी नहीं हुआ है क्योंकि अभी चारों ही टीमों के पास ग्रुप में शीर्ष पर पहुंचने का मौका है हालाकि इसमें काफी अगर-मगर का गणित लगा हुआ है. 

Ind vs bel

टूर्नामेंट से पूर्व संन्यास लेने वाले सरदार चाहते हैं कि भारतीय टीम इकाई के तौर पर खेले और दो या तीन खिलाड़ियों पर निर्भर नहीं रहे. उन्होंने कहा, ‘‘विश्व कप और ओलंपिक जैसे टूर्नामेंट चार साल में एक बार होते हैं, इसलिए हम लंबे समय से इसकी तैयारी कर रहे थे. वे इस तरह के मैचों का महत्व जानते हैं और समझते हैं कि प्रत्येक सेकेंड कितना महत्व रखता है.’’ 

IND vs SA

सरदार ने कहा, ‘‘हमारा मुख्य मैच क्वार्टर फाइनल होगा और उस दिन हमें श्रीजेश या मनप्रीत सिंह पर निर्भर नहीं रहना होगा, हमें एक इकाई के तौर पर खेलने की जरूरत होगी.’’ इस बार भारतीय हॉकी टीम ने टूर्नामेंट के अपने पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को 5-0 से करारी शिकस्त दी थी. भारतीय टीम ने 2010 के वर्ल्ड कप के बाद अपना पहला मैच जीता है. उसने 2010 में अपने पहले मैच में पाकिस्तान को 4-1 से हराया था. जबकि, 2014 में उसे अपने पहले मुकाबले में बेल्जियम से शिकस्त झेलनी पड़ी थी. भारतीय टीम पिछले वर्ल्ड कप में नौवें स्थान पर रही थी. भारत ने एकमात्र वर्ल्ड कप 1975 में जीता है.