close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारत को मिली हॉकी विश्व कप की मेजबानी, चौथी बार मिला यह मौका

Hockey World Cup 2023: इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशन ने अगले विश्व कप की मेजबानी का फैसला शुक्रवार को लिया.

भारत को मिली हॉकी विश्व कप की मेजबानी, चौथी बार मिला यह मौका

लुसाने (स्विट्जरलैंड): भारतीय हॉकी प्रेमियों के लिए खुशखबरी है. भारत (India) को एक बार फिर हॉकी वर्ल्ड कप की मेजबानी मिल गई है. यह वर्ल्ड कप 2023 में होगा. इंटरनेशनल हॉकी फेडरेनशन (International Hockey Federation) ने शुक्रवार को यह घोषणा की. स्पेन और नीदरलैंड को महिला हॉकी विश्व कप 2022 की संयुक्त मेजबानी सौंपी गई है.

यह चौथा मौका है जब भारत को हॉकी वर्ल्ड कप की मेजबानी मिली है. वह इससे पहले 1982, 2010 और 2018 में भी विश्व कप का आयोजन कर चुका है. हालांकि, विश्व कप में भारत का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा है. आठ बार ओलंपिक गोल्ड जीतने वाला भारत हॉकी विश्व कप सिर्फ एक बार 1975 में जीत सका है. 

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान की एक और करारी शिकस्त, इस बार ऑस्ट्रेलिया ने 10 विकेट से पीटा

इंटरनेशनल हॉकी फेडरेनशन (एफआईएच) के एक्जीक्यूटिव बोर्ड ने शुक्रवार को फैसला लिया कि 2023 में पुरुष हॉकी विश्व कप की मेजबानी भारत करेगा. स्पेन और नीदरलैंड महिला हॉकी विश्व कप की मेजबानी करेंगे. यह विश्व कप 2022 में खेला जाएगा. 

एफआईएच (FIH) ने यह भी साफ कर दिया है कि अभी सिर्फ मेजबान देशों का निर्णय हुआ है. इसका फैसला मेजबान देशों को करना है कि विश्व कप के मैच किन शहरों में खेले जाएंगे. पुरुष हॉकी विश्व कप 2023 में 13 से 29 जनवरी तक खेला जाएगा. महिला हॉकी विश्व कप इससे एक साल पहले एक से 17 जुलाई तक होगा. 

यह भी पढ़ें: T20 Cricket: इंग्लैंड की न्यूजीलैंड पर सबसे बड़ी जीत; मलान का शतक, मोर्गन ने ठोके 91 रन

दोनों ही विश्व कप में 16-16 टीमें हिस्सा लेंगी. मेजबान और पांचों कॉन्टीनेंटल चैंपियनशिप के चैंपियन विश्व कप के लिए खुद-ब-खुद क्वालिफाई करेंगे. बाकी 10 टीमें क्वालिफाइंग टूर्नामेंट के जरिए टूर्नामेंट में जगह बनाएंगी. 

भारत की महिला और पुरुष हॉकी टीमों ने हाल ही में ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया है. ओलंपिक गेम्स अगले साल जापान में होने हैं. अब विश्व कप की मेजबानी की खबर ने भारतीय हॉकी प्रेमियों को दोहरा जश्न मनाने का मौका दे दिया है.