close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

HWL फाइनल्स: भारत को हराकर अर्जेटीना फाइनल में

भारत ने हालांकि इस मैच में ओलम्पिक चैम्पियन अर्जेंटीना को अच्छी टक्कर दी और कई मौके बनाए, लेकिन मेजबान टीम मौकों को भुना नहीं सकी और फाइनल में जाने से वंचित रह गई.

HWL फाइनल्स: भारत को हराकर अर्जेटीना फाइनल में
HWL Finals: मैच के दौरान एक्शन में भारत और अर्जेंटीना के खिलाड़ी. (Hockey India/Twitter/8 Dec, 2017)

भुवनेश्वर: गोंजालो पेइलाट द्वारा 17वें मिनट में किए गए गोल के दम पर अर्जेंटीना ने शुक्रवार (8 दिसंबर) को कलिंगा स्टेडियम में खेले गए हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल्स (एचडब्ल्यूएल) के सेमीफाइनल मुकाबले में मेजबान भारत को 1-0 से हरा दिया. भारत ने हालांकि इस मैच में ओलम्पिक चैम्पियन अर्जेंटीना को अच्छी टक्कर दी और कई मौके बनाए, लेकिन मेजबान टीम मौकों को भुना नहीं सकी और फाइनल में जाने से वंचित रह गई. दोनों टीमों के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली. दोनों टीमों ने सधी हुई शुरुआत की और एक दूसरे को रोके रखा. अर्जेंटीना और भारत दोनों ही पहले क्वार्टर में ज्यादा अच्छे मौके नहीं बना पाईं, लेकिन दूसरे क्वार्टर में अर्जेंटीना की मेहनत रंग लाई और उसने 1-0 की बढ़त ले ली.

17वें मिनट में अर्जेंटीना को पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसे गोंजालो ने गोल में बदलने में कोई गलती नहीं की. इससे आगे बढ़ते हुए भारत ने गोल करने की कोशिशें जारी रखीं. 24वें मिनट में उसे मौका भी मिला, लेकिन अर्जेंटीना की रक्षापंक्ति ने उसे गोल करने नहीं दिया. मेहमान टीम इस क्वार्टर में लगातार भारत पर हावी रही. दूसरे क्वार्टर के आखिरी मिनट में आकाशदीप ने गोल करने प्रयास किया, हालांकि वह अहम समय गेंद को डी अंदर नहीं डाल पाए और भारत के पास से गोल करने का एक और मौका निकल गया.

तीसरे क्वार्टर की शुरुआत में भी भारत, अर्जेंटीना से पीछे ही रहा. 33वें मिनट में उसके पास गोल करने का मौक आया जिसे आकाशदीप भुना नहीं पाए. 35वें मिनट में भारत को पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसे रूपिंदर गोलपोस्ट के ऊपर खेल बैठे. भारत को तुरंत एक और पेनाल्टी कॉर्नर मिला. इस बार भी मेजबान बराबरी का गोल दागने से चूक गई. यहां से भारत ने अपने खेल में सुधार किया और मौक बनाने की कोशिश करती रही, लेकिन फिनिशिंग सही न रह पाने के कारण वह गोल नहीं कर सकी और तीसरे क्वार्टर का अंत भी अर्जेंटीना ने 1-0 के स्कोर के साथ किया.

आखिरी क्वार्टर में आते ही गुरजंत ने गोल करने का प्रयास और अर्जेटीन के घेरे में पहुंचे. यहां वह असफल हुए और अर्जेंटीना के ऊपर से खतरा टल गया. अगले ही मिनट में भारत ने एक मौक बनाया जो असफल रहा. कई मौके बनाने के बाद भारत इस क्वार्टर में बराबरी का गोल नहीं कर पाई. आखिरी पांच मिनट में भारत ने मैच को बराबरी तक लाने के लिए अपने गोलकीपर आकाश चिकते को बाहर बुला लिया और चिगलेसाना के रूप में एक और मिडफील्डर मैदान पर उतार दिया, हालांकि कोच शुअर्ड मरेन का यह दाव भी असफल रहा और भारत मैच हार गई.