फ्रेंचाइजी टीम की कोचिंग की जरूरतों और मांगों को लेकर अनभिज्ञ था: गैरी कर्स्टन

दिल्ली डेयरडेविल्स के मुख्य कोच गैरी कर्स्टन ने कहा कि पिछले सत्र में आईपीएल जैसे टी20 लीग में एक फ्रेंचाइजी टीम की कोचिंग की जरूरतों और मांगों को लेकर वह अनभिज्ञ थे। तब डेयरडेविल्स की टीम सबसे निचली पायदान पर रही थी। कर्स्टन से पूछा गया कि क्या उन्हें आईपीएल की मांगों के बारे में पता नहीं था तो उन्होंने सकारात्मक जवाब दिया।

फ्रेंचाइजी टीम की कोचिंग की जरूरतों और मांगों को लेकर अनभिज्ञ था: गैरी कर्स्टन

नई दिल्ली : दिल्ली डेयरडेविल्स के मुख्य कोच गैरी कर्स्टन ने कहा कि पिछले सत्र में आईपीएल जैसे टी20 लीग में एक फ्रेंचाइजी टीम की कोचिंग की जरूरतों और मांगों को लेकर वह अनभिज्ञ थे। तब डेयरडेविल्स की टीम सबसे निचली पायदान पर रही थी। कर्स्टन से पूछा गया कि क्या उन्हें आईपीएल की मांगों के बारे में पता नहीं था तो उन्होंने सकारात्मक जवाब दिया।

कर्स्टन ने एयरफोर्स ग्राउंड पालम में मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि हां, हो सकता है। यह अच्छा विश्लेषण है। मुझे लगता है कि बिना संदेह के ऐसा था। मैंने पिछले साल से काफी कुछ सीखा है कि आईपीएल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से भिन्न है। किसी भी कोच को इसे समझने में वक्त लगता है। पिछले साल डेयरडेविल्स को किन परेशानियों का सामना करना पड़ा, कर्स्टन ने कहा कि उनके पास उचित बैकअप नहीं था। उन्होंने कहा कि शारीरिक रूप से यह काफी थकाउ टूर्नामेंट है। पिछले साल हमारे पास बैकअप के लिये अच्छे खिलाड़ी नहीं थे लेकिन इस बार हमने अच्छी टीम का चयन किया है। कर्स्टन से पूछा गया कि इस साल नहीं खेलने वाले जहीर खान को क्यों लिया गया, उन्होंने कहा कि इसका जवाब अनुभव है। वह अन्य युवा खिलाड़ियों के साथ काम करेगा। मैं चाहता हूं कि वह टीम के साथ मेंटर की भूमिका में भी काम करे। वह निश्चित तौर पर खेलना भी चाह रहा है।

उन्होंने कहा कि वह समझता है कि उसे खुद को साबित करना है। उसे बहुत ज्यादा अनुभव है और उसके पास टी20 की गेंदबाजी के लिये अच्छे आइडिया हैं। मुझे उम्मीद है कि वह पहले मैच के लिये फिट रहेगा। करोड़ों रुपये में खरीदे गये युवराज सिंह के बारे में कर्स्टन ने कहा कि मेरा भारतीय टीम में युवराज के साथ काम करने का शानदार अनुभव रहा है। वह पहले की तरह फिट है। मैं उसे वास्तव में इस टीम में चाहता था क्योंकि वह इस क्षेत्र का रहने वाला है। कर्स्टन ने उम्मीद जताई कि मोहम्मद शमी विश्व कप की अपनी फार्म को आईपीएल में भी बरकरार रखेंगे। उन्होंने कहा कि मैं विश्व कप में शमी की गेंदबाजी देखने के बाद इसलिए उत्साहित हूं कि वह हमारी टीम में है। वह विकेट ले रहा है। गेंद को आगे पिच करा रहा है। स्विंग कराता है और यह महत्वपूर्ण है। जेपी डुमिनी को कप्तान नियुक्त करने के बारे में उन्होंने कहा कि जेपी बहुत अच्छा इंसान है। वह दक्षिण अफ्रीकी टी20 टीम की कप्तानी कर चुका है। वह फ्रेंचाइजी और कई भारतीय खिलाड़ियों को जानता है। यह नैसर्गिक पसंद था। उसके पास नेतृत्व के सभी गुण हैं।