close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जिम्बाब्वे: ICC ने लगाई कप्तान सहित कोच पर रोक, विश्व विकास दल में हिस्सा नहीं ले पांएगे

आईसीसी ने जिम्बाब्वे महिला टीम के कोच सहित चार खिलाड़ियों को विश्व विकास दल में जाने से रोक दिया है.

जिम्बाब्वे: ICC ने लगाई कप्तान सहित कोच पर रोक, विश्व विकास दल में हिस्सा नहीं ले पांएगे
जिम्बाब्वे क्रिकेट में सरकारी दखलंदाजी के कारण उसे आईसीसी ने निलंबित कर दिया है. (फाइल फोटो)

लंदन: इंटरनेशनल क्रिकेट कॉउन्सिल (आईसीसी) ने सोमवार को जिम्बाब्वे महिला टीम के कोच सहित चार खिलाड़ियों को महिला विश्व विकास दल में जाने से रोक दिया है. जिम्बाब्वे महिला टीम की कप्तान मर्री ऐनी मुसुण्डा के साथ खिलाड़ी आनेसु मुषंगवे, तस्मीन ग्रेंजर, शरणे मायर्स और कोच एडम चीफों पर इंग्लैंड में टी20 की सीरीज खेलने पर रोक लगा दी है. इन खिलाड़ियों पर इंग्लैंड की यात्रा पर रोक लगी है. जिसके चलते यह कुछ खिलाड़ी सीरीज में हिस्सा नहीं ले पाएंगी.

मैनेजर कॉल्विन ने दी जानकारी
जिम्बाब्वे महिला टीम की मैनेजर होल्ली कॉल्विन ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है, पर महिला टीम के कप्तान सहित कोच और 3 खिलाड़ी अगले हफ्ते यूके दौरे पर नहीं जा पाएंगे. कॉल्विन ने साथ ही लिखा, 'जैसा कि मुझे यकीन है कि आप सभी जानते होंगे, आईसीसी बोर्ड ने जिम्बाब्वे क्रिकेट को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है और ज़िम्बाब्वे की राष्ट्रीय टीम के कार्यक्रमों में भाग लेने पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है.'   

गुरुवार को आईसीसी ने किया जिम्बाब्वे क्रिकेट निलंबित
आईसीसी ने गुरुवार को जिम्बाब्वे क्रिकेट को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया ताकि वे यह सुनिश्चित कर सकें कि उसके प्रशासन में कोई सरकारी दखल नहीं है। जिसके चलते, जिम्बाब्वे क्रिकेट ने सितंबर में टी20 त्रिकोणीय सीरीज खेलने के लिए अपने बांग्लादेश दौरे को रद्द कर दिया है.

 

  

जिम्बाब्वे क्रिकेटरर्स हुए भावुक
आईसीसी के जिम्बाब्वे देश में क्रिकेट को निलंबित करने के बाद, टीम के कुछ खिलाड़ियों ने अपनी नाराजगी जाहिर कि जिसके बाद उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से रिटायरमेंट की घोषणा कर दी. टॉप आर्डर बल्लेबाज सिकंदर रज़ा और सोलोमन मीरे ने संन्यास का ऐलान कर क्रिकेट को अलविदा कह दिया. सिकंदर रज़ा ने अपने ट्वीटर पर एक पोस्ट किया जिसमें उन्होंने भावुक होते हुए लिखा कि कैसे एक निर्णय टीम के खिलाड़ियों को अलग कर देता है. इस फैसलें से सभी के परिवारों को होगा और कैसे एक निर्णय ने उन सब के क्रिकेट करियर को समाप्त कर दिया है.