विश्व कप 2015: पाक कप्तान मिसबाह ने कहा, भारत से भिड़ने से परहेज नहीं

पाकिस्तान के अनुभवी कप्तान मिसबाह उल हक ने कहा कि यदि आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में उनकी टीम क्वार्टर फाइनल से आगे बढ़ने में सफल रहती है तो उसे सेमीफाइनल में भारत से भिड़ने से परहेज नहीं है।

विश्व कप 2015: पाक कप्तान मिसबाह ने कहा, भारत से भिड़ने से परहेज नहीं

कराची : पाकिस्तान के अनुभवी कप्तान मिसबाह उल हक ने कहा कि यदि आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में उनकी टीम क्वार्टर फाइनल से आगे बढ़ने में सफल रहती है तो उसे सेमीफाइनल में भारत से भिड़ने से परहेज नहीं है।

 

मिसबाह ने एडिलेड से कहा कि यदि भारत और पाकिस्तान दोनों सेमीफाइनल में जगह बना लेते हैं तो यह उनकी टीम के लिये अपने चिर प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ विश्व कप का मिथक तोड़ने का एक और मौका होगा। पाकिस्तान आज तक विश्व कप में कभी भारत को नहीं हरा पाया है।

मिसबाह ने कहा, यह हमारे लिये एक और मौका होगा और हम इस सोच के साथ उस मैच में उतरेंगे। हम इसे मिथक तोड़ने के एक और मौके के रूप में लेंगे क्योंकि हम विश्व कप में आज तक भारत से नहीं जीत पाये हैं।  भारत ने इस टूर्नामेंट के एडिलेड में खेले गये शुरुआती मैच में पाकिस्तान को हराया था। यह उसकी विश्व कप में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पर लगातार छठी जीत थी।

मिसबाह ने कहा, हमें सकारात्मक सोच और अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के आत्मविश्वास के साथ उस मैच में उतरना होगा। पाकिस्तानी कप्तान ने कहा कि उनकी टीम शुक्रवार को होने वाले क्वार्टर फाइनल में आस्ट्रेलिया को हराने के प्रति आश्वस्त है। उन्होंने कहा, मोहम्मद इरफान टीम से बाहर हो गये हैं जो कि हमारे लिये बहुत बड़ा झटका है लेकिन फिर भी हम यह मैच जीत सकते हैं। यदि हम टूर्नामेंट की सबसे मजबूत टीम दक्षिण अफ्रीका को हरा सकते हैं तो फिर आस्ट्रेलिया को भी हरा सकते हैं। भारतीय टीम के बारे में मिसबाह ने कहा कि वह उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन कर रही है।

उन्होंने कहा, वे मौजूदा चैंपियन हैं और वे जानते हैं कि यह उनके लिये सबसे बड़ा प्रेरणातत्व है। इसके अलावा वे पिछले तीन महीने से आस्ट्रेलिया में खेल रहे हैं और विश्व कप की तैयारियों में जुटे थे। इससे उन्हें काफी मदद मिली है। मिसबाह ने कहा, निश्चित रूप से जब आप मौजूदा चैंपियन होते हो तो आप आत्मविश्वास से भरे होते हो और उनकी टीम काफी अनुभवी है। वे पिछले दो साल से इसी टीम के साथ खेल रहे है और उनका कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी काफी अनुभवी है।

उन्होंने कहा, उन्होंने अब तक विश्व कप में उम्मीद से भी बेहतर प्रदर्शन किया है। मिसबाह ने कहा कि लगातार चार जीत दर्ज करने से उनकी टीम ने आत्मविश्वास हासिल कर लिया है। उन्होंने कहा, यह टीम अपने लोगों के लिये जीतना चाहती है। मैं भी ऐसा चाहता हूं क्योंकि यह मेरा आखिरी टूर्नामेंट है। हमने इससे पहले आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में ही विश्व कप जीता था और इस बार भी लोगों ने हमसे काफी उम्मीदें लगायी हैं। हम उनके लिये फिर से इसे जीतना चाहते हैं।