close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PM मोदी से मिलेंगे IOC प्रमुख, भारत ओलंपिक के लिए कर सकता है दावेदारी

सूत्रों के मुताबिक वर्ष 2024 में होने वाले ओलंपिक खेल भारत में आयोजित हो सकते हैं। इस महीने के आखिर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष थॉमस बाकी से इसी संबंध में मुलाकात करेंगे। माना जा रहा है कि वह इस मुलाकात के दौरान इस सिलसिले में बातचीत कर सकते हैं। वर्ष 2020 ओलंपिक की मेजबानी टोक्यो करेगा। सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार भारत के ओलंपिक खेलों की मेजबानी की संभावनाओं पर विचार कर रही है।

PM मोदी से मिलेंगे IOC प्रमुख, भारत ओलंपिक के लिए कर सकता है दावेदारी

नई दिल्ली : केंद्र सरकार और राष्ट्रीय ओलंपिक इकाई ने देश में खेल के विकास और ओलंपिक 2024 की संभावित दावेदारी पर चर्चा के लिए अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के प्रमुख थामस बाक को इस महीने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठक के लिए आमंत्रित किया है।

वर्ष 2013 में आईओसी अध्यक्ष का पद संभालने वाले बाक को यहां प्रधानमंत्री मोदी के साथ बैठक के लिए आमंत्रित किया गया है। वैकल्पिक तौर पर बैठक के लिए 27 अप्रैल की तारीख तय की गई है। आईओसी अध्यक्ष बनने के बाद बाक की यह पहली भारत यात्रा होगी।

जर्मनी के तलवारबाजी के पूर्व ओलंपियन बाक को स्विट्जरलैंड के लुसाने में आईओसी मुख्यालय में खेल सचिव अजित शरण और भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष एन रामचंद्रन ने निमंत्रण सौंपा। बाक के आज आईओए के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक करने की भी उम्मीद है। आईओए सूत्रों ने कहा कि सरकार बाक को यह बताना चाहता है कि वह 2024 ओलंपिक खेलों की दावेदारी को लेकर इच्छुक है लेकिन फिलहाल औपचारिक तौर पर कोई जानकारी नहीं देना चाहता। इस संबंध में कोई सरकारी अधिकारी औपचारिक जानकारी देने को तैयार नहीं है।

सूत्रों ने हालांकि कहा कि बाक देश में ओलंपिक खेलों के विकास को लेकर काफी उत्सुक हैं और आगामी वर्ष में ओलंपिक अभियान में देश बड़ी भूमिका निभा सकता है। रामचंद्रन ने पुष्टि की कि प्रधानमंत्री मोदी इस महीने बाक से मिलेंगे लेकिन उन्होंने 2024 ओलंपिक खेलों के लिए भारत की संभावित दावेदारी पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

रामचंद्रन ने कहा, ‘आईओए और भारत सरकार ने आईओसी प्रमुख डा. थामस बाक को भारत में खेलों के विकास पर चर्चा के लिए माननीय प्रधानमंत्री के साथ इस महीने के आखिरी हफ्ते में बैठक के लिए आमंत्रित किया है।’ बाक को दिए गए निमंत्रण में अस्थाई तौर पर बैठक की तारीख का जिक्र है लेकिन रामचंद्रन ने कहा कि तारीख पर फैसला आईओसी और प्रधानमंत्री कार्यालय को करना है।

रामचंद्रन ने कहा, ‘यह अस्थाई तारीख है। लेकिन हमारे प्रधानमंत्री और आईओसी प्रमुख विशिष्ट लोग हैं इसलिए उनके कार्यालय वास्तविक तारीख पर फैसला करेंगे।’ भारत अगर 2024 ओलंपिक के लिए दावेदारी करना चाहता है तो उसके पास सितंबर 2015 तक का समय है और मेजबानी में ‘एक्सप्रेशन आफ इंटरेस्ट’ की प्रक्रिया जनवरी में शुरू हो चुकी है। इटली का रोम, जर्मनी का हैम्बर्ग और अमेरिका का बोस्टन 2024 खेलों की मेजबानी की इच्छा आईओसी को जता चुका है। आगामी महीनों में कीनिया का नैरोबी, मोरक्को का कासाब्लांका, कतर का दोहा, फ्रांस की राजधानी पेरिस और रूस का सेंट पीटर्सबर्ग भी दौड़ में शामिल हो सकता है।