ओलंपिक के लिए संयुक्त बोलियों को मिल सकती है मंजूरी

ओलंपिक खेलों की मेजबानी एक शहर को सौंपने की परंपरा से हटते हुए आईओसी व्यापक बोलियों के लिए रास्ता साफ करेगी जिसमें पूरे देश, एक से अधिक शहर की संयुक्त बोली और एक से अधिक देश में आयोजन कराना शामिल है।

लुसाने : ओलंपिक खेलों की मेजबानी एक शहर को सौंपने की परंपरा से हटते हुए आईओसी व्यापक बोलियों के लिए रास्ता साफ करेगी जिसमें पूरे देश, एक से अधिक शहर की संयुक्त बोली और एक से अधिक देश में आयोजन कराना शामिल है।

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक परिषद के अध्यक्ष थामस बाश के सुधार के एजेंडे के तहत जारी किये गए 40 सुझावों में यह भी शामिल हैं। यह बोली की प्रक्रिया और खेलों को अधिक आकर्षण और लागत में कटौती के मकसद से की गई पहल है।

बाश ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘हम दावेदारी में विविधता लाना चाहते हैं।’ प्रस्ताव के तहत आईओसी पूरे खेल और विधाओं का आयोजन मेजबान शहर के बाहर या विशिष्ट मामलों में दूसरे देश में कराने की अनुमति देगी। ग्रीष्मकालीन खेलों में यह पहली बार होगा जबकि शीतकालीन खेलों में सीमा के करीबी देशों में यह होता आया है। बाश के प्रस्तावों में ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में 28 खेलों की सीमा में बढोतरी भी शामिल हे जबकि खिलाड़ियों की सीमा 10500 और पदक संख्या 310 ही रहेगी।

प्रस्तावों के तहत मेजबान शहर अपनी पसंद के एक या अधिक खेलों को शामिल करने का प्रस्ताव रख सकता है यानी इससे 2020 तोक्यो ओलंपिक में बेसबाल और साफ्टबाल को शामिल किया जा सकता है। दोनों को 2008 बीजिंग ओलंपिक के बाद हटा दिया गया था लेकिन जापान में वे काफी लोकप्रिय हैं।