सामने मुश्किल देख इन धुरंधरों की यादकर गेंदबाजी करते हैं नागरकोटी

भारत की अंडर 19 टीम के तेज गेंदबाज कमलेश नागरकोटी मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार के नक्शेकदम पर चलना चाहते हैं 

सामने मुश्किल देख इन धुरंधरों की यादकर गेंदबाजी करते हैं नागरकोटी
कमलेश नागरकोटी 149 की स्पीड से गेंद फेंककर अपने कई सीनियर गेंदबाजों से भी आगे निकल गए. (फाइल फोटो)

मुंबई : भारत की अंडर 19 टीम के तेज गेंदबाज कमलेश नागरकोटी मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार के नक्शेकदम पर चलना चाहते हैं और मुश्किल हालात में इन दोनों की तरह खेलने का प्रयास करते हैं. न्यूजीलैंड में विश्व कप जीतने के बाद यहां लौटने पर नागरकोटी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘जब भी मेरे सामने मुश्किल स्थिति होती है मैं भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी को अपने दिमाग में रखता हूं.’’  उन्होंने कहा, ‘‘मैं यह सोचने का प्रयास करता हूं कि वे कैसी गेंदबाजी करते हैं और इसे दोराहने की कोशिश करता हूं.

मैं अब तक उनसे नहीं मिला हूं, उम्मीद करता हूं कि आगामी दिनों में मुझे उनसे बात करने का मौका मिलेगा.’’ विश्व कप में भारत की खिताबी जीत के दौरान 16.33 की औसत से नौ विकेट चटकाने वाले नागरकोटी ने कहा कि वह विजय हजारे ट्राफी और फिर इंडियन प्रीमियर लीग में अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं.

युवराज सिंह ने दी ट्रेनिंग और पंजाबी मुंडा बन गया अंडर 19 वर्ल्डकप का हीरो

नागरकोटी के तेज गेंदबाजी जोड़दार शिवम मावी भारत ए टीम में जगह बनाने के लिए आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं आईपीएल को लेकर उत्सुक हूं. यह काफी संभावनाएं खोलेगा. यह प्रतिभा दिखाने और भारत ए तथा अन्य सीनियर घरेलू टूर्नामेंटों के लिए दावा पेश करने का अच्छा मंच है.’’ शिवम ने विश्व कप में नौ विकेट चटकाए.

Bhuvaneshwar Kumar and Mohammad Shami

गौरतलब है कि टीम इंडिया की कमजोर कड़ी हमेशा से गेंदबाजी ही रही है और खासकर जब बात तेज गेंजबाजी की हो तो भारत कहीं दिखाई नहीं पड़ता था. लेकिन अब हालात बदलते हुए दिखाई दे रहे हैं. युवा पीढ़ी अब तेज गेंदबाजी में दुनिया के सामने अपना लोहा मनवा रही है. कमलेश ने अंडर 19 वर्ल्डकप में अपनी रफ्तार से दुनिया में तलहका मचा दिया .ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए पहले ही मैच में कमलेश ने 149 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंक कर क्रिकेट के बड़े-बड़े दिग्गज भी हैरान कर दिया.भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने तो बीसीसीआई और विराट कोहली को कमलेश कर पर नजर रखने के लिए भी कह दिया.

अंडर 19 वर्ल्डकप में पाकिस्तान की कमर तोड़ने वाले ईशान इस टूर्नामेंट से रहेंगे दूर

उनके इस प्रदर्शन का असर आईपीएल की नीलामी में भी दिखाई दिया. कमलेश इस आईपीएल में अंडर-19 खिलाड़ियों में सबसे महंगे बिके. यही कारण रहा कि उन्हें खरीदने के लिए कोलकाता नाइटराइडर्स ने 3 करोड़ 20 लाख रुपए खर्च करने पड़े.राजस्थान के बाड़मेर के कमलेश नागरकोटी ने अंडर-14, अंडर-16 और अंडर-19 में राजस्थान का प्रतिनिधित्व किया है. कमलेश ने राहुल द्रविड़ को खासा प्रभावित किया है. राहुल इतना प्रभावित थे कि उन्होंने उसे बांग्लादेश का दौरा करने वाली टीम में भी शामिल किया था.

आशीष नेहरा जैसा बनना चाहते हैं कमलेश
कमलेश आशीष नेहरा और मोहम्मद शमी को अपना आदर्श मानते हैं. अपने हर इंटरव्यू में कमलेश यही बताते हैं कि आशीष नेहरा ने जो स्पीड शुरुआती दौर में बनाई थी. वही स्पीड 36 साल में रिटायर हुए तब तक उनकी स्पीड वही बनी रही. कमलेश नेहरा की सिर्फ स्पीड ही नहीं, बल्कि उनकी फिटनेस से भी खासे प्रभावित हैं. मोहम्मद शमी की स्पीड के साथ उनकी लाइन और लैंथ को भी कमलेश काफी पसंद करता है. अगर भारत के बाहर के गेंदबाजों की बाद करें तो कमलेश पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम से काफी प्रभावित हैं.