close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारतीय क्रिकेटर ऋषभ पंत के पिता का रूड़की में निधन

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी ऋषभ पन्त के पिता राजेंद्र पन्त का बुधवार देर रात आकस्मिक निधन हो गया. पिता के निधन की खबर सुनते ही गुरुवार सुबह पंत रूड़की पहुंचे. जानकारी के अनुसार उनका अंतिम संस्कार हरिद्वार के कनखल में किया जाएगा.

भारतीय क्रिकेटर ऋषभ पंत के पिता का रूड़की में निधन
क्रिकेटर ऋषभ पंत के पिता का निधन का हुआ निधन (फाइल फोटो)

रुड़की: भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी ऋषभ पन्त के पिता राजेंद्र पन्त का बुधवार देर रात आकस्मिक निधन हो गया. पिता के निधन की खबर सुनते ही गुरुवार सुबह पंत रूड़की पहुंचे. जानकारी के अनुसार उनका अंतिम संस्कार हरिद्वार के कनखल में किया जाएगा.

ऋषभ पंत आईपीएल के सीजन 10 में दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम में हैं.  आठ अप्रैल को दिल्ली  डेयरडेविल्स का पहला मैच है.

रणजी के इस सीज़न में दिल्ली के बल्लेबाज ऋषभ पंत में शानदार खेल का प्रदर्शन किया था. पंत ने भारत के लिए टी-20 मैच भी खेल चुके हैं.  पिता के निधन के बाद अब पंत इस आईपीएल में कैसा प्रदर्शन करते हैं ये देखने लायक है.

और पढ़ें: ऋषभ पंत को मिला धोनी का उत्तराधिकारी बनने का मौका

 

बताया जा रहा है कि ऋषभ पंत के पिता राजेंद्र पंत रुड़की के अशोक नगर ढंडेरा में स्कूल चलाते थे. मूल रूप से पिथौरागढ़ के गंगोलीहाट के पाली गांव निवासी राजेंद्र पंत के पिता बीईजी में सिविलियन थे.

ऐसे में उन्होंने यहीं ढंडेरा में सन 1980 में मकान बना लिया था. यही पर वे अपना स्कूल चला रहे थे. बुधवार शाम को घर पर उनकी तबीयत खराब हुई. इसपर वह बेड पर लेट गए.

ये भी पढ़ें: फर्स्ट क्लास मैचों में सबसे तेज शतक ठोकने वाले भारतीय बने ऋषभ पंत

रात करीब नौ बजे उनकी पत्नी सरोज पंत ने उन्हें खाने के लिए उठाने का प्रयास किया. लेकिन वह नहीं उठे. इसपर सरोज पंत ने घर आई अपनी बहन मीतू, आनंद सिंह तोमर व उनके मकान में रह रहे प्रेम बल्लभ भट्ट को बुलाया. सभी ने उन्हें अस्पताल ले जाने लगे.

 ऋषभ पंत आईपीएल 10 के मुकाबलों में भाग ले रहे हैं

लोगों ने बताया कि राजेंद्र पंत को रेलवे रोड स्थित भार्गव नर्सिंग होम ले गए. लेकिन वहां पहुंचने से पहले ही उनका निधन हो गया. ऋषभ पंत फिलहाल आईपीएल के मुकाबलों में भाग ले रहे हैं. आठ अप्रैल को उनकी टीम दिल्ली का मुकाबला रायल चैलेंजर बैंगलौर से है.

कोच अवतार सिंह ने बताया कि पिता के असामायिक निधन से ऋषभ काफी आहत थे. लेकिन कोच अवतार सिंह ने उन्हें सचिन अन्य खिलाड़ियों के पिता के निधन के बावजूद देश के लिए खेलने की याद दिलाई.

साथ ही शानदार खेल दिखाकर पिता के सपने को पूरा करने के लिए प्रेरित किया. कोच अवतार सिंह ने बताया कि ऋषभ आठ अप्रैल को अपनी टीम के लिए खेलेंगे.