KKR vs RR: इन 5 कारणों से जीत की हैट्रिक लगाने से चूकी राजस्थान रॉयल्स

राजस्थान रॉयल्स की टीम आईपीएल 13 में विजय रथ पर सवार थी. लेकिन टूर्नामेंट के 12वें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स ने रॉयल्स को 37 रनों से धूल चटा दी.   

KKR vs RR: इन 5 कारणों से जीत की हैट्रिक लगाने से चूकी राजस्थान रॉयल्स
इन कारणों से केकेआर के खिलाफ हारी RR (फोटो क्रेडिट-BCCI/IPL)

दुबई: आईपीएल 2020 (IPL 2020) में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने राजस्थान रॉयल्स (RR) को 37 रनों से खदेड़ कर टूर्नामेंट में अपनी लगातार दूसरी जीत दर्ज की है. वहीं राजस्थान रॉयल्स को इस आईपीएल में सीजन में अपनी पहली हार का सामना करना पड़ा है. इस बीच हम आपको बताने जा रहे हैं, केकेआर के खिलाफ राजस्थान टीम के हार के 5 बड़े कारणों के बारे में, जिसकी वजह से रॉयल्स जीत की हैट्रिक लगाने से चूक गई. 

शुरुआत में नहीं मिले अधिक विकेट

राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के कप्तान स्टीव स्मिथ के टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी के फैसले के बाद टीम शुरुआत में कोलकाता नाइट राइडर्स को अधिक झटके नहीं दे सकी. जिसके आधार पर केकेआर के टीम ने पावरप्ले में 1 विकेट के नुकसान पर 42 रनों का स्कोर बना लिया. 

लक्ष्य का पीछा करते हुए लड़खड़ाई रॉयल्स 

केकेआर (Kolkata Knight Riders) की तरफ से मिले 175 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान रॉयल्स टीम की शुरुआत बेहद खराब रही थी. फॉर्म में चल रहे रॉयल्स के कप्तान स्टीव स्मिथ दूसरे ओवर में ही पैट कमिंस की गेंद पर 3 रन बनाकर आउट हो गए. 

यह भी पढ़ें: IPL 2020: KKR vs RR, केकेआर ने रॉयल्स को 37 रनों से हराया

पावरप्ले में लगी विकेटों की झड़ी 

राजस्थान रॉयल्स की हार की नींव उनकी पारी के पावरप्ले में ही रख गई थी. क्योंकि राजस्थान ने पहले 6 ओवर के दौरान बेहद निराशाजनक खेल दिखाया और 30 रनों पर 2 बहुमूल्य विकेट गंवा दिए. इसके तुरंत बाद ही जोस बटलर (Jos Buttler) भी चलते बने, जिसके कारण टीम का स्कोर 6.1 ओवर में 39-3 हो गया था. 

नहीं चला संजू सैमसन का बल्ला

आईपीएल 13 (IPL 13) में पिछले दो मैचों में 2 अर्धशतक ठोंकने वाले राजस्थान रॉयल्स के खतरनाक बल्लेबाज संजू सैमसन इस मुकाबले में अपनी अच्छी फॉर्म को जारी नहीं रख पाए. आलम यह रहा कि वह 8 रन बनाकर केकेआर के पेसर शिवम मावी का शिकार बने. 

बल्लेबाजों ने किया बेड़ा गर्क

इस मैच में राजस्थान रॉयल्स की हार का कारण बल्लेबाजी रही. राजस्थान के टॉम करन को छोड़कर टीम का कोई भी बल्लेबाज अपनी छाप नहीं छोड़ पाया, जिसकी वजह राजस्थान ने नियमित अंतराल पर अपने विकेट गंवाए और मुकाबले को हार बैठी.