विराट के इस चहेते खिलाड़ी ने कर दिया उनकी टीम को IPL प्लेऑफ से बाहर

मुंबई के खिलाफ विराट कोहली की टीम ने जीत के लिए तो पूरा जोर लगाया था, लेकिन फिर भी उनकी टीम हार कर प्लेऑफ से बाहर हो गई. 

विराट के इस चहेते खिलाड़ी ने कर दिया उनकी टीम को IPL प्लेऑफ से बाहर
विराट कोहली की टीम 7 हार के साथ आईपीएल प्लेऑफ से बाहर हो गई. (फोटो PTI)

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग का 31वां मैच विराट कोहली के लिए के लिए इम्तिहान का मैच था. टीम पहले ही छह मैच हार चुकी थी और पिछली जीत से उसने खुद को प्लेऑफ की दौड़ में बनाए रखा था. लेकिन इस बार चुनौती भी कम नहीं थी. विराट के पास मुंबई को उसी के घर में हराने की चुनौती थी. विराट टीम की पिछली जीत से उत्साहित भी थे. मैच भी रोमांचक चला लेकिन अंतिम ओवरों में एक खिलाड़ी ने विराट को खेल बिगाड़ दिया और जीत विराट के हाथों से छीन ली. 

एबी डिविलियर्स ने दिखाया अपना जलवा
इन दिनों टॉस की भूमिका अहम हो गई है और ऐसे में विराट को टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करना पड़ा. विराट  अपने मिजाज के मुताबिक हर चुनौती के लिए तैयार थे. वे पहले बल्लेबाजी करने आए भी लेकिन केवल 8 रन बनाकर पवेलियन वापस लौट गए. विराट की जगह एबी डिविलियर्स ने पार्थिव के साथ मोर्चा संभाला. मुंबई की गेंदबाजी कसी हुई थी फिर भी एबी जल्द ही अपने रंग में आगए. वहीं पार्थिव ने भी हाथ खोलने शुरु कर दिया. 

यह भी पढ़ेें : World Cup 2019: विजय शंकर ने बताया, इस खिलाड़ी से सीख रहा हूं दबाव झेलना

7वें ओवर में 49 रनों की स्कोर पार्थिव 28 रन बनाकर आउट हुए तो मोइन अली ने एबी का साथ दिया और बखूबी दिया. दोनों ने हाफ सेंचुरी लगा डाली और 95 रनों की कीमती साझेदारी की. 144 के स्कोर पर 18वें ओवर में मलिंगा ने मोइन अली को आउट किया. उसी ओवर में स्टोइनिस भी आउट हो गए. इसके बाद बेंगलुरू की पारी बिखर ही गई और विकेट गिरते रहे. एबी भी रन आखिरी ओवर में 75 रन बनाकर रन आउट हो गए और पूरी टीम 171 रन ही बना सकी.

शानदार शुरुआत बाद ट्रैक से उतरी मुंबई
मुंबई की शानदार शुरुआत रही. शर्मा और डिकॉक की 7 ओवरों में 70 रनों की साझेदारी ने मुंबई को मजबूत नींव दी. इसके बाद एक ही ओवर में डिकॉक और रोहित आउट हो गए. ईशान किशन ने छोटी लेकिन तेज पारी खेली पर इसके बाद रन बनाने की गति धीमी पड़ गई. 11वें ओवर में 3 विकेट पर 104 रन से मुंबई बहुत मजबूत स्थिति में थी. यहां से रनों की गति में लगाम लगा कर बेंगलुरू ने वापसी की और चहल अली और पवन नेगी ने बढ़िया गेंदबाजी कर वापसी की मुंबई 15 ओवर तक 127 रन तक ही पहुंच सकी. यहां 30 गेंदों में 45 रनों की जरूरत थी. 

हार्दिक ने किया मैच एकतरफा
16वें ओवर में हार्दिक पांड्या ने मोर्चा संभाला और रनों की गति बढ़ाई. पहले हार्दिक ने 18 ओवर तक टीम का स्कोर 150 रन कर दिया. अब 12 गेंदों पर मुंबई को जीत के लिए 22 रनों की जरूरत थी और अब हार्दिक के सामने पवन नेगी गेंदबाजी कर रहे थे. हार्दिक ने पहली गेंद डॉट बॉल खेली.

Hardik Pandya

इसके बाद 16वें ओवर में सूर्यकुमार यादव के आउट होने के बाद हार्दिक ने छक्का, चौका, चौका और छक्का लगा कर मैच पूरी तरह से मुंबई के पक्ष में कर दिया. अब मुंबई को जीत के लिए 2 रन चाहिए थे और 7 गेंदें बाकी थी. नेगी ने एक वाइड गेंद फेंकी और उसकी बाद अंतिम गेंद पर हार्दिक ने एक रन लेकर मुंबई को जीत दिलाकर बेंगलुरू की टीम को प्लेऑफ की दौड़ से बाहर कर दिया.