Breaking News
  • दूसरों की ताकत पर निर्भर नहीं रहना चाहिए: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

Corona का असर: IPL के लिए बेचैन हैं फ्रेंचाइजियां, यह कदम उठाने को हैं तैयार

आईपीएल फ्रेंचाइजियां विदेशी खिलाड़ियों के एकांतवास को तैयार हैं. 

Corona का असर: IPL के लिए बेचैन हैं फ्रेंचाइजियां, यह कदम उठाने को हैं तैयार
फिलहाल आईपीएल को 15 अप्रैल तक स्थगित किया गया है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की फ्रेंचाइजियां इस सीजन के शुरू होने का बेसब्री से इंतजार कर रही हैं. यह दुनिया की सबसे बड़ी लीग होने के साथ ही इसमें करोड़ों रुपये दाव पर लगे होते हैं. लेकिन कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार के चलते इस बार की सीजन 15 अप्रैल तक टाल दिया गया है.  ऐसे में टीमों की फ्रेंचाइजी भी चिंतित हैं. आईपीएल को शुरु करने के लिए फ्रेंचाइजी सरकार की यातायात संबंधी चेतावनी के कारण विदेशी खिलाड़ियों को 14 दिन के लिए एकांतवास में रखने को तैयार हैं.

फ्रेंचाइजी पहले खिलाड़ियों के वीजा मिलने का इंतजार कर रही हैं.  अभी तक सरकार ने कुछ विशेष देशों के लोगों की एंट्री पर 31 मार्च तक के लिए रोक लगाई हुई है. सरकार ने सोमवार को सूचना जारी की जिसके मुताबिक उसने यूएई, कतर, ओमान, कुवैत से आने वाले लोगों को कम से कम 14 दिन तक अनिवार्य रूप से एकांत में रहने की बात कही है. सूचना में साथ ही यूरोपियन यूनियन के सदस्य देशों, द यूरोपियन फ्री ट्रेड एसोसिएशन, तुर्की और ग्रेट ब्रिटेन के लोगों को भी भारत आने से रोकने की बात कही है.

यह भी पढ़ें: Coronavirus: 21 साल के कोच का कोविड-19 की वजह से निधन, टीम ने दिया भावुक संदेश

सरकार ने मंगलवार को अफगानिस्तान, फिलिपिंस, मलेशिया से आने वाले लोगों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है. यह अस्थायी उपाय हैं जो 31 मार्च तक लागू रहेंगे.

फ्रेंचाइजी के एक अधिकारी ने कहा कि टीमें अगर जरूरत पड़ी तो विदेशी खिलाड़ियों को 14 दिन का एकांतवास देने को तैयार हैं. अधिकारी ने कहा कि, नई सूचना कुछ देशों से आने वाले लोगों के लिए 14 दिन तक अलग रहने की बात कहती है और अगर 31 मार्च तक यह फैसला बना रहता है तो है यह मुद्दा नहीं है.

यह भी पढ़ें: Cricket: फिर रंगभेद के शिकार हुए जोफ्रा आर्चर, शिकायत करते हुए की यह मांग

अगर सरकार से इजाजत और खिलाड़ियों को वीजा मिल जाते हैं तो खिलाड़ियों को एकांतवास देना बड़ा मुद्दा नहीं है. ऐसे में टीम उन्हें अप्रैल के पहले सप्ताह में बुला कर 14 दिन तक एकांत में रखने को तैयार हैं. 

अधिकारी ने कहा, कि पहले, विदेशी खिलाड़ियों को वीजा दिए जाने की जरूरत है और इसलिए हमें 31 मार्च तक का इंतजार करना होगा और देखना होगा कि सरकार क्या फैसला लेती है.
(इनपुट आईएएनएस)