IPL 2020: जानिए प्रज्ञान ओझा ने धोनी के आलोचकों को क्यों लताड़ा?

आईपीएल के 13वें सीजन में महेंद्र सिंह धोनी और उनकी टीम अब तक उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई है, जिसकी वजह से माही को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है, हालांकि पंजाब के खिलाफ जीत के बाद सीएसके के थोड़ी राहत जरूर मिली है.

IPL 2020: जानिए प्रज्ञान ओझा ने धोनी के आलोचकों को क्यों लताड़ा?
प्रज्ञान ओझा और एमएस धोनी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लिए आईपीएल 2020 (IPL 2020) उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा है. ओपनिंग मैच में जीत हासिल करने के बाद एमएस धोनी (MS Dhoni) की सेना को लगातार 3 बार हार का सामना करना पड़ा, बीते रविवार को टीम ने पंजाब के खिलाफ 10 विकेट से शानदार जीत हासिल की. टूर्नामेंट में 'कैप्टन कूल' धोनी अपने दम पर टीम को जीत दिलाने में नाकाम रहे हैं. जिसकी वजह से उन्हें आचोलनाओं का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन अब प्रज्ञान ओझा (Pragyan Ojha) ने माही के आलोचकों को आड़े हाथों लिया है.

यह भी पढ़ें- IPL 2020 में जलवा बिखेर रही हैं ये Anchors, नजरें हटा नहीं पाएंगे आप

प्रज्ञान ओझा ने कहा, 'ये एक टीम गेम में, एक अकेला शख्स सब कुछ नहीं कर सकता, वो टीम की कप्तानी, लगातार रन बनाना अकेले नहीं कर सकते, सभी को योगदान देना ही पड़ेगा. हैदराबाद टीम के खिलाफ अगर टीम ने जल्दी विकेट नहीं गंवाए होते या फिर केदार जाधव ने वैसी बैटिंग की होती जैसा टीम उनसे उम्मीद करती थी, तो मुझे नहीं लगता कि धोनी राशिद खान के ओवर्स में इतना डिफेंसिव होकर खेलते, क्योंकि उस वक्त वो अपना विकेट गंवा नहीं सकते थे.'

ओझा ने ये भी कहा, अगर धोनी ने अपना विकेट गंवा दिया होता, तो आप जडेजा का अर्धशतक नहीं देख पाते, वो फिफ्टी बना सके क्योंकि दूसरे छोर पर धोनी थे. धोनी ने हर स्तर पर अपना बेस्ट दिया है.'  मौजूदा आईपीएल सीजन में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी और बल्लेबाजी दोनों पर सवाल खड़े हुए इसके अलावा उनकी फिटनेस को लेकर खूब मजाक उड़ाया गया है. हांलाकि पंजाब के खिलाफ जीत के बाद सीएसके प्वॉइंट टेबल में छठे स्थान पर आ गई है.