अश्विन ने कर डाली एक छोटी सी ऐसी गलती, और पंजाब को गंवाना पड़ा मैच

पंजाब की टीम आंद्रे रसेल का अंतर खत्म कर सकती थी, लेकिन अश्विन की एक लापरवाही से टीम को हार का सामना करना पड़ा. 

अश्विन ने कर डाली एक छोटी सी ऐसी गलती, और पंजाब को गंवाना पड़ा मैच
कोलकाता और पंजाब के बीच हुए मैच में केवल रसल की पारी का अंतर था. (फोटो: PTI)

नई दिल्ली: कोलकाता में हुए आईपीएल सीजन 12 के छठे मैच में बुधवार को एक हाई स्कोरिंग मुकाबला देखने को मिला. इस मैच में कोलकाता की टीम  ने मेहमान पंजाब की टीम को 28 रनों से हरा दिया जिसमें केवल एक खिलाड़ी के प्रदर्शन ने मैच के नतीजे में फर्क ला दिया. कोलकाता के आंद्रे रसेल (17 गेंदों पर 48 रन और दो विकेट) के ऑलराउंड प्रदर्शन के दम पर कोलकाता पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 218 रन का विशाल स्कोर बनाया जिसके जवाब में पंजाब की टीम निर्धारित 20 ओवर में चार विकेट पर 190 रन ही बना सकी. इस मैच में पंजाब के कप्तान आर अश्विन की एक लापरवाही ने कोलकाता को मैच में हावी होने का बड़ा मौका दे दिया. 

अच्छी शुरुआत रही कोलकाता की
कोलकाता की यह लगातार दूसरी जीत है जबकि पंजाब को दो मैचों में पहली हार का सामना करना पड़ा है. टॉस जीत कर अश्विन ने अपनी टीम के लिए पहले गेंदबाजी करना पसंद किया. कोलकाता की शुरुआत अच्छी रही, लेकिन जल्दी ही उसने 36 के स्कोर तक अपने दोनों ओपनर क्रिस लिन (10) और सुनील नरेन (24) का विकेट खो दिए. राणा और उथप्पा ने तीसरे विकेट के लिए 110 रन की शानदार साझेदारी कर टीम को 14.3 ओवर में 146 के स्कोर तक पहुंचाया. राणा ने टीम के इसी स्कोर पर आउट होने से पहले 34 गेंदों पर दो चौके और सात छक्कों की मदद से लगातार दूसरा अर्धशतक लगाया.

यह भी पढ़ें: VIDEO: Mankading से नाराज बटलर ने नहीं मिलाया हाथ, देखते रह गए अश्विन

तब तक बराबर का था मैच जब...
यहां तक मैच पर कोलकाता हावी होती नहीं दिख रही थी, लेकिन पारी के 16.5 ओवर में मोहम्मद शमी ने विस्फोटक बल्लेबाज रसेल को बोल्ड कर दिया. पंजाब की खुशी उस समय काफूर हो गई जब अंपायर ने  इस गेंद को नो बॉल कर दिया जबकि शमी की गेंद सही थी. नो बाल चार में से केवल तीन ही फील्डर के रिंग से बाहर रहने के वजह से दी गई जिसेस रसेल को लाइफ मिल गई. इस तरह इस मामले में गलती कप्तान आर अश्विन की थी जो फील्डिंग प्लेस करते समय इस बात का ध्यान नहीं रख सके कि रिंग के अंदर और बाहर कितने खिलाड़ी होने चाहिए. 

R Ashwin

रसेल और उथ्पपा ने उठा लिया मौका का फायदा
रसेल ने इस लाइफ का पूरा फायदा उठाया और 17 गेंदों पर तीन चौके और पांच छक्कों की मदद से 48 रन बना डाले. उथप्पा ने 50 गेंदों पर छह चौके और दो छक्के लगाए. कप्तान दिनेश कार्तिक एक रन बनाकर नाबाद लौटे. रसेल और उथप्पा ने चौथे विकेट के लिए 67 रन की साझेदारी कर कोलकाता को चार विकेट पर 218 रन तक पहुंचा दिया. कोलकाता ने अंतिम 24 गेदों में 65 रन जोड़े. पंजाब की ओर से शमी, चक्रवर्ती, हार्डस विल्जोएन और एंड्रयू टाई ने एक-एक विकेट लिया.

खराब शुरुआत ने भी बढ़ाया दबाव
कोलकाता से मिले 219 रनों को लक्ष्य का पीछा करने उतरी पंजाब ने 11 के स्कोर पर लोकेश राहुल (1) और 37 के स्कोर पर विस्फोटक बल्लेबाज तथा पिछले मैच के हीरो क्रिस गेल (20) का विकेट गंवा दिया. गेल ने 13 गेंदों पर दो चौके और इतने ही छक्के लगाए. गेल के आउट होते ही पंजाब की आधी उम्मीदें भी समाप्त हो गई. पंजाब ने 60 के स्कोर पर सरफराज खान (13) को भी तीसरे विकेट के रूप में खो दिया. 

यह भी पढ़ें: VIDEO: जीवा ने दिल्ली-चेन्नई मैच में पापा धोनी को यूं चियर कर जीता अपने फैंस का दिल

मिलर-मयंक नहीं दोहरा सके रसेल-उथ्पपा का प्रदर्शन
इसके बाद किलर मिलर के नाम से मशहूर डेविड मिलर (नाबाद 59) ने 15 रन के निजी स्कोर पर सीमा रेखा पर मिले जीवनदान का फायदा उठाकर कुछ अच्छे शॉट लगाए. मिलर और मयंक अग्रवाल (58) ने चौथे विकेट के लिए 74 रन की साझेदारी की. पीयूष चावला ने अपनी गूगली पर 15.2 ओवर में 134 के स्कोर पर मयंक को आउट किया. मयंक ने 34 गेंदों पर छह चौके और एक छक्का लगाया. मयंक के आउट होने के बाद जरूरी रन रेट बढ़ता गया और पंजाब पूरे 20 ओवर में चार विकेट पर 190 रन ही बना सकी. मिलर ने 40 गेंदों पर पांच चौके और तीन छक्के लगाए. मनदीप सिंह ने 15 गेंदों पर नाबाद 33 रन में चार चौके और एक छक्का लगाया. दोनों बल्लेबाजों ने पांचवें विकेट के लिए 56 रन की अविजित साझेदारी की. कोलकाता की ओर से रसेल के दो विकेटों के अलावा लॉकी फग्र्यूसन और चावला ने एक-एक विकेट लिया. 
(इनपुट एजेंसीज)