राहुल द्रविड़ ने बताया कि अंडर 19 वर्ल्डकप में किस बात पर हुए थे चिंतित

आईपीएल नीलामी के आसपास का हफ्ता ‘तनावपूर्ण’ था और भारतीय अंडर 19 कोच राहुल द्रविड़ ‘चिंतित’ थे

राहुल द्रविड़ ने बताया कि अंडर 19 वर्ल्डकप में किस बात पर हुए थे चिंतित
राहुल द्रविड़ ने आईपीएल नीलामी का समय अंडर 19 टीम इंडिया के लिए चुनौतीपूर्ण बताया (फाइल फोटो)

मुंबई : आईपीएल नीलामी के आसपास का हफ्ता ‘तनावपूर्ण’ था और भारतीय अंडर 19 कोच राहुल द्रविड़ ‘चिंतित’ थे क्योंकि विश्व कप में शानदार प्रदर्शन के बीच में उनके कुछ खिलाड़ी सांस रोककर लुभावने अनुबंधों का इंतजार कर रहे थे. हालांकि टीम के रिकार्ड चौथे अंडर 19 विश्व कप की राह में कोई अड़चन नहीं आई और खिलाड़ियों का ध्यान भंग नहीं हुआ. द्रविड़ ने आज कहा, ‘‘आईपीएल नीलामी के दौरान एक हफ्ता थोड़ा तनावपूर्ण था लेकिन लड़कों को श्रेय जाता है, इसके होने के बाद वे अभ्यास के लिए लौटे और जी जान लगा दी. केवल उन तीन दिनों के दौरान मैं थोड़ा चिंतित था.’’ 

अंडर 19 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का आज यहां गर्मजोशी से स्वागत किया गया. कप्तान पृथ्वी शा, शिवम मावी, कमलेश नागरकोटी, शुभमन गिल और अनुकूल राय को आईपीएल में अच्छे अनुबंध मिले. इससे पहले  राहुल द्रविड़ ने अपने खिलाड़ियों से इस सप्ताह होने वाली आईपीएल नीलामी की परवाह किये बिना पूरा ध्यान अंडर-19 विश्वकप पर लगाने के लिये कहा था.

युवराज सिंह ने दी ट्रेनिंग और पंजाबी मुंडा बन गया अंडर 19 वर्ल्डकप का हीरो

उस समय भारत का मुकाबला क्वार्टरफाइनल में बांग्लादेश के खिलाफ होना था. कप्तान पृथ्वी शॉ, शुभमान गिल, हिमांशु राणा, अभिषेक शर्मा, रियान पराग, कमलेश नागरकोटी, शिवम मावी, अर्शदीप सिंह और हार्विक देसाई बेंगलूरू में शनिवार और रविवार को होने वाली नीलामी का हिस्सा होने वाले थे. द्रविड़ ने कहा, ‘इस तथ्य से छिपा नहीं जा सकता कि नीलामी हो रही है. यह दिखावा करने की जरूरत नहीं है कि हमें इसके बारे में नहीं पता. हमने इस पर बात की. हमें फोकस दीर्घकालीन लक्ष्यों पर रखना है, अल्पकालिक नहीं.’

अंडर 19 वर्ल्डकप में पाकिस्तान की कमर तोड़ने वाले ईशान इस टूर्नामेंट से रहेंगे दूर

द्रविड़ ने यह भी कहा था, ‘आईपीएल नीलामी पर लड़कों का वश नहीं है. एक या दो नीलामी से उनके करियर पर कोई लंबा असर नहीं पड़ेगा. नीलामी तो हर साल होगी, लेकिन हर साल उन्हें भारत के लिये संभवत: विश्वकप सेमीफाइनल खेलने का मौका नहीं मिलेगा.’
(इनपुट भाषा)