VIDEO: रोहित शर्मा ने बताया मुंबई की जीत में धोनी के न रहने का था कितना बड़ा हाथ

आईपीएल में चेन्नई और मुंबई के बीच हुए मैच में चेन्नई के कप्तान एमएस धोनी की गैरमौजूदगी ने मुंबई की जीत में अहम भूमिका निभाई. ऐसा मुंबई की टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने मैच के बाद माना. 

VIDEO: रोहित शर्मा ने बताया मुंबई की जीत में धोनी के न रहने का था कितना बड़ा हाथ
(फोटो: IANS)

नई दिल्ली:  इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में जब चेन्नई और मुंबई के मुकाबले में एमएस धोनी के न होने से कितना बड़ा फर्क पड़ा, इस बात को मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने खुद स्वीकार किया. इस मैच में मुंबई की टीम ने चेन्नई को 46 रन को बड़े अंतर से हराने में कामयाबी हासिल की जिसमें मेहमान टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने शानदार 67 रनों की पारी खेली. मैच के बाद रोहित शर्मा ने माना कि धोनी की ने न होने से भी उनकी टीम को फायदा मिला. 

अपने घर में सीजन की पहली हार मिली चेन्नई को
इस मैच मे चेन्नई की हार से उसे अपने घरेलू मैदान पर पहली बार हार का स्वाद चखने को मिला है. इससे पहले उसने इस सीजन में इस मैदान पर हुए अब तक के सभी पांच मैच जीते थे. वहीं इस सीजन में चेन्नई की टीम धोनी के बिना दो बार उतरी और दोनों में ही उसे हार का मुंह देखना पड़ा. दिलचस्प बात यह है कि दोनों ही मैचों में चेन्नई की टीम के बल्लेबाज नहीं चले. इससे पहले धोनी के बिना चेन्नई को हैदराबाद के खिलाफ करारी हार का सामना करना पड़ा था. 

यह भी पढ़ें: IPL Memes: धोनी बोले रैना से, बेटा तुमसे ना हो पाएगा, ‘मुंबई बनी चेन्नई का बाप’

धोनी की तारीफ करने से नहीं चूके रोहित 
चेन्नई के कप्तान एमएस धोनी की गैरमौजूदगी पर रोहित ने कहा, ''जब भी कभी धोनी नहीं खेलते हैं तो फिर किसी भी विरोधी टीम को एक अलग ही प्रोत्साहन मिल जाता है. खासकर जब वो नहीं होते और उनकी टीम को लक्ष्य का पीछा करना हो तो फिर यहां उनके लिए मुश्किलें और बढ़ जाती हैं. उन्होंने भी इसे महसूस किया होगा हालांकि वो बीमार थे और इसपर किसी का ज़ोर नहीं चलता. लेकिन हमारी कोशिशें बढ़िया रहीं.''

टॉस हारना अच्छा ही रहा
जब रोहित से पूछा गया कि पहले बल्लेबाजी करना उतना खराब नहीं रहा. क्या बल्लेबाजी करना मुश्किल था? इस पर रोहित ने कहा, “उतना तो नहीं लेकिन हमारे लिए भी टॉस हारना अच्छा रहा. हम लक्ष्य का पीछा करना होता. क्योंकि हमें मालूम था कि चाहे पहले बल्लेबाजी करें या पहले गेंदबाजी हमें अच्छा क्रिकेट खेलना होगा. टॉस हमारे कंट्रोल में नहीं होता है. लेकिन टीम के सभी खिलाड़ियों ने बढ़िया प्रयास किया. क्योंकि चेन्नई में आकर खेलना कभी भी आसान नहीं होता. वे अपने घर में बढ़िया खेलना होता है. आपको हर विकेट और रन के लिए कड़ी मेहनत करनी होती है.''

यह भी पढ़ें:  VIDEO: रोहित शर्मा ने छक्के मार कर की ऐसी वापसी, बन गए चेन्नई के खिलाफ जीत के हीरो

राहुल चाहर की तारीफ की
राहुल चाहर के बारे में रोहित ने कहा, ''चाहर बहुत कॉन्फिडेंट युवा खिलाड़ी है. उमें काफी आत्मविश्वास है. जो उससे कहा जाता है वह कर देता है. उसने मेरा काम आसान कर दिया. साथ ही वो ये जानता है कि उसे क्या करना चाहिए और टीम उससे क्या चाहती है. उसके पास वेरिएशन और स्किल्स दोनों हैं. उसका अच्छा प्रदर्शन करना हमारे लिए ही नहीं इंडिया के लिए भी अच्छा है.''

इस आईपीएल सीजन के अपने पहली हाफ सेंचुरी पर रोहित ने कहा, यह काफी खुशी की बात है. मैं पिछले मैच में 30 या 40 को बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर पा रहा था. लेकिन ये चिंता की बात नहीं थी जब तक मैं गेंद बढ़िया मार रहा हूं कोई परेशानी नहीं है. यही मायने रखता है. मैं जानता था कि बड़ी पारी का दिन आएगा और आज का वह दिन था.”

 

यह भी पढ़ें: IPL 2019: मुंबई की बड़ी जीत ने दी इन टीमों को प्लेऑफ की लड़ाई की चाबी

इस मैच के साथ मुंबई की प्लेऑफ में पहुंचने की संभावनाएं प्रबल हो गई हैं. हालांकि अभी तक मुंबई के केवल 14 अंक ही हैं, लेकिन बाकी टीमों को स्थिति को देखते हुए मुंबई का नेट रनरेट काफी बेहतर हुआ है. इसके बावजूद रोहित शर्मा चाहेंगे की टीम और मैच जीतकर टॉप दो स्थान में पहुंच सके.